आन्तरिक प्रवाह की नदियाँ

आन्तरिक प्रवाह की नदियाँ

 काकनेय/काकनी नदी 
 उद्गम- Jaisalmer के कोटड़ी गॉव से होता है!
 जैसलमेर मे बुझ झील को जल देने के पश्चात मीठा खाड़ी नामक स्थान पर विलुप्त हो जाती है!

 उपनाम 
 काकनेय,काकनी,मसुरदी।

 स्थानीय भाषा मे इसे मसुरदी नदी कहा जाता है । 

 

कांतली नदी 

उद्गम – सीकर जिले की खण्डेला पहाड़ियों से होता है ।
 सीकर मे बहने के पश्चात झुंझुनू मे बहती हुई मन्दरेला नामक स्थान पर विलुप्त हो जाती है

 यह नदी झुंझुनू जिले (Jhunjhunu district) को दो भागो मे बांटती है
 इसकी लम्बाई लगभग 100 किमी.है

 विशेष 
इस नदी का बहाव क्षेत्र तौहरावाटी कहलाता है 
 इस नदी पर गणेश्वर सभ्यता (नीम का थाना-सीकर) विकसित हुई ।
 गणेश्वर सभ्यता को ताम्र युगीन सभ्यता की जननी कहा जाता है ।
इस नदी पर झुंझुनू मे सुनारी सभ्यता विकसित हुई ।

 सागरमती नदी 
 उद्गम – अजमेर के बिसला तालाब से होता है ।
भांवता तथा पीसांगन मे बहती हुई Govindgarh नामक स्थान पर विलुप्त हो जाती है ।

रुपनगढ़ नदी
उद्गम- अजमेर के कुचिल नामक स्थान से होता है ।
अजमेर मे बहती हुई सांभर झील मे जल गिराती है!

विशेष- अजमेर मे इस नदी पर निम्बार्क सम्प्रदाय की प्रमुख पीठ सलेमाबाद स्थित है ।

साबी नदी
उद्गम- जयपुर की सेवर पहाड़ियों से होता है
यह जयपुर में सेवर पहाड़ियों से निकलकर अलवर जिले की बानसूर ,बहरोड, किशनगढ़ बास ,मंडावर व तिजारा तहसील में बहने के बाद हरियाणा में गुड़गांव जिले में कुछ दूर तक प्रवाहित होकर पटौदी  निकट उतरी भाग नफजगढ़ झील में समाप्त हो जाती है
यह अलवर जिले की सबसे बड़ी नदी है

मेन्था नदी
उद्गम- जयपुर के मनोहरपुरा थाना से होता है
जयपुर में बहने के पश्चात नागौर में बहती हुई सांभर झील में जल गिराती है

विशेष
नागौर में इस नदी पर लूणवा जैन तीर्थ स्थित है! 

रुपारेल नदी
उद्गम- अलवर के थानागाजी तहसील की उदयनाथ पहाड़ी से होता है
अलवर में बहने के पश्चात भरतपुर में बहती हुई विलुप्त हो जाती है

सहायक नदी
तालब्राक्ष, नरेनपुर, कालीघाटी, श्याम गंगा इत्यादि इसकी सहायक नदियां हैं!
इसे लसवारी नदी भी कहा जाता है
स्थानीय क्षेत्र ( Local area) में इसे बाराह भी कहा जाता है
विशेष
रतपुर में इस नदी के किनारे मोती झील (Moti jheel) स्थित है

जल प्रपात( Waterfall)
चूलिया जल प्रपात – भैसरोड़गढ़ (चंबल+बामनी नदी)
राजस्थान का सबसे ऊंचा जलप्रपात है 
मेनाल जल प्रपात (Menal waterfall) – Bhilwara
भीमलत जल प्रपात – Bundi (मांगली नदी)
अरना झरना जल प्रपात – Jodhpur (लूणी नदी)
दामोह जल प्रपात – Dholpur(Chambal river)

Specially thanks to Post and Quiz Creator ( With Regards )

थाना राम बोस