Daily Current Affairs 16-17 January 2018

दैनिक समसामयिकी

1.वर्ष 2018 से हज यात्रियों को यात्रा पर मिलने वाली सब्सिडी खत्म
केंद्र सरकार ने वर्ष 2018 से हज यात्रियों को यात्रा पर मिलने वाली सब्सिडी खत्म करने तथा सब्सिडी की यह राशि को मुस्लिम समाज खासकर मुस्लिम महिलाओं की शिक्षा के लिए खर्च करने की घोषणा की। अल्पसंख्यक मामलों के केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने यह जानकारी दी। सरकार ने यह निर्णय सुप्रीम कोर्ट के 2012 के फैसले के मद्देनजर किया है। इसमें हज सब्सिडी 2022 तक धीरे-धीरे खत्म करने का निर्देश दिया गया था। इस वर्ष देश से हज पर जाने वाले लोगों का कोटा पांच हजार बढ़ा दिया गया है और अब एक लाख 75 हजार यात्री हज पर मक्का मदीना जाएंगे। इनमें से एक लाख 41 हजार लोग हज कमेटी के माध्यम से जाएंगे। बिना मेहरम 1300 महिलाओं का चयन लॉटरी के माध्यम से कर लिया गया है। उनकी मदद के लिए महिला हज सहायकों को नियुक्त किया गया है। 

2. भारत के लिए रूस ने भी घटाए एलएनजी के दाम
कतर और आस्ट्रेलिया के बाद रूस ने भी भारत के लिए तरल प्राकृतिक गैस (एलएनजी) के दाम घटा दिए हैं। भारत इसकी कम दर पर मई से एलएनजी आयात कर सकता है जो देश के आयात बिल में कई करोड़ डालर की बचत करेगा। सरकारी गैस कंपनी गेल इंडिया लिमिटेड ने रूस की गैसप्रॉम को 20 साल के एक समझौते के तहत गैस की कीमत कम करने के लिए राजी कर लिया गया है। साथ ही कुछ मात्रा की आपूर्ति तीन से चार साल आगे टालने के लिए कहा है।

3. इजरायली पीएम ने दिल्ली में रायसीना वार्ता के तीसरे संस्करण का उद्धाटन किया
छह दिवसीय दौरे के दूसरे दिन मंगलवार को इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ रायसीना वार्ता में हिस्सा लिया। इजरायली पीएम ने दिल्ली में भू-राजनीतिक सम्मेलन ‘रायसीना संवाद’ के तीसरे संस्करण का उद्घाटन किया। इसमें 90 देशों के 150 से ज्यादा वक्ता और 550 से ज्यादा प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। 

4. ब्रह्माण्ड की सबसे दूर स्थित आकाशगंगा तलाशी
ब्रह्माण्ड में इतने रहस्य छिपे हैं कि एक से पर्दा उठते ही दूसरा सामने आ खड़ा होता है। इसी कड़ी में वैज्ञानिकों ने ब्रह्माण्ड में एक और बड़ी खोज की है। नासा के वैज्ञानिकों ने एक ऐसी आकाशगंगा खोज निकाली है जो ब्रह्माण्ड में सबसे दूर है। इसकी दूरी करीब 2,500 प्रकाशवर्ष है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, ये आकाशगंगा सितारों का एक आदिम क्लस्टर है। अनुमान है कि यह आकाशगंगा 50 करोड़ साल पुरानी है। इस आकाशगंगा की तलाश नासा के हबल और स्पिट्जर स्पेस टेलीस्कोप द्वारा की गई है। टेलीस्कोप द्वारा ब्रह्माण्ड में एक गहन सर्वेक्षण ने गुरुत्वाकर्षण लेंसिंग नामक एक घटना के द्वारा एसपीटी0615-जेडी नाम की आकाशगंगा की तस्वीरें लीं, जो घटती और बढ़ती दिखाई दीं। हालांकि वैज्ञानिकों को यह आकाशगंगा केवल लाल और गुलाबी रंग में नजर आई।

