28-30 APRIL 2017 RAJ CURRENT AFFAIRS

1..राजस्थान नगरपालिका (पंचम संशोधन) विधेयक, 2017 ध्वनिमत से पारित
राज्य विधानसभा ने बुधवार को राजस्थान नगरपालिका (पंचम संशोधन) विधेयक, 2017 को ध्वनिमत से पारित कर दिया।स्वायत्त शासन मंत्री श्री श्रीचंद कृपलानी ने विधेयक को सदन में प्रस्तुत किया। राजस्थान नगरपालिका (पंचम संशोधन) विधेयक, 2017 पर हुई बहस का जवाब देते हुए स्वायत्त शासन मंत्री ने कहा कि विधानसभा चुनाव, 2008 के पश्चात् वर्ष 2009 व 2010 में स्थानीय निकायों के चुनाव हुए थे। स्थानीय निकायों के इन चुनावों में सत्ताधारी दल के विपक्षी दल से कई सभापति निर्वाचित हुए तब पूर्ववर्ती सरकार ने स्थानीय निकायों के सभापति पद की गरिमा व प्रतिष्ठा कम करने के लिये सभापति की शक्तियों को समाप्त करने के उद्देश्य से वर्ष 2011 में राजस्थान नगरपालिका अधिनियम 2009 की धारा 49 की उपधारा (9) व धारा 332 की उपधारा (3) को संशोधित कर सभापति के प्रशासनिक, पर्यवेक्षण व वित्तीय अधिकारों को समाप्त कर दिया गया।
उन्होंने कहा कि स्थानीय निकाय का सभापति एक निर्वाचित जनप्रतिनिधि है, वह व्यक्ति मात्र नहीं होकर एक वैधानिक संस्था है। अतः सभापति की शक्तियों को समाप्त करना एक वैधानिक संस्था की शक्तियों को समाप्त करना है जो पूर्णतः अप्रजातान्ति्रक कृत्य है।


02. मुख्यमंत्री ने यूथ चला बूथ कार्यक्रम के पोस्टर का विमोचन किया
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने  विधानसभा परिसर में भारतीय जनता युवा मोर्चा के ’यूथ चला बूथ’ कार्यक्रम के पोस्टर का विमोचन किया।श्रीमती राजे ने युवा मोर्चा के इस पोस्टर का विमोचन करते हुए कहा कि मोर्चा पदाधिकारी और कार्यकर्ता बूथ लेवल तक पार्टी का ढांचा मजबूत करने के लिए काम करें। वे राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को भी आमजन तक पहुंचाएं ताकि वे इनका लाभ ले सकें।इस अवसर पर भाजयुमो के प्रदेशाध्यक्ष श्री अशोक सैनी, उपाध्यक्ष श्री अनिल गोयल तथा पूर्व प्रदेश मंत्री श्री सुनिल यादव सहित अन्य पदाधिकारीगण मौजूद थे।

03. लहसुन मंडी छीपाबड़ौद में हुआ ‘ग्राम कोटा-2017’ का ऑन-ग्राउंड एक्टिवेशन कार्यक्रम
कोटा में आगामी 24 से 26 मई तक आयोजित होने वाले ग्लोबल राजस्थान एग्रीटेक मीट (ग्राम) के बारे में कृषकों को जागरूक कर उनकी सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से बुधवार को बारां जिले के लहसुन मंडी छीपाबड़ौद में ऑन ग्राउंड एक्टिवेशन कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस अवसर पर मुख्यमंत्री की विशेषाधिकारी आंचल गुप्ता व उनकी टीम ने कृषकों से संवाद कर ’ग्राम कोटा-2017’ में भाग लेने के लिए आमंत्रण पत्र देकर आमंत्रित किया।
ऑन ग्राउंड एक्टिवेशन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री की विशेषाधिकारी आंचल गुप्ता के नेतृत्व में लहसुन मंडी परिसर में राजस्थान के नक्शे के कटआउट और ’ग्राम’ के 2 डी मॉडल के समक्ष किसानोंं का फोटो सेशन कर हाथों-हाथ उनके फोटो युक्त आमंत्रण पत्र प्रदान किए। इस मौके पर किसानों ने पूरे उत्साह के साथ कतारबद्ध होकर अपना रजिस्टे्रशन करवाया और ग्राम कोटा-2017 के बारे में जानकारी ली। कृषकों ने ’ग्राम’ के 2डी मॉडल के समक्ष खड़े होकर फोटो सेशन करवाया और पूरे उत्साह व उमंग के साथ ’चलो कोटा’ के नारे का उद्घोष करते हुए कहा कि वे इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में जरूर शामिल होंगे।


