दैनिक समसामयिकी

1.देश में उच्च शिक्षा में लड़कियों का नामांकन बढ़ा

उच्च शिक्षा के क्षेत्र में कई सकारात्मक बदलाव सामने आए हैं। इनमें ग्रॉस एनरोलमेंट रेश्यों बढ़ने से लेकर लड़कियों की भागीदारी बढ़ने तक के बदलाव शामिल है।  पिछले 7 साल में देश में उच्च शिक्षा में लड़कियों का नामांकन करीब 37% बढ़ गया है।इस मामले में लड़कियों ने हरियाणा, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और गोवा समेत 12 राज्यों में लड़कों को पछाड़ दिया है। इनमें पुदुचेरी भी शामिल है। शुक्रवार को जारी ऑल इंडिया सर्वे ऑन हायर एजुकेशन(एआईएसएचई) 2016-17 में सामने आई है। इसके मुताबिक उच्च शिक्षा में ग्रॉस एनरोलमेंट रेश्यो (जीईआर) 5 साल में करीब 19% बढ़कर 25.2% हो गया है। जीईआर 18-23 साल की उम्र के युवाओं की उच्च शिक्षा में नामांकन की दर है। 

2. अप्रैल से बदल जाएगी राज्यसभा की तस्वीर
राज्यसभा में 27 जनवरी को कांग्रेस के तीन सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने के बाद भाजपा सबसे बड़ा दल बन जाएगा। अप्रैल में जिन सदस्यों का कार्यकाल पूरा होगा उनमें केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली, जेपी नड्डा, रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी, राजीव शुक्ला, रेणुका चौधरी तथा मनोनीत सदस्य रेखा एवं सचिन तेंदुलकर शामिल हैं। अप्रैल माह में भाजपा के 17, कांग्रेस के 12, सपा के छह, बसपा, शिवसेना, माकपा के एक-एक, जदयू, तृणमूल कांग्रेस के 3-3, तेदेपा, राकांपा, बीजद के 2-2 निर्दलीय तथा मनोनीत तीन सदस्य का कार्यकाल पूरा होने जा रहा है। 

3. देश का सबसे वजनी सैटेलाइट (5600 किलो का) तैयार
भारत 10 जनवरी को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित अंतरिक्ष केंद्र से पृथ्वी अवलोकन उपग्रह कार्टोसैट सहित 31 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा।  इनमें से 28 उपग्रह अमेरिका के और पांच अन्य देशों के होंगे।  2018 के इस पहले अंतरिक्ष अभियान के तहत ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी-सी440) के जरिए सभी 31 उपग्रह छोड़े जाएंगे। इस अभियान से चार महीने पहले नाविक मिशन का 8वां उपग्रह छोड़ा गया था, लेकिन रॉकेट पृथ्वी की निचली कक्षा में पहुंचाने में विफल रहा था। 

4. उत्तराखंड में मिला सबसे छोटा स्तनपायी जीव
सबसे छोटे स्तनपायी जीवों में शुमार चूहे जैसा दिखने वाला दुर्लभ वाटर श्रु (जल कर्कशा) नाम का जीव उत्तराखंड में भी पाया गया है।भारतीय वन्यजीव संस्थान (डब्ल्यूआइआइ) के वैज्ञानिकों ने पहली बार उत्तराखंड के कुमाऊं में अस्कोट वाइल्डलाइफ सेंचुरी और गढ़वाल मंडल के उत्तरकाशी क्षेत्र में इस जीव की उपस्थिति दर्ज की। संस्थान के वैज्ञानिकों के अनुसार यह जीव जल-थल दोनों जगह पाया जाता है। इस जीव को इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर (आइयूसीएन) ने संकटग्रस्त जीवों की श्रेणी में रखा है।  अभी तक विश्व में इसकी 13 प्रजातियों की ही जानकारी है और यह जीव उत्तरी-दक्षिणी एशिया, दक्षिणी चीन व पूर्वी नेपाल में मिला है। भारत में अब तक इसकी उपस्थिति सिर्फ सिक्किम व अरुणाचल प्रदेश में दर्ज की गई थी। 

5. जॉन यंग शुक्रवार देर रात उनका निधन हो

अंतरिक्ष में छह बार जाने वाले, चंद्रमा की परिक्रमा करने वाले और इसकी चट्टानी सतह पर चहल-कदमी करने वाले महान अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री जॉन यंग नहीं रहे। यह जानकारी अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने दी है। नासा के मुताबिक, वह 87 साल के थे। निमोनिया के कारण बीते शुक्रवार देर रात उनका निधन हो गया। यंग नासा स्पेस सेंटर से कुछ ही मिनटों की दूरी पर स्थित ह्यूस्टन के एक उपनगर में रहते थे।

