ऊर्दू – क़वायद(व्याकरण)

🌟फ़ेल(क्रिया)– फ़ेल वो है जिस से किसी सह(काम) करना या होना मालूम हो, ⚡जैसे- तमाशा शुरू हुवा – इस ने ख़त लिखा वगेरा(आदि) I 👉🏻 तमाम अल्फ़ाज मसदर से निकलता है और इस के आखिर में “ना” आता है I Read More …

URDU मुहावरे

मुहावरा अरबी जबान का अल्फाज है जिस के मायने ये है “बा हम गुफ्तगू” करना है- 🔹 लफजी मायने- वो कलाम जिस को अहले ज़बान ने लफजी मायने की मनासबत या गैर मनासबत से लिसी ख़ास मायने के लिए मख़सूस Read More …

सिफ़त/ विशेषण

🔸 वो कलमा है जिस से किसी इश्म की अच्छाई या बुराई ज़ाहिर हो वो सिफ़त कहलाता है या किसी चीज़ की किसी भी तरह की ख़ूबी या खुसुशीयत को सिफ़त कहते है I ➡ जिस इश्म की ख़ूबी बयान Read More …

ज़मीर और उस के अक्साम

(सर्वनाम और उस के प्रकार) 🔸वो अल्फ़ाज जो के इश्मे ख़ास के बजाय इस्तमाल किये जाये ज़मीर कहलाते है 🔹जैसे-वो, में, तुम, तुम को, तुम्हारा, वगेरा 🔹 जैसे- आज हामिद दिल्ली गया, वो कल वापस लौटेगा इस में “वो” हामिद Read More …

मतरादाफात & मूतअदफ

परिभाषा- किसी बात में वजन पैदा करने के लिए, अक्षर दवायश “अल्फ़ाज इस्तमाल करते है जिन के मायने तकरीबन एक जैसे हो तो हम इन को मूतअदफअल्फ़ाज कहते है” (REET-2015) ◾जैसे अल्लह- रब, खुदा 🔮 कुछ अल्फ़ाज और उन के Read More …