RAJASTHAN CURRENT AFFAIRS 01-10 OCT 2017

01. राजस्थान की विरासत बचाने के लिए शुरू हुआ पगड़ी दिवस
जोधपुर के मारवाड़ समारोह में जहां राजस्थान की आन, बान और शान की झलक दिखाई दे रही है. बुधवार को पहली बार पगड़ी दिवस की शुरुआत हो रही है, जहां शहर में हर कोई पगड़ी पहने नजर आ रहा है.
राजस्थान पर्यटन विभाग और जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में एक समारोह का आयोजन किया गया. यह समारोह जोधपुर के उम्मेद राजकीय स्टेडियम में था, जहां प्रतियोगिताएं आयोजित हुईं. जिसमें शहर के नागरिकों के साथ पर्यटकों ने खूब लुप्त उठाया. समारोह के तहत उम्मेद राजकीय स्टेडियम में ही देशी-विदेशी सैलानियों के बीच में मूंछों की प्रतियोगिता, साफा बांधने की प्रतियोगिता, टग ऑफ वार, रस्सा कस्सी, बैंड वादन और केमल टैटू शो का प्रदर्शन हुआ.


02. पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर में 27 करोड़ रुपए से बनेगा आध्यात्मिक पार्क
पुष्कर में स्थित दुनिया के एकमात्र ब्रह्मा मंदिर में देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालु अब नए आध्यात्मिक अनुभव से गुज़रेंगे। इस मंदिर के कायाकल्प और नए निर्माण के लिए 27 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। निर्माण के लिए आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया से भी मंज़ूरी मिल गई है। मंदिर परिसर में अब आध्यात्मिक पार्क विकसित किया जाएगा। इसमें चार युगों की यात्रा दिखाई जाएगी। इसके अलावा 700-800 लोगों के बैठने के लिए ओपन एयर थियेटर के अलावा एक यज्ञशाला होगी।
 राज्य सरकार प्रदेश के करोड़ों श्रद्धालुओं की धार्मिक भावना के अनुरूप विश्व प्रसिद्ध तीर्थराज पुष्कर क्षेत्र का विकास करेगी तथा अक्षरधाम मंदिर की तर्ज पर इसे संवारा जाएगा।

03. मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तीसरे और चौथे चरण में 6049 गाँवों की बदलेगी सूरत
मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तीसरे और चौथे चरण को राज्य में प्रभावी तरीके से लागू करने के लिए राज्य सरकार ने केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय से मदद मांगी है। सरकार ने राज्य के 6049 गावों में जल प्रबंधन करने के लिए मंत्रालय के ग्रीन क्लाइमेंट फंड के तहत 3024 करोड़ रूपए की मांग की है। इसके लिए पर्यावरण विभाग की ओर से प्रस्ताव भेजा गया है। संभावना जताई जा रही है कि अगले दो से तीन माह के भीतर केंद्र से ग्रीन सिग्नल मिल जाएगा।

04. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने  ‘मुख्यमंत्री जनसंवाद’ कार्यक्रम की शुरुआत दलित समाज से की
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शुक्रवार को ‘मुख्यमंत्री जनसंवाद’ कार्यक्रम की शुरुआत दलित समाज से की। सबसे पहले उन्होंने दलित समाज के साथ बैठक की। उन्होंने दलित समाज के लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि दलितों की तरक्की से प्रदेश की तस्वीर बदलेगी। बाबा साहेब अम्बेडकर के सपनों को साकार करते हुए हमारी सरकार निरन्तर दलित उत्थान में लगी हुई है।
रैगर, मेघवाल, खटीक एवं अन्य दलित समाज के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जब तक 36 की 36 कौमों और सब मज़हबों का विकास नहीं होगा तब तक प्रदेश आगे नहीं बढ़ सकता। दलित समाज ने हमेशा देश का गौरव बढ़ाया है। आज देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर राष्टपति रामनाथ कोविंद तथा प्रदेश की सबसे बड़ी पंचायत विधानसभा में दलित समाज के कैलाश मेघवाल अध्यक्ष के रूप में पदस्थापित हैं। 