04. सार्वजनिक पुस्तकालयों को आदर्श पुस्तकालयों के रूप में विकसित किया जाएगा
राज्य सरकार द्वारा राजकीय विद्यालयों में पुस्तकालयों के विकास के लिए 3.41 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।शिक्षा राज्य मंत्री श्री वासुदेव देवनानी ने बताया कि इस राशि से राज्य के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पुस्तकालयों में अच्छी पुस्तकों की उपलब्धता एवं पढ़ने की सुविधाओं का विकास किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पुस्तकालय विकास के अंतर्गत प्रदेश के 8 हजार 880 प्राथमिक विद्यालयों में प्रति विद्यालय 3 हजार रुपये राशि प्रदान की जाएगी। इसी प्रकार 751 उच्च प्राथमिक विद्यालयों में प्रति विद्यालय 10 हजार रुपये राशि का प्रावधान किया गया है।


05. जयपुर ज़नाना अस्पताल की छत पर उतरेगी एयर एम्बुलेंस
ज़नाना अस्पताल की छत पर जल्द ही एयर एम्बुलेंस उतरने लगेगी। ज़िले में इसकी जरूरत को देखते हुए 8 करोड़ 48 लाख रुपए की लागत से तीसरी मंजिल का निर्माण करवाया जा रहा है और इसी की छत पर एयर एम्बुलेंस उतरने की सुविधा दी जाएगी। यह एयर एंबुलेंस उतरने के बाद झालावाड़ ज़नाना अस्पताल राजस्थान का पहला अस्पताल होगा। जिसमें एयर एंबुलेंस की सुविधा मौजूद रहेगी।
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पिछले कार्यकाल में ज़नाना अस्पताल में द्वितीय तल की छत पर एयर एम्बुलेंस के लिए पट्टी बनाने की योजना बनी थी, लेकिन कुछ कारणों से वह अमली जामा नहीं पहन पाई थी। अब इसी को ध्यान में रखते हुए तीसरे तल का निर्माण करने और जल्द से जल्द एयर एम्बुलेंस के लिए पट्टी बनाने की तैयारी की जा रही है। चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार एवं मेडिकल कॉलेज, सार्वजनिक अस्पताल, जनाना अस्पताल में नवनिर्माण कामों को लेकर मंगलवार को कलेक्टर के चैम्बर में बैठक हुई। इसमें बताया गया कि जनाना अस्पताल में 8 करोड 48 लाख से तीसरे तल का निर्माण करवाया जाएगा। ये आईसीयू आधुनिकतम सुविधाओं से युक्त होंगे। इसके निर्माण के बाद जनाना अस्पताल की छत पर हैलीपैड बनाया जायेगा।


