काव्यशास्त्र QUESTION 20

*1 वास्तविक काव्यलक्षण का प्रारंभ किस आचार्य
से होता है जिन्होंने शब्द और अर्थ के सहभाव
(शब्दार्थो सहितौ  काव्यम )को काव्य की संज्ञा दी है?*
अ भामह ✔
ब जगन्नाथ
स भरतमुनि
द शंकुक

2 शब्द अर्थ संगम सहित भरे चमत्कृत भाय जग अद्भुत में अद्भुतहिँ सुखदा काव्य बनाए पंक्ति है-?
अ भामह
ब ग्वाल कवि( रसिकानंद)✔
स रुद्रट
द जगन्नाथ

3प्रतिभा के दो भेद (सहजा और उत्पाद्या ) किसने किये-?
अ चंदशेखर
ब दण्डी
स रुद्रट ने✔
द कुंतक

4प्रतिभा को काव्य निर्माण का एकमात्र हेतु मानने  के कारण  किस आचार्य के प्रतिभावादी कहा जाता है-?
अ रुद्रट
ब शंकुक
स भामह
द पंडितराज जगन्नाथ ✔

5प्रतिभा के दो भेद  कारयित्री और भावयित्री किस आचार्य ने किए हैं-?
अ दण्डी
ब रुद्रट
स राजशेखर ✔
द भामह

6भावयित्री प्रतिभा किसमे होती है-?
अ कर्ता
ब सहदय् ✔
स अनुकरण
द दर्शक

7भारतीय काव्यशात्र में ‘भावक, से अभिप्राय है-?
अ श्रोता
ब दर्शक
स कर्ता
द सहदय् या आलोचक ✔

8शरीरं तावदिष्टार्थ व्यवच्छिन्ना पदावली” कथन किसका है-?
अ भामह
ब रुद्रट
स दण्डी का✔
द जगन्नाथ

9रीति सिद्धांत की उपलब्धि है-?
अ शौली को प्रधानता
ब शैली को सरल बनाना
स शैली तत्वों को महत्व देना ✔
द शैली को सही दिशा देना

10वामन के अनुसार गुण और रिति का संबंध है-?
अ अभेद✔
ब भेद
स दोनों
द कोई नही

11आचार्य कुंतक के अनुसार वक्रोक्ति के कितने भेद हैे?
अ 5
ब 6 ✔
स 7
द 8

12व्क्रोक्ति सिद्धांत की महत्वपूर्ण उपलब्धि है?
आ कलावाद की प्रतिष्ठा ✔
ब कलापक्ष
स कलाविद
द भाववाद का प्रभाव

13कव: कर्म काव्यम् ,(कवि का कर्म ही काव्य है )कथन किसका है?
अ भामह
ब शंकुक
स कुन्तक  ✔
द रुद्रट

14औचित्य विचार चर्चा ,ग्रंथ किस आचार्य का है?
अ कुंतक
ब भामह
स रुद्रट
द क्षेमेंद्र ✔

15क्षेमेंद्र के अनुसार औचित्य  के प्रधान भेद हैं?

अ 27✔
ब 28
स 29
द 30

16क्षेमेंद्र ने रस का प्राण किसे माना है-?
अ रस
ब औचित्य ✔
स छंद
द सभी

17ध्वन्यालोक, की टीका  ध्वन्यालोक लोचन किसने लिखी-?
अ भरतमुनि
ब जगन्नाथ
स चंदशेखर
द अभिनवगुप्त ✔

18ध्वनि सिद्धांत का प्रादुर्भाव ——–के  स्पोट सिद्धांत से हुआ है?
अ रस
ब छंद
स व्याकरण✔
द अलंकार

19वैयाकरण ने वाक् (वाणी) के कितने प्रकार माने है?
अ 2
ब 3
स 4✔
द 5

20आनन्दवर्धन का समय है?
अ 7वी शदी
ब 8 वी शदी
स 9 वीं शती का मध्य✔
द 10 वी शती का मध्य

21आनन्दवर्धन ने व्यंग्यार्थ  के तारतम्य के आधार पर काव्य के कितने भेद किये है?
अ 1
ब 2
स 3✔
द 4

22आनन्दवर्धन ने ध्वनि के कितने प्रकार माने है?
अ 1
ब 2
स 3✔
द 4

23आनंद वर्धन के अनुसार रीति के चार नियामक है?