05. प्रदेश में चार शिक्षा सत्रों में 1719 लाख किताबों का नि:शुल्क वितरण

प्रदेश में चार शिक्षा सत्रों में 1719.19 लाख किताबों का स्कूलों में नि:शुल्क वितरण किया गया है।
मौजूदा शिक्षा सत्र में 371 लाख किताबें बच्चों को नि:शुल्क बांटी गई हैं। इनमें आठवीं कक्षा तक के बच्चों के लिए 208.77 लाख किताबें शामिल हैं। पिछले चार सत्रों में सर्वाधिक नि:शुल्क किताबें 2016-17 में उच्च प्राथमिक स्तर तक के बच्चों के लिए 365.23 लाख हैं।


06. ग्लोबल मीडिया कैंपेन से राजस्थान पर्यटन को मिली अलग पहचान
प्रदेश को विश्व के पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करने के लिए चलाए जा रहे ग्लोबल मीडिया कैंपेन की टैगलाइन ‘जाने क्या दिख जाए’ को मिली अपार लोकप्रियता का परिणाम है।
बुधवार को पर्यटन मंत्री कृष्णेन्द्र कौर दीपा तथा अतिरिक्त मुख्य सचिव पर्यटन एनसी गोयल ने ये पुरस्कार श्रीमती राजे को सौंपे। मुख्यमंत्री ने इसके लिए पर्यटन विभाग की पूरी टीम को बधाई दी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द और केन्द्रीय पर्यटन राज्यमंत्री केजे अलफोन्स ने पर्यटन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए पिछले दिनों आयोजित समारोह में राजस्थान पर्यटन विभाग को दो राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कारों से सम्मानित किया था। तीन अन्य श्रेणियों में भी प्रदेश को पुरस्कार प्राप्त हुए थे। 

07. सीआईडी के 17 पुलिसकर्मियों को सेवा चिन्ह से किया गया सम्मानित
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (अपराध) पंकज कुमार सिंह ने यह विचार सोमवार को पुलिस मुख्यालय सभाकक्ष में सीआईडी अपराध शाखा के 17 पुलिसकर्मियों को सर्वोत्तम, अति उत्तम, उत्तम सेवा चिन्ह और प्रशंसा पत्र प्रदान करते हुए रखे.
सिंह ने सोमवार को एक सादे समारोह में सहायक उप निरीक्षक महेश कुमार टांक और हैड कांस्टेबल सर्वश्री गोपाल लाल गंगवाल, गिरधारी लाल शर्मा, कांस्टेबल सीताराम सामरिया को सर्वोत्तम सेवा चिन्ह, निरीक्षक परवेज आलम सैयद, सहायक उप निरीक्षक रामस्वरूप, हैड कांस्टेबल सर्व योगेश कुमार शर्मा, महेन्द्र प्रताप सिंह धाकड, कांस्टेबल ओमप्रकाश, फूलचन्द मीणा को अति उत्तम सेवा चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया.
इसी प्रकार पुलिस निरीक्षक विजय सिंह, कांस्टेबल सर्वश्री सुमेर सिंह, सत्यवीर सिंह, नरेन्द्र कुमार सैनी, कुशल चन्द सुवाल, कैलाश चन्द जाट और कांस्टेबल चालक सुरज्ञान मीणा को उत्तम सेवा चिन्ह प्रदान किया और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की.