06. राजस्थान माल और सेवा कर विधेयक, 2017 संशोधित रूप में ध्वनिमत से पारित
राजस्थान विधानसभा ने बुधवार को राजस्थान माल और सेवा कर विधेयक, 2017 संशोधित रूप में ध्वनिमत से पारित कर दिया। उद्योग मंत्री श्री राजपाल सिंह शेखावत ने विधेयक को सदन में प्रस्तुत किया। विधेयक पर हुई बहस का जवाब देते हुए उद्योग मंत्री ने कहा कि यह ऎतिहासिक दिन है, जब राजस्थान इस विधेयक को पारित करने के साथ देश में करों की जटिलता को समाप्त कर विकास दर को बढ़ाने में अपना योगदान दे रहा है। श्री शेखावत ने कहा कि भारत में कर की अवधारणा प्राचीन समय से ही विद्यमान रही है। ऋग्वेद और अथर्ववेद में करों की प्रासंगिकता और सरलता उल्लेखित है और चाणक्य ने भी कहा है कि करों को जटिल नहीं होना चाहिए। राज्य माल और सेवा कर से सिद्धांततः सहमत होने के बावजूद इसे लागू करने के पक्ष में नहीं थे। उन्हें लगता था कि इससे उन्हें निर्माण क्षेत्र में राजस्व का नुकसान हो सकता है। इसी भावना को ध्यान में रखते हुए इसमें राज्यों के लिए क्षतिपूर्ति के प्रावधान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि यह विधेयक देश की अर्थव्यवस्था की प्रकृति को बदलने वाला साबित होगा। उन्होंने कहा कि सेवा क्षेत्र का योगदान देश के सकल घरेलू उत्पाद में 57 प्रतिशत है। राज्य के मामले में सेवा क्षेत्र का योगदान 48 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि सेवा क्षेत्र में एनुअल कंपाउंड ग्रोथ रेट भारत की 9.2 प्रतिशत है, जबकि राजस्थान के मामले में यह दर 17 प्रतिशत है।
उन्होंने कहा कि माल और सेवा कर से सभी कर एक हो जाएंगे और इससे करारोपण का तरीका भी बदलेगा। श्री शेखावत ने कहा कि तेरहवें वित्त आयोग ने माल और सेवा कर लाए जाने से देश के सकल घरेलू उत्पादन में 1.7 प्रतिशत की वृद्वि का अनुमान लगाया है। उन्होंने कहा कि कुछ अन्य अनुमानों के अनुसार यह वृद्धि 4 प्रतिशत से अधिक हो सकती है।
श्री शेखावत ने कहा कि राज्य में अभी तक 4 लाख 24 हजार से अधिक करदाता जीएसटी में माइग्रेशन करवा चुके हैं और इसके लिए राज्य स्तरीय और जिला स्तरीय समितियों की बैठक हो चुकी है। साथ ही ट्रेनर्स की ट्रेनिंग का कार्य भी हो चुका है।   


07. राजस्थान के चार सरपंच, दो प्रधान एवं एक जिला प्रमुख को राष्ट्रीय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार से नवाज़ा गया
राष्ट्रीय पंचायत दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आयोजित राष्ट्रीय पंचायत दिवस समारोह में राजस्थान के चार सरपंच, दो प्रधान एवं एक जिला प्रमुख को राष्ट्रीय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार से नवाजा गया।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ एवं केन्द्रीय मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पुरस्कार प्रदान किए। राष्ट्रीय समारोह में श्री गंगानगर जिले के जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका श्योराण, सीकर जिले की पंचायत समिति धौंध के प्रधान श्री ओम प्रकाश झींगर, झुंझुनू पंचायत समिति की प्रधान श्रीमती सुशीला देवी को पुरस्कार देकर सम्मानित किया।
इसी प्रकार सीकर पंचायत समिति की ग्राम पंचायत नेतरवास के सरपंच श्री राम देव सिंह, चिड़ावा पंचायत समिति की ग्राम पंचायत नारी के सरपंच श्री नरेंद्र कुमार, पंचायत समिति रायसिंहनगर की ग्राम पंचायत सावंतसर के सरपंच श्री गिरधारी लाल, पंचायत समिति खेतड़ी की ग्राम पंचायत रसूलपुर के सरपंच श्री छोटेलाल जांगिड़ को पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