5. चीन में मिले सतरंगी पंखों वाले डायनासोर के जीवाश्म
वैज्ञानिकों ने 16 करोड़ वर्ष पूर्व पाए जाने वाले सतरंगी पंखों वाले डायनासोर का पता लगाया है। छोटे आकार वाले इस पक्षी की नाक पर हड्डी की कलगी और पंख इंद्रधनुषी रंग के थे। चीन के हेबै प्रांत में मिले जीवाश्म का अध्ययन कर इस पक्षी का नाम काइहोंग जुजि दिया गया। चीनी भाषा मैंडरिन में काइहोंग का अर्थ इंद्रधनुष होता है। पंख में मेलानोसोम्स नामक तत्व था : यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास की प्रो. जुलिया क्लार्क ने बताया कि जुरासिक काल के इस पक्षी के सतरंगी पंख विपरीत लिंग को आकर्षित करते थे। वर्तमान में पाए जाने वाले हमिंग बर्ड की तरह ही काइहोंग के गर्दन, सिर और सीने के पंख रंग-बिरंगे थे।

6. रोमानिया के प्रधान मंत्री मेहाई टुडोस का इस्तीफा

पार्टी अध्यक्ष के साथ सत्ता संघर्ष के बीच रोमानिया के प्रधान मंत्री मेहाई टुडोस ने पार्टी द्वारा समर्थन वापिस लेने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया।सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी के अधिकारियों का कहना है कि विकास मंत्री पॉल स्टैनेस्कू अंतरिम प्रधान मंत्री के तौर पर काम करेंगे।टुडोस सोशल डेमोक्रेट्स द्वारा दिसंबर 2016 के रोमानिया आम चुनाव में जीत के बाद हटाए गए दूसरे प्रधान मंत्री हैं।

7. ओडिशा के मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री कलाकर सहायता योजना की शुरूआत की

ओडिशा की राज्य सरकार माननीय मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक की अगुवाई में सरकार ने मुख्यमंत्री कलाकार सहायता योजना ओडिशा नाम से एक योजना शुरू की है। इस योजना के अंतर्गत, राज्य सरकार कलाकारों को पचास हजार रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। यह योजना राज्य के कलाकारों को मासिक वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए ओडिशा सरकार द्वारा शुरू की गई है। यह पहली, सरकार है जो कलाकारों को वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है लेकिन अब सरकार ने लाभार्थियों की संख्या 40000 से 50000 तक बढ़ा दी है।

8. धन के कुशल प्रबंधन के लिए हरियाणा ने एनबीएफसी की स्थापना की

हरियाणा सरकार ने राज्य सार्वजनिक उद्यमों और स्वायत्त निकायों के अतिरिक्त फंड के कुशल प्रबंधन के लिए इन-हाउस ट्रेजरी मैनेजर के रूप में कार्य करने हेतु गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) – हरियाणा स्टेट फाइनैंशियल सर्विसेज लिमिटेड बनाने का निर्णय लिया है। एनबीएफसी राज्य सरकार की संस्थाओं के ओवरनाइट धन पर बेहतर जमा दर प्रदान करेगी। इसके अलावा, यह राज्य सरकार की सारी संस्थाओं के लिए साल भर में बेहतर जमा दर उपलब्ध कराएगा, राज्य वित्त मंत्री अभिमन्यु ने कहा। एनबीएफसी राज्य सरकार की संस्थाओं में त्वरित और परेशानी मुक्त ऋण देने और वित्तीय अनुशासन पैदा करने में सक्षम होगी।

9.भारत का पहला स्पोर्ट्र्स रेडियो चैनल लॉन्च

करोड़ों खेल प्रशंसकों के लिये मंगलवार को देश का पहला स्पोर्ट्र्स रेडियो चैनल लांच किया गया जहां 24 घंटे 7 दिन खेल से जुड़ी तमाम जानकारी मिल सकेगी जिसमें कई विभिन्न खेलों से जुड़े दिग्गज खिलाड़यिों की लाइव कमेंट्री भी सुनने को मिलेगी। यह रेडियो चैनल क्रिकेट, हॉकी, फुटबॉल, कब्बडी, कुश्ती जैसे दुनिया के 34 खेलों की कवरेज करेगा इस रेडियो चैनल पर लाइव कमेन्ट्री, टॉक शोज , स्पेशल स्पोर्ट्र्स प्रोग्राम, एक्सपर्टस कमेंट्स, स्पोर्ट्र्स न्यूज और अपडेट्स, ऑडियो डाक्यूमेंट्री, यूनिवर्सिटी स्पोर्ट्र्स और स्पोर्टटेन्मेंट कंटेंट सब शामिल होगा। इस रेडियो चैनल पर दुनिया भर के 400 से ज्यादा खेलों जैसे प्रीमियर लीग, आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट्स की लाइव अपडेटस और चैट कमेन्ट्री प्रदान करेगा।