6. क्लोरीन की कमी से घटा ओजोन परत का छेद
वायुमंडल में क्लोरीन गैस के स्तर में कमी आने से ओजोन सतह में बने छिद्र का आकार भी घटा है। नासा के वैज्ञानिकों ने एक शोध में पाया कि ऐसा क्लोरोफ्लोरोकार्बन (सीएफसी) पर लगाए गए अंतराष्ट्रीय प्रतिबंध के कारण संभव हो सका है। सीएफसी लंबे समय तक टिके रहने वाले ऐसे रासायनिक तत्व हैं, जो अपने आप समतापमंडल में बनते हैं।  शोधकर्ताओं के मुताबिक, 2005 से 2016 के दौरान जब दक्षिणी गोलार्ध में सर्दी थी, तब अंटार्कटिक में ओजोन छिद्र का निर्माण हुआ था। सूर्य से निकलने वाली पराबैंगनी किरणों सीएफसी के अणुओं को तोड़ देती हैं, जिससे क्लोरीन गैस बाहर निकल जाती है। क्लोरीन परमाणु ओजोन के अणुओं को नष्ट कर देते हैं। अंटार्कटिक में ओजोन सतह में होने वाली गड़बड़ी को मापने वाले माइक्रोवेव लिंब साउंडर ने पाया कि जहां भी ओजोन सतह क्षीण हो रही थी, वहां क्लोरीन के कई अणु मौजूद थे।

7. वाघा बॉर्डर की तरह दाउकी में भी होगी बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी
शिलोंग से 83 किलोमीटर दूर पहाड़ी जंगलों के खूबसूरत घुमावदार मोड़ के बाद आता है दाउकी। सुपारी और तेज पत्ता के घने-ऊंचे पेड़ों के बीच से यह रास्ता गुजरता है। मेघालय राज्य का छोटा-सा क्षेत्र दाउकी, भारत और बांग्लादेश के बीच व्यापार और लोगों की आवाजाही का एक प्रमुख केंद्र है। दाउकी में बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स, बीएसएफ की चौकी के ठीक सामने 22 एकड़ क्षेत्र में बन रहा है इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट (आईसीपी)। वर्ष 2019 के मध्य तक यहां एक नई शुरुआत होने जा रही है। वाघा बॉर्डर की तर्ज पर भारत और बांग्लादेश के बीच यहां भी प्रतिदिन बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी का आयोजन होगा। सेरेमनी में बीएसएफ और बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवान हिस्सा लेंगे।

8. तीन तलाक समेत 12 विधेयक लोकसभा से पारित
लोकसभा के संक्षिप्त शीतकालीन सत्र के दौरान बहुचर्चित तीन तलाक विधेयक समेत 12 विधेयक पारित किए गए अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कार्यवाही स्थगित करने से पूर्व बताया कि 16वीं लोकसभा के 13वें सत्र में कुल 13 बैठकें हुइर्ं और 61 घंटे काम हुआ। इस दौरान 16 सरकारी विधेयक पेश किये गये और 12 विधेयकों को मंजूरी दी गयी। सत्र के दौरान पारित महत्वपूर्ण विधेयकों में तीन तलाक से संबंधित मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार सुरक्षा) विधेयक, केंद्रीय सड़क निधि (संशोधन) विधेयक, वस्तु एवं सेवा कर (राज्यों को क्षतिपूर्ति) (संशोधन) विधेयक, दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता (संशोधन) विधेयक, उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय वेतन और सेवा शर्त संशोधन विधेयक, दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी राज्य क्षेा विधियां (विशेष उपबंध) दूसरा (संशोधन) विधेयक और अचल संपत्ति अधिग्रहण और अर्जन (संशोधन) विधेयक शामिल हैं।

9. चंडीगढ़ होस्ट करेगा देश का पहला स्पोर्ट्स लिटरेचर फेस्ट
प्ले राइट-2018’, भारत का पहला स्पोर्ट्स लिटरेचर फेस्टिवल 17-18 मार्च को चंडीगढ़ में आयोजित किया जाएगा। ‘प्ले राइट-2018’ में ऐसी खेल हस्तियों को एक साथ लाया जाएगा, जिनके पास या अपनी लिखी किताबे हैं या फिर उन पर एक या अधिक किताबें लिखी गई हैं।आयोजन में क्रिकेट, फुटबॉल, टेनिस, हॉकी, बैडमिंटन, गोल्फ, कबड्डी, स्क्वॉश, शूटिंग, कुश्ती और एथलेटिक्स जैसे जाने माने खेलों की प्रमुख हस्तियों को आमंत्रित कर इसमें शामिल किया जाएगा।  स्पोर्ट्स लिटरेचर फेस्टिवल में जिन हस्तियों को आमंत्रित किया जा रहा है, उनमें उड़नपरी पीटी उषा, गोल्फर जीव मिल्खा सिंह, क्रिकेट खिलाड़ी कपिल देव, रिक चाल्र्सवर्थ, टेनिस के धुरंधर महेश भूपति, स्नूकर के विश्व विजेता रहे पंकज आडवाणी, प्रख्यात क्रिकेटर युवराज सिंह और फुटबॉलर वाइचुंग भूटिया आदि कई प्रमुख खिलाड़ी शामिल हैं।अब तक इस तरह के आयोजन सिर्फ लंदन और मेलबर्न में ही आयोजित किए गए हैं। चंडीगढ़ प्ले राइट 2018 आयोजित करने का आदर्श स्थल है, क्योंकि यह वह शहर है जहां विश्व कप क्रिकेट सेमीफाइनल्स (पीसीए मोहाली) और डेविस कप टेनिस सेमीफाइनल (सीएलटीए) आयोजित किए जा चुके हैं। 

Source of the Current Affairs (With Regards):- Jagran, Dainik Bhaskar, Rashtriya Sahara Hindustan dainik(Delhi), Nai Duniya, Hindustan Times, The Hindu, BBC Portal, The Economic Times(Hindi& English) 

Specially thanks to  Dr Sanjan Kumar