08. कृषि सुधारों को लागू करने में राजस्थान देश का अग्रणी प्रदेश: कृषि मंत्री
राजस्थान के कृषि मंत्री श्री प्रभू लाल सैनी ने कहा है कि राजस्थान कृषि सुधारों और नवाचारों को लागू करने तथा कृषि विपणन के क्षेत्र में देश का अग्रणी प्रदेश है। उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में सुधार कार्यक्रमों को हम सबसे पहले लागू कर चुके है, जिसकी प्रशंसा स्वयं भारत सरकार और नीति आयोग ने की है।
श्री सैनी सोमवार को नई दिल्ली में केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री राधा मोहन सिंह की अध्यक्षता में आयोजित कृषि विपणन मॉडल एक्ट-2017 पर चर्चा के लिए आयोजित राज्यों के कृषि मंत्रियों की बैठक में बोल रहे थे। उन्होेंने बताया कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की पहल पर राजस्थान में उठाए गए क्रांतिकारी कदमों के कारण किसानों को बिचौलियों से मुक्ति दिलवाने के लिए प्रभावी पहल की गई है। राज्य सरकार ‘राजस्थान एकीकृत मंडी प्रबंधन सिस्टम’ के अंतर्गत एक देश-एक बाजार-एक किसान की अवधारणा को लागू करते हुए राज्य की 100 मंडियों को ‘ई-टे्रडिंग’ पद्धति से जोड़ने जा रहे हैं। इस प्रकार का सिस्टम देश में सर्वप्रथम राजस्थान ने ही लागू किया है।
उन्हाेंने बताया कि प्रधानमंत्री के ‘राष्ट्रीय कृषि बाजार’ कार्यक्रम के तहत प्रदेश की 25 मंडिया जुड़ चुकी है। राज्य में जहां उत्पादन, वहां विपणन नीति को लागू करते हुए 23 विशेष मार्केट बनाए गए हैं। राज्य में कृषि प्रसंस्करण एवं कृषि विपणन प्रोत्साहन नीति-2015 जारी की गई है। साथ ही प्रदेश में झालावाड़ में संतरा, टोंक में अमरूद और धौलपुर में आम के उत्कृष्टता केन्द्र स्थापित किए गए हैं।

एशिया में पहली बार जैतून (ओलिव) के पत्तों की ‘ग्रीन टी’
श्री सैनी ने बताया कि राजस्थान के लूणकरणसर (बीकानेर) में देश की पहली जैतून रिफाइनरी की स्थापना और देश का पहला स्वदेशी ऑलिव ऑयल ब्राण्ड ‘राज ऑलिव’ तैयार कर उसका विपणन किया जा रहा है। इसके बाद हम बहुत शीघ्र ही एशिया में पहली बार जैतून (ओलिव) के पत्तो से निर्मित ग्रीन-टी (चाय) को लेकर भी आ रहे हैं। इसके लिए जयपुर के निकट बस्सी में संयत्र बनाया जा रहा है। यह चाय एंटी डायबिटिज और एंटी ऑक्सीडेंट होगी।

09. राजस्थान अकादमी, दिल्ली द्वारा सुभाष लखोटिया श्रवण कुमार पुरस्कार – 2017 के लिए नाम आमंत्रित
नई दिल्ली में प्रवासी राजस्थानियों की संस्था राजस्थान अकादमी द्वारा इस वर्ष भी सुभाष लखोटिया श्रवण कुमार पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। यह पुरस्कार प्रति वर्ष माता-पिता के प्रति अतुल्य सेवा करने वाले पुत्र और पुत्री को दिया जाता है। पुरस्कार में एक लाख रुपये नगद और स्मृति चिन्ह शामिल है। संस्था के अध्यक्ष श्री गौरव गुप्ता ने बताया कि इस वर्ष इस सम्मान पुरस्कार के लिए प्रविष्ठियां आमंत्रित करने की घोषणा की है।
उन्होंने बताया कि पात्र व्यक्ति 30 जून, 2017 तक अपना पूर्ण बायोडाटा पुरस्कार पाने की योग्यता के विवरण के साथ अध्यक्ष, राजस्थान अकादमी, 254-जागृति एंकलेव, दिल्ली 92 पर भेज सकते हैं। श्री गुप्ता ने बताया कि देश के जाने माने सी.ए रहे सुभाष लखोटिया के नाम से श्रवण कुमार पुरस्कार वर्ष 2015 से प्रतिवर्ष दिया जा रहा है।​