10. प्रसिद्ध छायाकार डब्ल्यू बी राव का निधन

‘हम’ ‘खुदा गवाह’ और ‘रंगीला’ जैसी फिल्मों के लिए काम कर चुके अनुभवी छायाकार डब्ल्यूबीराव का निधन हो गया। वेस्टर्न इंडियन सिनेमाटोग्राफर्स एसोसिएशन (डब्ल्यूआईसीए) के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। भारतीय आरोग्य निधि अस्पताल में उनका निधन हो गया जहां उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया था। 

11. रविशंकर प्रसाद ने श्रीलंका के साथ गीगाबाइट कनेक्टिविटी का उद्घाटन किया

केंद्रीय कानून एवं न्याय और इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री श्री रवि शंकर प्रसाद श्रीलंका के आधिकारिक दौरे पर हैं। अपनी यात्रा के पहले दिन, उन्होंने भारत के नेशनल नॉलेज नेटवर्क और श्रीलंका के लर्न नेटवर्क के बीच गीगाबाइट कनेक्टिविटी का उद्घाटन किया।
यह समर्पित उच्च गति इंटरनेट कनेक्टिविटी भारत और श्रीलंका के शैक्षणिक संस्थानों के बीच सहयोग को बढ़ावा देगी।

12. केंद्रीय गृह मंत्री ने आईडब्ल्यूडीआरआई 2018 का उद्घाटन किया

केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने आज यहां आपदा प्रतिरोधी अवसंरचना (आईडब्ल्यूडीआरआई) विषय पर आयोजित एक अंतर्राष्ट्रीय कार्यशाला का उद्घाटन किया। इस दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन संयुक्त राष्ट्र आपदा जोखिम न्यूनीकरण (यूएनआईएसडीआर) के सहयोग से राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने किया है। वैश्विक सहयोग को मजबूत करने तथा प्रतिरोधी अवसंरचना निर्माण के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए श्री राजनाथ सिंह ने प्रधानमंत्री के 10 सूत्री एजेंडा का उदाहरण दिया। इस एजेंडे का उल्लेख नवम्बर, 2016 में नई दिल्ली में आयोजित एशियाइ मंत्री स्तरीय सम्मेलन के दौरान किया गया था। इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री ने सेन्डाई फ्रेमवर्क को लागू करने के लिए तत्काल आवश्यकता पर बल दिया था।  आने वाले 20 वर्षों में हम जितने संरचनाओं का निर्माण करेंगे वे पिछले 2000 वर्षों के दौरान हुए निर्माणों से अधिक होंगी। वैश्विक स्तर पर अवसंरचना निर्माण के लिए 2040 तक 100 ट्रिलियन डॉलर की आवश्यकता होगी। 2030 तक केवल एशिया में ही 26 ट्रिलियन डॉलर की आवश्यकता होगी। गृह सचिव श्री राजीव गाबा भी उद्घाटन सत्र में उपस्थित थे। इस कार्यशाला में 23 देशों के विशेषज्ञ तथा विकास बैंक, संयुक्त राष्ट्र, निजी क्षेत्र, शिक्षा जगत आदि के प्रतिनिधि तथा अन्य हितधारक भी भाग ले रहे हैं। 

13. अभिनेता सुधीर दल्वी को जनकवि पी सावलाराम पुरस्कार

अभिनेता सुधीर दल्वी को ठाणे, महाराष्ट्र में एक समारोह में जनकवि पी सावलाराम पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार संयुक्त रूप से ठाणे नगर निगम और जनकवि पी सावलाराम कला समिति द्वारा दिया गया है। प्रसिद्ध नृत्यांगना जयश्री टी को गंगा जमुना पुरस्कार से सम्मानित किया गया, जो सावलाराम द्वारा लिखित एक लोकप्रिय गीत की स्मृति में स्थापित किया गया है।