08. साउथ एशियन सूफी फेस्टिवल का हुआ समापन
जयपुर के डिग्गी पैलेस में आयोजित तीन दिवसीय साउथ एशियन सूफी फेस्टिवल का आज समापन हुआ. फाउंडेशन ऑफ सार्क राइटर्स एंड लिटरेचर की ओर से आयोजित इस सूफी फेस्टिवल में अफगानिस्तान, मालदीव, बांग्लादेश, श्रीलंका, भारत एवं भूटान देषों के प्रतिनिधियों ने एकेडमिक पेपर प्रस्तुत किए और काव्य पाठ किया.
इस दौरान सूफी विद्वानों, लेखकों और कवियों ने सूफीवाद पर विस्तार से चर्चा की. सूफी विद्वानों ने अपने-अपने मतों के आधार पर सूफीज्म की व्याख्या की. सूफी विद्वानों ने रवीन्द्र नाथ टैगोर की कविताओं पर सूफीवाद एवं आध्यात्मिकता का अत्यधिक प्रभाव बताया. इसके अलावा फेस्टिवल में आए जानकारों ने कबीर के दोहों का बांग्ला में अनुवाद करने वाले टैगोर को सबसे पहला कवि साबित किया.


09. मंत्री सराफ ने भी शुरू किया सघन मिशन इंद्रधनुष October 8, 2017

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में सघन मिशन इन्द्रधनुष के शुभारंभ के बाद राजस्थान में स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ व राज्यमंत्री बंशीधर खंडेला ने सचिवालय के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हॉल में बच्चों को रोटा वायरस व पोलियो की खुराक पिलाकर अभियान का श्रीगणेश किया. यह अभियान लगातार 4 महीने तक चलेगा और हर महीने 7 कार्य दिवस पर संचालित किया जाएगा.
इस अवसर पर पांच बच्चों को यह खुराक पिलाकर अभियान का शुभारम्भ किया. इस दौरान मंत्री सराफ ने बताया कि इस अभियान में राज्य के 11 जिले अलवर, बाड़मेर, बीकानेर, धौलपुर, जालौर, जोधपुर, करौली, पाली, प्रतापगढ़, सवाई-माधोपुर, उदयपुर और जयपुर जिले के शहरी क्षेत्रों को शमिल किया गया है.
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि प्रदेश का चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग शिशु मृत्यु दर एवं मातृ मृत्यु दर में कमी लाने पर विशेष ध्यान दे रहा है और इसके परिणामस्वरूप स्वास्थ्य मापदंडों में लगातार सुधार हो रहा है.
स्वास्थ्य सूचकांकों की दृष्टि से महत्वपूर्ण माने जाने वाले सेम्पल रजिस्ट्रेशन सिस्टम (एसआरएस)-2016 की जारी रिपोर्ट के अनुसार राजस्थान के शिशु मृत्युदर में दो अंकों का सुधार दर्ज किया गया हैं और अब शिशु मृत्युदर 41 रह गई है. हम इसे 28 पर लाने का प्रयास कर रहे हैं.
मंत्री सराफ ने बताया कि वर्ष 2012-13 के वार्षिक स्वास्थ्य सर्वेक्षण के अनुसार टीकाकरण का स्तर 74.2 प्रतिशत है और निर्धारित लक्ष्यों के अनुसार वर्ष 2018 तक इसे बढ़ाकर 90 प्रतिशत करने का लक्ष्य रखा गया है. शिशु मृत्यु को कम करने के लिए पेंटावैलेन्ट वैक्सीन टीकाकरण, मिशन इन्द्रधनुष, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम आदि का प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा है.

10. जयपुर में जुटे हृदय रोग विशेषज्ञों का ‘महाकुम्भ’ संपन्न October 8, 2017
पिछले चार दिन से राजधानी जयपुर में जुटे हृदय रोग विशेषज्ञों का महाकुम्भ रविवार  को हार्ट टॉक के साथ संपन्न हो गया. वर्ल्ड कांग्रेस ऑफ कार्डियो ईको-2017 के अन्तिम दिन सुबह-सुबह आमजन के लिए ओपन सेशन रखा गया, जिसमें सेंट्रल पार्क में घूमने आने वाले और दिल के रोगियों ने कार्डियोलॉजिस्ट से सीधे सवाल जवाब किए.
सभी विशेषज्ञों ने इस बात पर जोर दिया कि हर व्यक्ति खुद को फिट रखे और इसके लिए अपने खान-पान और दिनचर्या पर विशेष रुप से ध्यान रखे.
इस मौके पर इंडियन एकेडमी ऑफ ईकोकार्डियोग्राफी के इंटरनेशनल प्रेसीडेंट डॉ. एन सी नन्दा, डॉ. एचके चोपड़ा, मेदान्ता के चीफ कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. रवि कासलीवाल, जयपुर हार्ट इन्स्टीट्यूट के डॉ. जीएल शर्मा, डॉ. अशोक गर्ग और दिल्ली के डॉ. राकेश गुप्ता भी मौजूद रहे.