10. वुमंस की सेफ्टी के लिए जयपुर में बना स्क्वॉड
यूपी की तर्ज पर राजस्थान में भी महिला एवं छात्राओं की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्क्वॉड तैयार हो चुका है। जयपुर पुलिस कमिश्नरेट ने प्रदेश के पहले महिला एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन किया है। इसके लिए महिला पुलिस कर्मियों का 8-8 घंटे की ड्यूटी टाइम रखा गया है।
राजस्थान में पहले महिला एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन
एंटी रोमियो स्क्वॉड हेतु यहां जयपुर पुलिस कमिश्नरेट ने 52 महिला पुलिसकर्मियों को इसके लिए राजस्थान पुलिस अकादमी में स्पेशल ट्रेनिंग दिलवाई है। अब सोमवार से इस स्क्वॉड की तैनातगी की जाएगी। इनकी तैनातगी शहर के महिला कॉलेज, बालिका स्कूल और अन्य भीड़ भाड़ वाले क्षेत्र, जहां महिलाओं की संख्या अधिक होती हैं, ऐसे स्थानों पर होगी।

11. राजस्थान के सरकारी स्कूलों में बच्चे पढ़ेंगे भगवान परशुराम का पाठ
भगवान परशुराम की जीवनी पर आधारित पुस्तकों को राजस्थान के सरकारी स्कूलों के पुस्तकालयों में रखा जाएगा। शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने शिक्षा मंत्री के विवेकाधीन कोष से भगवान परशुराम की जीवनी पर लिखित पुस्तकों को राजकीय विद्यालयों के पुस्तकालयों में रखने की घोषणा की है। देवनानी से विप्र फाउंडेशन के एक प्रतिनिधिमण्डल ने मुलाकात की थी। प्रतिनिधिमण्डल ने परशुराम की जीवनी को स्कूली पाठ्यक्रम में जोडऩे का भी अनुरोध किया था।
इस पर देवनानी ने आगामी सत्र में इसे स्कूली पाठ्यक्रम में जोडऩे का भी आश्वासन दिया। गौरतलब है कि देवनानी पर पिछले दिनों ब्राह्मण समाज के बारे में अपशब्द कहने के आरोप लगे थे और कई ब्राह्मण संगठनों ने इनके खिलाफ मोर्चा खोला था। 


