भारतीय संविधान के विकास की सीढ़ियां बने ब्रिटिश अधिनियम

*1773 का रेगुलेटिंग एक्ट*➖
[?]  भारतीय संविधान के विकास की प्रक्रिया का *प्रारंभिक चरण 21 जून 1773 का रेग्यूलेटिंग एक्ट* के तहत माना जाता है यह अधिनियम तत्कालीन *ब्रिटिश प्रधानमंत्री लार्ड नार्थ* में स्वीकृत किया था
[?] इसके द्वारा कंपनी के शासन पर संसदीय नियंत्रण स्थापित किया गया
[?] बंगाल के गवर्नर को तीनों प्रसिडेन्सियो का गवर्नर जनरल नियुक्त किया गया
[?]  सन 1770 में *फोर्ट विलियम में कोलकाता में एपैक्स न्यायलय के रुप* में एक सुप्रीम कोर्ट की स्थापना की गई
[?] बंगाल में प्रथम गवर्नर जनरल की स्थापना की गई
[?] एक कार्यकारी परिषद का निर्माण किया गया जिसमें चार सदस्य एवं गवर्नर जनरल अध्यक्ष होता है
[?] इसे बहुमत से कार्य करना था
[?] बंगाल के प्रथम गवर्नर जनरल वारेन हैस्टिंग्स बने ,इन्होंने ही रेगुलेटिंग एक्ट पारित किया था
[?]  भारतीय प्रांतों के एकीकरण की प्रक्रिया प्रारंभ हुई

*1781 का एक्ट ऑफ सेटलमेंट*➖ 
[?] 1773 का रेग्यूलेटिंग एक्ट की कमियों को दूर करने के उद्देश्य से *एक्ट ऑफ सेटलमेंट 1781 पारित* ✍?  *1783 का फॉक्स इंडिया बिल*➖
[?]  इस बिल को *बर्क तथा फिलिप फ्रांसिस* ने तैयार किया था
[?]  यह बिल *हाउस ऑफ लॉर्डस* में पारित नहीं हो पाया
[?]  इस कारण लार्ड नार्थ तथा फाक्स कि सरकार को 18 दिसंबर 1783 को त्यागपत्र देना पड़ा
[?]  यह *पहला और अंतिम अवसर* था इतिहास में *जब कोई ब्रिटिश सरकार भारतीय मामले पर गिर* गई थी ✍? *1784 का पिट्स इंडिया एक्ट*➖
[?]  इस अधिनियम का यह नाम तत्कालीन *ब्रिटिश प्रधानमंत्री पीट* के नाम पर रखा गया
[?]  इस एक्ट का *उद्देश्य* ब्रिटिश संसद द्वारा कंपनी पर अपने प्रभाव को अधिक मजबूत करना था
[?] एक्ट के द्वारा दोहरे प्रशासन का प्रारंभ हुआ
[?]  *कोर्ट ऑफ डायरेक्टर्स*-व्यापारिक व्यापारिक मामलों के लिए
[?]  *बोर्ड ऑफ कंट्रोल*- राजनीतिक मामलों के लिए

*1793 का चार्टर एक्ट*➖
[?]  नियंत्रण मंडल के सदस्य व कर्मचारियों को वेतन भारतीय राजस्व से दिया जाने लगा
[?]  इस अधिनियम के तहत बंगाल में भू राजस्व की स्थाई बंदोबस्त प्रणाली का प्रारंभ किया गया

*1813 का चार्टर अधिनियम*➖ 
[?] इसके द्वारा कंपनी के अधिकार पत्र को 20 वर्षों के लिए बढ़ा दिया गया
[?] कंपनी के भारत के साथ व्यापार करने के एकाधिकार को छीन लिया गया
[?] किंतु उसे चीन के साथ व्यापार एवं पूर्वी देशो के साथ चाय के व्यापार के संबंध में 20 वर्षों के लिए एकाधिकार प्राप्त रहा
[?] कुछ सीमाओं के अधीन सभी ब्रिटिश नागरिकों के लिए भारत के साथ व्यापार खोल दिया गया
[?]  इस अधिनियम के तहत इसाई धर्म प्रचार को को भारत में इसाई धर्म प्रचार की अनुमति दी गई
[?]  इस अधिनियम के तहत एक लाख रुपए की धनराशि प्रतिवर्ष अलग से रखने का प्रावधान किया गया
[?] इस राशि का उपयोग भारतीय विद्वानों को प्रोत्साहन वह भारत में शिक्षा का प्रसार व पुनुरूत्थान के लिए किया जाना था