11. उत्साह एवं उमंग के साथ हुआ वन्यजीव सप्ताह समारोह का समापन October 7, 2017
उदयपुर में 63वां वन्यजीव सप्ताह समापन समारोह उत्साह एवं उमंग के साथ मनाया गया. इस मौके पर पूरे सप्ताह में वन्यजीव के प्रति स्कूली बच्चों को जागरुक करने का प्रयास किया गया.वन विभाग द्वारा पूरे सप्ताह में स्कूली बच्चों के लिये कई तरह की प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई जिनमें विजेता बच्चों को आज पुरस्कृत भी किया गया. कार्यक्रम में बच्चों के उत्साहवर्धन के लिये गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया बतौर मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे 

12. अलवरः आर्मी ग्राउंड में रिटायर्ड सैनिक रैली का हुआ आयोजन
स्ट्राइक द्वारा आयोजित रैली में भूतपूर्व सेनिकों के बीच सेना और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजना वाले संस्थानों के बारे में जानकारी दी गई. रैली में 1500 सेवानिवृत्त सैनिक और उनके आश्रितों ने भाग लिया. कार्यक्रम का उद्घाटन ऑफिसर कमांडिंग आर्टिलरी डिवीजन संजय शर्मा ने किया.
इस दौरान 7 निशक्त भूतपूर्व सैनिकों को स्कूटर भी प्रदान किए गए. वहीं कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम और मलखम्ब की प्रस्तुतियां दी गईं, जिससे भूतपूर्व सैनिक अत्यधिक उत्साहित हुए. अधिकारी संजय शर्मा ने सहायता केंद्र का उद्घाटन किया, जिसमें बड़ी संख्या में विभिन्न बैंकों और संस्थाओं की स्टॉल लगाई गईं.
इसके साथ ही नगर विकास न्यास द्वारा भूतपूर्व सैनिकों के लिए यूआईटी के क्वार्टरों के लिए कोई छूट नहीं दी जा रही, जबकि उनके लिए अलग से कोटा आरक्षित होना चाहिए.           


13. मोलनिया गांव में हुआ ग्वार दिवस कार्यक्रम का आयोजन  OCT 06, 2017
बीकानेर जिला के सेरूणा के मोलनिया गांव में शुक्रवार को ग्वार की उन्नत खेती कार्यक्रम के तहत ग्वार दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसमे 20 गाँवो के 200 से किसानों ने भाग लिया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सीईओ साल्वे कंपनी बेल्जियम के जे.पी केलेमोडू रहे, इस दौरान साल्वे कंपनी के अन्य पदाधिकारी भी मौजूद रहे. किसानों को नई तकनीक द्वारा अच्छी फसल उत्पादन व कम समय मे ज्यादा उत्पादन प्राप्त करने संबंधी नई-नई तकनीक के बारे में जानकारी दी. ये कार्यक्रम 2 वर्ष से इन गांवों में चल रहा है, उन्नत पद्धति अपनाकर किसानों के बरानी ग्वार उपज में वृद्धि हुई है. 