12. अलवर बना नम्बर वन जिला, राज्य में सबसे अधिक युवाओं को दिया रोजगार
युवाओं को रोजगार देने में अलवर जिला प्रदेश में नम्बर जिला बन गया है। अलवर जिले की औद्योगिक इकाईयों ने 50 हजार से अधिक युवाओं को रोजगार दिया है। जिले में बहुराष्ट्रीय कम्पनियों की भी भरमार है। जिले में भिवाड़ी, नीमराणा सहित कई बड़े औद्योगिक क्षेत्र हैं। औद्योगिक शहरों के रूप में अभी तक जोधपुर, भीलवाड़ा, उदयपुर, कोटा व जयपुर को ही जाना जाता था। इन शहरों की अपनी अलग पहचान थी। लेकिन अलवर जिले ने इन सभी औद्योगिक शहरों को पीछे छोड़ दिया है। अलवर में छोटी बड़ी करीब 36 हजार औद्योगिक इकाई हैं।
केवल 162 औद्योगिक इकाईयों में 50 हजार 339 युवाओं को रोजगार मिला है। अकेले अलवर में बहुराष्ट्रीय कम्पनियों में 12 हजार 579 लोगों को रोजगार मिला हुआ है। जबकि प्रदेश में कई एेसे जिले  दौसा, करौली व प्रतापगढ़ में एक भी उद्योग नहीं है।
प्रदेश के हालात
प्रदेशभर में बड़े व मंझले उद्योगों की संख्या 715 है। इनमें कुल दो लाख 31 हजार 78 लोगों को रोजगार मिला है। जबकि प्रदेश में 63 बहुराष्ट्रीय कम्पनी संचालित हैं। इनमें 22 हजार 832 लोगों को रोजगार मिला है।
जिले के औद्योगिक क्षेत्र
जिले में भिवाड़ी, खुशखेड़ा, नीमराणा, अलवर एमआईए, शाहजहांपुर, राजगढ़, बहरोड़ सहित कई औद्योगिक क्षेत्र हैं। दिल्ली से सटे होने से भिवाड़ी, खुशखेड़ा व नीमराणा क्षेत्रों में नामी औद्योगिक इकाईयों की भरमार है।
13.  उदयपुर में सोमवार से रोज नई दर पर मिलेगा पेट्रोल-डीजल,
नगर निगम क्षेत्र में सोमवार से 28 पेट्रोल पम्प पर रोज तय होने वाली दर पर पेट्रोल-डीजल उपलब्ध होगा।  केन्द्र सरकार ने पायलट प्रोजेक्ट के तहत देश के पांच शहरों में यह योजना लागू की है जिसमें उदयपुर भी शामिल है। निगम क्षेत्र में तीनों तेल कंपनियों भारत पेट्रोलियम के 12, इंडियन ऑयल व  हिंदुस्तान पेट्रोलियम के 8-8 पंपों पर इसकी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। 


14. 198 करोड़ की योजना का जलदाय मंत्री सुरेन्द्र गोयल करेगें लोकार्पण
देवली. क्षेत्र की देवली-उनियारा पेयजल योजना का 7 मई को लोकार्पण होगा। इसमें मुख्य अतिथि जलदाय मंत्री सुरेन्द्र गोयल, विशिष्ट अतिथि सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, जिला प्रमुख सत्यनारायण चौधरी व विधायक राजेन्द्र गुर्जर आदि होंगे।इसे लेकर विधायक राजेन्द्र गुर्जर ने बीसलपुर सर्किट हाउस में अधिकारियों की बैठक ली।  विधायक ने बताया कि 198 करोड़ की लागत से बनी प्रथम योजना का लोकार्पण किया जाएगा। कार्यक्रम की सफलता के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारियां सौंपी तथा रूपरेखा तैयार की गई। लोकार्पण कार्यक्रम पटेल नगर स्थित फिल्टर प्लांट पर होगा। योजना के शुरू होने से विधानसभा के क्षेत्र के लोगों को सुविधा होगी।

15.  राजस्थान को पर्यटन के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर दो अवार्ड दिए गए
राजस्थान को पर्यटन के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर दो अवार्ड दिए गए हैं। नई दिल्ली के एरो सिटी में शुक्रवार रात को देश की एक प्रतिष्टित पत्रिका द्वारा आयोजित अवार्ड समारोह में राजस्थान को बेस्ट टूरिज्म स्टेट और उदयपुर को बेस्ट टूरिज्म सिटी श्रेणी में अवार्ड प्रदान कर सम्मानित किया गया ।
राजस्थान की ओर से यह अवार्ड राजस्थान पर्यटन स्वागत केंद्र की अतिरिक्त निदेशक श्रीमती  डॉ. गुनजीत कौर और सहायक निदेशक श्री आर के सैनी ने ग्रहण किये। इस मौके पर पर्यटन उद्योग, व व्यवसाय, मीडिया और प्रशासनिक जगत की जानी मानी हस्तियां मौजूद थी।                