*1833 का चार्टर अधिनियम*➖
[?] इसके द्वारा कंपनी के व्यापारिक अधिकार पूर्णतः समाप्त कर दिए गए
[?] अब कंपनी का कार्य ब्रिटिश सरकार की ओर से केवल भारत का शासन करना रह गया
[?] बंगाल के गवर्नर जनरल को *भारत का गवर्नर जनरल* कहा जाने लगा
[?]  *लार्ड विलियम बेंटिक* भारत का प्रथम गवर्नर जनरल बना
[?] भारतीय कानूनों का वर्गीकरण किया गया
[?] इस कार्य के लिए *मैकाले की अध्यक्षता में 1835 में पहले विधि आयोग* की नियुक्ति की व्यवस्था की गई
[?] भारतीय कार्यकारणी में विधि सदस्य जोड़ा गया
[?]  गवर्नर जनरल की परिषद में एक कानूनी सदस्य को चौथे सदस्य के रुप में शामिल किया गया लार्ड मेकाले गवर्नर जनरल की परिषद में प्रथम विधि सदस्य बने
[?] पहले *विधि सचिव लार्ड मेकाले*थे
[?]  इस अधिनियम के तहत *भारत में दासतां*को अवैध घोषित किया गया
[?]  *बोर्ड ऑफ कंट्रोल* के प्रधान को भारतीय मामलों का मंत्री बनाया गया
[?]  गवर्नर जनरल द्वारा पारित सभी कानून अधिनियम कहे जाने लगे

 *1853 का चार्टर एक्ट*➖
[?]  किस अधिनियम के द्वारा सेवाओं में *नामजदगी का सिद्धांत* समाप्त कर कंपनी के महत्वपूर्ण पदों का प्रतियोगी परीक्षाओं के आधार पर बनने की व्यवस्था की गई
[?]  इस ऐक्ट में *कार्यपालिका तथा विधायी शक्तियों* को पहली बार अलग किया गया था संपूर्ण भारत के लिए पहली बार एक अलग *विधान परिषद* की स्थापना की गई थी
[?]  विधि सदस्य को गवर्नर जनरल की कार्यकारिणी का पूर्ण सदस्य बना दिया गया
[?]  बंगाल प्रेसीडेंसी के लिए अलग से *लेफ्टिनेंट गवर्नर* की नियुक्ति की गई
[?]  प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए *1854 में लार्ड मेकाले की अध्यक्षता*में एक समिति बनाई गई
[?]  मंडलों की संख्या *24 से घटाकर 18* कर दी गई

 *1858 का भारत शासन अधिनियम*➖ 
[?]  1857 की असफल क्रांति के पश्चात ब्रिटिश सरकार ने 1858 का अधिनियम पारित किया
[?] भारत का शासन कंपनी से लेकर ब्रिटिश क्राउन के हाथों में सौंपा गया
[?] भारत में मंत्रिपरिषद व्यवस्था की गई
[?] 15 सदस्य की भारत परिषद का सृजन हुआ इसका अध्यक्ष भारत राज्य सचिव कहलाया
[?]  *सर चार्ल्स वुड* प्रथम भारतीय सचिव या भारत मंत्री बने
[?] भारतीय मामलों पर ब्रिटिश संसद का सीधा नियंत्रण स्थापित किया गया  [?]  1784 का पिट्स इंडिया एक्ट द्वारा लागू दोहरी शासन प्रणाली को समाप्त कर दिया गया
[?]  भारत सचिन ब्रिटिश मंत्रीमंडल का सदस्य होता था वह ब्रिटिश संसद के प्रति उत्तरदायी था उसके वेतन और भत्ते भारत के राजस्व से दिए जाते थे यह वेतन व्यवस्था 1919 के अधिनियम तक जारी रही [?]