अ वक्त्रोचित्य , वाच्योचित्य , विषयोचित्य , रसोचित्य✔
ब रसोचित्य, वाच्योचिट्य, छंदोचिट्य, विष्योचिट्य
स दोनो
द कोई नही

24अभिनव गुप्त ने ध्वनि के कितने भेद किए हैं?
अ 33
ब 34
स 35
द 36✔

25मम्मट ने  के ध्वनि के  शुद्ध भेदों की संख्या स्वीकार की है?
अ 48
ब 49
स 50
द 51✔

26पंडित राज जगन्नाथ काव्य के कितने भेद किए हैं?
अ 2✔
ब 3
स 4
द 5

27आचार्यो  ने व्यंग्यार्थ की प्रधानता गौणता एवं अभाव के आधार पर काव्य के कितने भेद किए हैं-?
अ 2
ब 3
स 4
द 5✔

28आधुनिक काल के प्रारंभिक समय में से सेठ कन्हैयालाल पौद्दार ने किस  नामक ग्रंथ की रचना की जो आगे चलकर रसमंजरी और अलंकार मंजरी के रुप में प्रकाशित हुआ-?
अ काव्यप्रकाश
ब काव्यकल्पद
स काव्यकल्पद्रम✔
द काव्यकल्पद्रुम

29ह्दय दर्पण नामक ग्रंथ की रचना किसने की-?
अ भरतमुनि
ब भट्टनायक ✔
स भट्टलोलल्लत
द अभिनवगुप्त

30हिंदी वक्रोक्ति जीवित् की भूमिका किसने लिखी?
अ शुक्ल
ब नगेंद्र ✔
स हजारी प्रसाद
द जगन्नाथ

31रस निरुपण के प्रथम व्याख्याता और रस निरुपण का प्रथम ग्रंथ किसे माना जाता है?
अ भामह  ,काव्यदर्श
ब भरतमुनि  नाट्यशास्त्र ✔
स जगन्नाथ काव्यप्रकाश
द रुद्रट काव्यशास्त्र

32भरत ने  कितने स्थाई भाव ,,सात्विक भाव,, संचारी भावों का उल्लेख किया है-?
अ 7-8-33
ब 8-8-33✔
स9-8-33
द 8- 7- 33


33किस आचार्य ने रीती को काव्य की आत्मा मान कर रस के गुण के अंतर्गत स्थान दिया है और कांति गुण का वर्णन करते हुए रस से युक्त माना है?
अ भामह
ब वामन✔
स रुद्रट
द भट्टनायक


34आचार्य रुद्रट ने शांत रस का स्थाई भाव किसे माना है?
अ सम्यक परीक्षा
ब सम्यक ज्ञान परीक्षा
स समयक ज्ञान ✔
द सम्यक शास्त्र

35रस को ध्वनि के साथ युक्त करने का श्रेय किसे है?
अ भरतमुनि
ब जगन्नाथ
स अभिनवगुप्त
द आनंद वर्धन ✔

36भोज ने 12 रसों का विवेचन किया है जिनमें चार नवीन है?
अ प्रेयस,शांत,उदात्त,उध्दत✔
ब शांत, भयानक, वीर, श्रंगार
स अद्भुत,वीर,श्रंगार,भक्ति
द प्रेयसी,शांत, उद्दात्त, उध्दत

37भोज ने रस का मूल  किसे माना है?
अ अहंकार
ब छंद
स रस✔
द अनुकर्ता

38वाक्य रसात्मक काव्यम् कथन किसका है?
अ भामह
ब विश्वनाथ ✔
स रुद्रट
द जगन्नाथ

39आचार्य शुक्ल ने काव्य की आत्मा किसे माना है?
अ रस✔
ब छंद
स अलंकार
द शब्द

40भट्टलोल्लक ने   रस की अवस्थिति किसमें मानी है?
अ अनुकर्ता
ब अनुकार्य ✔
स  श्रोता
द दर्शक

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top