16. राजकुमार जैन जी ने परंपरागत खेती के साथ किया कुछ नया
बारां जैसे क्षेत्र में जहां अधिकतर किसान केवल खाद्यान्न, तिलहन और मसाला खेती करते हैं, वहां राजकुमार जैन जी ने आंवला, अमरूद, नींबू और चीकू की बागवानी करके बनाया है आदर्श कृषि फार्म |          


17. मरू उद्यान में बनेगा गोडावण हैचिंग सेंटर
राजस्थान सरकार, भारतीय वन्यजीव संस्थान और केंद्र सरकार के सहयोग से प्रदेश में गोड़ावण को विलुप्त होने से बचाने के लिए संरक्षित प्रजनन केंद्र स्थापित करेगी। राज्य के वन विभाग, केंद्र सरकार और वन्यजीव संस्थान के अधिकारियों एवं अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों की शुुुुुक्रवार को दिनभर चली कार्यशाला में इस पर सहमति बनी कि जैसलमेर में राष्ट्रीय मरू उद्यान क्षेत्र (डीएनपी) में गोडावण का हैचिंग सेंटर विकसित किया जाए। इसके पश्चात बारां जिले के सोरसण में एक ब्रीडिंग सेंटर स्थापित करने पर विचार किया जाएगा।
कार्यशाला के बाद विशेषज्ञों और प्रतिभागियों ने मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे से मुलाकात कर उन्हें गोडावण संरक्षण योजना की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए गोडावण की विलुप्त होती प्रजाति को बचाना बेहद जरूरी है और यह बात स्थानीय लोगों को समझाई जानी चाहिए ताकि वे इनके संरक्षण में सहभागी बन सकें।
बैठक में उज्बेकिस्तान में गोडावण संरक्षण पर कार्य कर रहे विशेषज्ञ श्री कीथ स्कॉटलैण्ड तथा स्पेन के विशेषज्ञ श्री जुआन कार्लोस अलेंग्जो ने इस पक्षी के संरक्षण के लिए वहां किए जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने प्रस्तावित गोडावण संरक्षण योजना में अपनी सेवाएं देने के लिए सहमति व्यक्त की।

18. सम्पूर्ण देश में युवाओं का मतदाता सूचियों में पंजीकरण हेतु राष्ट्रव्यापि अभियान चलाया जायेगा
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सम्पूर्ण देश में दिनांक 01 जुलाई, 2017 से 31 जुलाई, 2017 के मध्य युवाओं के पंजीकरण हेतु विशेष अभियान चलाया जायेगा, जिससे कि मतदाता सूची में पात्र युवा मतदाताओं का शत-प्रतिशत पंजीकरण सुनिश्चित किया जा सके।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अश्विनी भगत ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा राजस्थान राज्य में आयोजित किये गये युवा पंजीकरण अभियान की काफी सराहना की है। राज्य में चलाये गये इस अभियान के सम्बंध में मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा आयोग के समक्ष प्रस्तुतीकरण भी दिया गया है, जिसमें राज्य में इस अभियान के दौरान अपनायी गयी प्रक्रिया, प्रभावी मॉनीटरिंग आदि की जानकारी दी गई है।
श्री भगत ने बताया कि राज्य में सभी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों मंस संदर्भ तिथि 01.01.2017 की मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 16 जनवरी, 2017 को किया गया था। मतदाता सूचियों के अंतिम प्रकाशन के समय उपलब्ध आंकड़ों का विश्लेषण करने के बाद यह पाया गया कि मतदाता सूचियों में 18-19 आयुवर्ग में पंजीकरण इस आयु वर्ग की जनसंख्या की तुलना में 0.41 प्रतिशत है, जबकि यह 4.23 प्रतिशत होना चाहिए। श्री भगत ने बताया कि इस अभियान के फलस्वरूप 18-19 आयुवर्ग में मतदाताओं का प्रतिशत 0.41 प्रतिशत से बढ़कर 2.08 प्रतिशत हो गया है तथा इसके साथ-साथ जनसंख्या मतदाता अनुपात एवं लिंगानुपात में भी वृद्धि हुई है।