स्त्री विमर्श कुछ पठनीय पुस्तकें

देह की राजनीति से देश की राजनीति तक – मृणाल पांडे परिधि पर स्त्री – मृणाल पांडे दुर्ग द्वार पर दस्तक – कात्यायनी स्त्री का समय – क्षमा शर्मा स्त्रीत्व का मानचित्र – अनामिका हौवा की बेटी – दिव्या जैन Read More …

आदिकाल प्रश्नोत्तरी

1 ब्रज माधुरी सार किसका इतिहास ग्रन्थ है? वियोगी हरि 2 सिद्धों का प्रधान केंद्र कहाँ था? श्री पर्वत 3 नाथ मत के सिद्धों की सबसे प्राचीन सूचि किस ग्रन्थ में है? वर्णरत्नाकर 4 कौल मार्ग क्या है? नाथ पंथ Read More …

आदिकाल के प्रमुख कवि और उनकी रचनाएँ

अब्दुर्रहमान : संदेश रासकनरपति नाल्ह : बीसलदेव रासो (अपभ्रंश हिंदी)चंदबरदायी : पृथ्वीराज रासो (डिंगल-पिंगल हिंदी)दलपति विजय : खुमान रासो (राजस्थानी हिंदी)जगनिक : परमाल रासो शार्गंधर : हम्मीर रासो नल्ह सिंह : विजयपाल रासो जल्ह कवि : बुद्धि रासो माधवदास चारण Read More …

महादेवी वर्मा काम संस्मरण गिल्लू

महादेवी वर्मा 1907-1987 👉 कृतियां-नीहार, रश्मि,नीरजा,दीपशिखा,यामा,स्मृति की रेखाएं,अतित के चल चित्र। 👉”आज उस लघुप्राण की खोज है” महादेवी वर्मा ने लघु प्राण बताया है -गिल्लु को । 👉कौवे का आह्वान किया जाता है — श्राद्ध पक्ष में । 👉लेखिका ने Read More …

रस

कविता कहानी या उपन्यास को पढ़ने से जिस आनंद की अनुभूति होती है उसे रस कहते हैं।रस काव्य की आत्मा है। रसों के आधार भाव हैं।भाव मन के विकारों को कहते हैं।ये दो प्रकार के होते हैं—-स्थायी भाव,संचारी भाव। 🦋स्थाई Read More …