14.अखिल भारतीय चंबल वूशू टाइटल कप का हुआ समापन
कोटा राष्ट्रीय दशहरा मेला में पहली बार आयोजित अखिल भारतीय चंबल वूशू टाइटल कप का शुक्रवार को समापन हो गया. इसमें 52 किलो वर्ग के चंबल पैथर्स टाइटल में जयपुर के प्रमोद कुमार और सिल्वर मेडल श्रीगंगानगर के दीपक ने जीता.
60 किलो वर्ग के चंबल टाईगर टाइटल में गोल्ड मेडल अलवर से शिवसिंह और सिल्वर मेडल जोधपुर से अविनाश के हासिल किया. 70 किलो वर्ग के चंबल फाईटर्स टाइटल का खिताब जयपुर के मुकेश को मिला जिन्होने गोल्ड मेडल हासिल किया. सिल्वर मेडल कोटा के फतह सैफुल्ला खान ने जीता.
80 किलो वर्ग के चंबल राईनो टाइटल में उदयपुर के विराट पंत ने गोल्ड मेडल हासिल किया.जयपुर के नरेन्द्र सिंह को सिल्वर मेडल मिला. 90 किलो वर्ग में चंबल महाबली टाइटल में सुरेश शर्मा को गोल्ड मेडल और जोधपुर के अजय को सिल्वर मेडल मिला.
महिला वर्ग के मुकाबलो में चंबल अग्नि टाइटल में दौसा की विनिता जोशी को गोल्ड मेडल औऱ जानवी मेहरा को सिल्वर मेडल जीता. चंबल ज्वाला में श्रीगंगानगर की निकिता बंसल ने गोल्ड मेडल और जयपुर की रोशनी गुप्ता ने सिल्वर मेडल जीता.
इसके अलावा चंबल योद्धा में गोल्ड मेडल कोटा की अरुंधति और सिल्वर मेडल जयपुर की कविता ने हासिल किया.गोल्ड मेडल विजेता को 31 हजार, सिल्वर मेडल 21 हजार रुपए का पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया.
15. राजस्थान में पहली बार किसानों को मिलेगा मिड टर्म इंश्योरेंस
राजस्थान में पहली बार किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मिड टर्म इंश्योरेंस मिलेगा. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के निर्देश पर बाढ़ से प्रभावित चार जिलों पाली, जालौर, सिरोही और बाड़मेर के किसानों को फसल बीमा का मिड टर्म लाभ दिया गया है.
मिड टर्म इंश्योरेंस का लाभ देने के लिए कृषि विभाग द्वारा 105 करोड़ 42 लाख रुपए की स्वीकृति जारी कर दी गई है और जल्दी ही प्रभावित किसानों के खातों में राशि पहुंचेगी.
कृषि मंत्री डॉ. प्रभुलाल सैनी का कहना है कि 50 प्रतिशत से ज्यादा खराबा वाली फसलों पर प्रीमियम की 25 प्रतिशत राशि का भुगतान किसानों को किया जा रहा है और क्रॉप कटिंग के बाद शेष राशि का भुगतान किसानों को किया जाएगा.
इन चारों में जिलों में खरीफ 2017 के तहत 15 लाख हैक्टेयर क्षेत्र में अतिवृष्टि से फसलें तबाह हुई हैं. तीन अलग-अलग बीमा कम्पनियों द्वारा इन जिलों में 10 लाख 62 हजार पॉलिसी की गईं थी. जिन्हें मिड टर्म इंश्योरेंस का लाभ मिल सकेगा.