14.पूर्व केन्द्रीय मंत्री रघुनाथ झा का राजधानी दिल्ली में निधन

पूर्व केन्द्रीय मंत्री और बिहार से पूर्व सांसद रघुनाथ झा का रविवार की रात राजधानी दिल्ली में निधन हो गया। वह 78 साल के थे। उन्होंने दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में अंतिम सांस ली। अपने राजनीतिक करियर में झा सोशलिस्ट पार्टी, कांग्रेस, राष्ट्रीय जनता दल तथा कांग्रेस से जुड़े रहे। वर्तमान में आरजेडी के सदस्य रहे रघुनाथ झा ने एक समय में मुख्यमंत्री पद के लिए लालू यादव के खिलाफ चुनाव लड़ा था। वर्ष 1990 में विधानसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री वीपी सिंह जनता पार्टी की ओर से बिहार में राम सुन्दर दास को मुख्यमंत्री बनाना चाहते थे।

15. सरोद वादक पं बुद्धदेव दासगुप्ता का निधन

सरोद वादक पंडित बुद्धदेव दासगुप्ता का आज दक्षिण कोलकाता में उनके आवास पर दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 84 साल के थे। पदम भूषण से सम्मानित दासगुप्ता बीते कई दिनों से सांस संबंधी दिक्कतों से जूझ रहे थे। उनके परिवार के एक सदस्य ने यह जानकारी दी। उनके परिवार में पत्नी और दो बेटे हैं।  वर्ष 1933 में बिहार के भागलपुर में अपने मामा के घर जन्मे दासगुप्ता ने पंडित राधिकामोहन मोइत्रा से सरोद वादन सीखा। उन्हें 2015 में संगीत महासम्मान और बंगालविभूषण से सम्मानित किया गया।

 

16. सीजेआइ ने बनाई संविधान पीठ
प्रधान न्यायाधीश (सीजेआइ) जस्टिस दीपक मिश्र और चार वरिष्ठ न्यायाधीशों के बीच हालिया तनाव के बीच सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को महत्वपूर्ण मामलों की सुनवाई के लिए पांच सदस्यीय संविधान पीठ के गठन की घोषणा कर दी। खास बात यह है कि इसमें चारों वरिष्ठ न्यायाधीशों (जस्टिस जे. चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एमबी लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसेफ) में से किसी को भी शामिल नहीं किया गया है। पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ में सीजेआइ जस्टिस दीपक मिश्र, जस्टिस एके सीकरी, जस्टिस एएम खानविल्कर, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस अशोक भूषण शामिल हैं। यह पीठ 17 जनवरी से महत्वपूर्ण मामलों की सुनवाई करेगी।  इन्हीं जजों की संविधान पीठ आधार कानून की संवैधानिकता पर सुनवाई के लिए पहले ही गठित हो चुकी थी। इसी पीठ ने 15 दिसंबर को आधार मामले में अंतरिम राहत पर आदेश पारित किया था।

17. समर्थन मूल्य पर उपज खरीद की गारंटी देगी सरकार

विकास की दौड़ में पिछड़ गए कृषि क्षेत्र को रफ्तार देने के लिए सरकार ने कमर कसना शुरू कर दिया है। इसके लिए आगामी वित्त वर्ष 2018-19 के आम बजट में विशेष प्रावधान किए जाने की संभावना है। इस दिशा में कृषि मंत्रलय में तेजी से काम चल रहा है। किसानों की सबसे बड़ी चुनौती उसकी उपज की न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीद को लेकर सरकार गंभीर है इसके तहत गेहूं व चावल को छोड़कर बाकी अन्य फसलों की खरीद की गारंटी देने की योजना है। सरकार दो दर्जन से अधिक फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) घोषित करती है। लेकिन गेहूं व चावल को छोड़ बाकी फसलों की खरीद आमतौर पर नहीं होती है।  गेहूं व चावल की सरकारी खरीद पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और आंध्र प्रदेश में ज्यादा की जाती है। किसानों की यह मांग लंबे समय से होती आ रही है कि उनकी उपज की खरीद की गारंटी होनी चाहिए घाटे के इस अंतर का 40 से 50 फीसद केंद्र सरकार देगी, जबकि बाकी राज्य सरकारों को वहन करना होगा। खरीदी जाने वाली जिंसों की बिक्री का पूरा दायित्व राज्य सरकारों का होगा।

Source of the Current Affairs (With Regards):- Jagran(Rashtriya Sanskaran),Dainik Bhaskar(Rashtriya Sanskaran), Rashtriya Sahara(Rashtriya Sanskaran) Hindustan dainik(Delhi), Nai Duniya, Hindustan Times, The Hindu, BBC Portal, The Economic Times(Hindi& English), raftaar news.

Specially thanks to Dr Sanjan,