प्रतापगढ़ प्रजामंडल आंदोलन

? प्रतापगढ़ में 1931-32 में स्वदेशी वस्त्र,खादी प्रचार और मद्यनिषेध का प्रचार-प्रसार कर जन जागृति फैलाई थी
?इसके लिए मास्टर रामलाल, राधावल्लभ सोमानी, रतन लाल के नेतृत्व में प्रतापगढ़ में आंदोलन किया गया
?इस आंदोलन को राजद्रोह की संज्ञादी गई और कई कार्यकर्ताओं को बंदीबना लिया गया
?प्रतापगढ़ में जन जागृति फैलाने का मुख्य कार्य अमृत लाल पायक ने किया था
?अमृत लाल पायक पेशे से वकील थे
?हरिजन उत्थान के लिए ठक्कर बप्पा की प्रेरणा से 1936में अमृत लाल पायक में प्रतापगढ़ में हरिजन पाठशालाकी स्थापना की थी
? यह पाठशाला राष्ट्रीय जागृति प्रसार का एक उत्तम साधन बन गई थी
?1938 में अमृत लाल पाठक ने गीत प्रचार समितिका गठन कर लोगों में जन जागृति फैलाई थी
?1942 के आंदोलन में प्रतापगढ़ने भी भाग लिया था
?इस संदर्भ में यहां आमसभाएं और हड़ताल हुई थी
?1945 में चुन्नी लाल प्रभाकर और अमृत लाल पायक के नेतृत्व में प्रतापगढ़ प्रजामंडल की स्थापना की गई
?अमृत लाल पायक ने राजपूताना और अखिल भारतीय देशी राज्य लोक परिषद से  संबंधस्थापित कर जन चेतना को व्यापक किया
?1947 को महारावल ने प्रतापगढ़ मे लोकप्रिय मंत्री मंडल के गठनकी घोषणा की
?2 मार्च 1948में प्रजामंडल के 2 प्रतिनिधि माणिक्य लाल और अमृत लाल पायक मंत्रिमंडल में ले लिए गए
?18 अप्रैल 1948 को प्रतापगढ भी  राजस्थान संघ का अंग बन गया
?1890 में रघुनाथसिंह प्रतापगढ़ के शासक बनें
?उन के समय सीता माता नामक स्थान को लेकर मेवाड़ और प्रतापगढ़ विरासत में विवाद उत्पन्न हुआ
?ब्रिटिश सरकार के हस्तक्षेप से 1891में यह विवाद समाप्त हुआ और सीता माता स्थान पर प्रतापगढ़ का नियंत्रण स्वीकार किया गया
?पड़ोसी रियासतों के कार्यकर्ताओं द्वारा प्रतापगढ़ स्टेट पीपुल्स कॉन्फ्रेंस की स्थापनाकी गई