16.चित्तौड़गढ में मीरा स्मृति संस्थान द्वारा आयोजित 28वें मीरा महोत्सव 
संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से भक्ति, शक्ति, त्याग और बलिदान की ऐतिहासिक नगरी चित्तौड़गढ में मीरा स्मृति संस्थान द्वारा आयोजित 28वें मीरा महोत्सव के प्रथम दिन गोराबादल स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम से समा बांध दिया. पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र उदयपुर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मणिपुर, असम, बंगाल, उड़ीसा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, उत्तराखण्ड के कलाकारों ने लोकनृत्य की प्रस्तुतियां दी. महोत्सव में जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह, सांसद सी.पी जोशी सहित अन्य जनप्रतिनिधि, हजारों लोगों ने नृत्य का आनंद उठाया.
17. अब 30 दिन में मंजूर होगा बिल्डिंग प्लान
राजस्थान के रियल एस्टेट कारोबारियों को बड़ी राहत देते हुए सरकार ने गुरुवार को बिल्डिंग प्लान की मंजूरी को लेकर बड़ा फैसला लिया है. अब एक दिन में भी बिल्डिंग प्लान की मंजूरी मिल सकेगी. मंदी के दौर में राज्य सरकार के इस फैसले से इंफ्रास्ट्रकचर के क्षेत्र को मजबूती मिलने की अब जनता को निकायों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे. मंदी के दौर से गुजर रहे रियल एस्टेट सेक्टर को बड़ी राहत देते हुए राज्य सरकान ने बड़ा फैसला लिय़ा है. सरकार के नए आदेशों के तहत अब बिल्डिंग प्लान को एप्रुवल का काम ऑनलाइन कर दिया गया है.
इन दोनों सिस्टमों के तहत 1 अक्टूबर से राज्य के निकायों को निर्देशित करते हुए बिल्डिंग प्लान्स की अनुमति किसी भी सूरत में निकाय को तीस दिवस में जारी करनी होगी. वहीं फास्ट ट्रेक एप्रुवल से महज एक दिन में बिल्डिंग प्लान की मंजूरी मिल सकेगी लेकिन फास्ट ट्रेक मंजूरी हेतू आवेदक से सामान्य आवेदन पर देय राशि का डेढ गुना अधिक राशि जमा करानी होगी. इसके लिए भारत सरकार द्वारा ट्रस्ट द्वारा आवेदन वेरिफाई होने के बाद बिल्डिंग प्लान्स को एप्रुवल मिल सकेगी.

18. बालाजी मन्दिर मे 47वें वार्षिक मेले का धूमधाम से समापन
श्रीगंगानगर में पदमपुर कस्बे के चानणा धाम मे बालाजी मन्दिर मे 47वें वार्षिक मेले का बड़ी धूमधाम से समापन हुआ. चानणाधाम मे 2 लाख से ज्यादा श्रदालुओं ने बाबा के दर्शन किए और अपनी मनोकामना पूरी होने की दुआ की. दूर दराज से काफी संख्या मे पैदल यात्री सहित लाखो श्रदालु चानना धाम पहुंचे


19. डांग विकास बोर्ड की बैठक, 293 करोड़ रुपए के निर्माण कार्यो का अनुमोदन

आधारभूत ढांचे के विकास के लिए सरकार ने 293 करोड़ रुपए के निर्माण कार्यों का अनुमोदन किया है.
मेवात एवं डांग क्षेत्र के आधारभूत ढांचे के विकास के लिए सरकार ने 293 करोड़ रुपए के निर्माण कार्यों का अनुमोदन किया है. ग्रामीण एवं विकास पंचायत राज मंत्री राजेंद्र सिंह राठौड़ की अध्यक्षता में सचिवालय में राज्य स्तरीय डांग विकास बोर्ड की अहम बैठक में यह निर्णय हुए.
ग्रामीण एवं विकास पंचायत राज मंत्री राजेंद्र सिंह राठौड़ ने बताया कि अलवर के लिए 90 करोड़ 81 लाख रुपए, भरतपुर जिले के लिए 71 करोड़ 20 लाख रुपए के लागत निर्माण कार्यो का अनुमोदन किया. इसी प्रकार क्षेत्र विकास योजना में 8 जिलों के लिए 76 करोड़ रुपए खर्च करने का अनुमोदन भी किया गया.
बैठक में मंत्री प्रभुलाल सैनी, बाबूलाल वर्मा के अलावा भरतपुर, अलवर, झालावाड, सवाईमाधोपुर, कोटा व करौली के जिलो कलेक्टर्स मौजूद रहे. बैठक में विधायक जगतसिंह व ज्ञानदेव आहूजा ने भाग लिया