 [?] 1858 की विक्टोरिया घोषणा [?] * ➖
[?]  गवर्नर जनरल को *द वायस राय ऑफ इंडिया का पद नाम* भी दिया गया एक ही व्यक्ति गवर्नर जनरल और वायसराय होता था *ब्रिटिश शासन संभालता था तो गवर्नर जनरल*और भारत के राजाओं के साथ बिटिश काम के प्रतिनिधि के रूप में कार्य करता तो वह वायसराय कहलाता था
[?] 1 नवंबर 1858 को इलाहाबाद में आयोजित दरबार में *लॉर्ड कैनिंग ने ब्रिटिश महारानी विक्टोरिया की उद्घोषणा*को पढा इसके द्वारा भारत में कंपनी का शासन समाप्त हो भारत का शासन सीधे क्राउन के अधीन कर दिया गया
[?]  1858 के अधिनियम का *प्रमुख उद्देश्य*-प्रशासनिक मशीनरी में सुधार लाना तथा इसके माध्यम से इंग्लैंड में भारतीय सरकार की देखरेख और उसका नियंत्रण करना

*1861 का भारत परिषद अधिनियम*➖
[?]  *1857 की महान क्रांति*के बाद ब्रिटिश सरकार ने महसूस किया कि भारत में शासन चलाने के लिए भारतीय पर सहयोग आवश्यक है इस निति के तहत *ब्रिटिश संसद ने 1861 1892 और 1909 मे अधिनियम पारित*किए इसमे *1861का भारतीय परिषद अधिनियम* भारतीय *संवैधानिक व राजनीतिक इतिहास* में एक महत्वपूर्ण अधिनियम बना
[?]  इस अधिनियम ने *भारत में प्रतिनिधि संस्थाओं* को जन्म दिया
[?]  इसके द्वारा कानून बनाने की प्रक्रिया में *भारतीय प्रतिनिधियों* को शामिल करने की शुरुआत की गई
[?] लार्ड केनिंग ने 1861 में *3 भारतीयों बनारस के राजा, महाराजा पटियाला और सर दिनकरराव* को विधान परिषद में मनोनीत किया गया
[?] मुंबई व मद्रास प्रेसिडेंसी की विधायी शक्तियों को पुनः वापस कर *विकेंद्रीकरण की प्रक्रिया प्रारंभ* की गई
[?] इस अधिनियम ने रेगुलेटिंग एक्ट 1773 द्वारा शुरू हुई *केंद्रीकरण की प्रवृत्ति*को बदल दिया
[?]  *पोर्टफोलियो*व्यवस्था को इसने वैधानिक मान्यता प्रदान की
[?] इसरे तहत  बंगाल,उत्तर पश्चिमी सीमा प्रांत और पंजाब में क्रमशः 1862 1866 और 1897 में *विधान परिषद का गठन* हुआ
[?] इसमें लार्ड केनिंग द्वारा 1859 में प्रारंभ की गई *मंत्रालय प्रणाली* को भी मान्यता दी
[?] इसने वायसराय को आपातकाल में बिना कौंसिल की संस्तुति के अध्यादेश जारी करने के लिए अधिकृत किया
[?]  वायसराय की कार्यकारिणी परिषद को *इंपीरियल लेजिस्लेटिव कौंसिल* कहा जाने लगा
[?] ऐसा अध्यादेश की अवधि मात्र 6 माह होती थी
[?] 1882 में लार्ड रिपन ने *स्थानीय स्वशासन* आरंभ किया

 * [?] 1892 का अधिनियम [?] *➖
[?]  यह अधिनियम 1861 के अधिनियम का एक संसोधनात्मक विधेयक था
[?]  व्यवस्थापिका में प्रतिबंधित सीमित एवं अप्रत्यक्ष रुप से निर्वाचित सदस्यों सदस्यों का प्रावधान किया गया
[?]  इस अधिनियम का सबसे महत्वपूर्ण बिंदु *निर्वाचन पद्धति प्रारंभ* करना था
[?]  इस अधिनियम के द्वारा सदस्य को व्यवस्थापिकाओ में बजट पर विचार विमर्श करने,प्रश्न पूछने का अधिकार दिया गया
[?]  इस अधिनियम को *संसदीय व्यवस्था का प्रारंभ* कहा जा सकता है
[?]  अधिनियम के तहत *कौन्सीलों मे तीन प्रकार के सदस्य*की व्यवस्था की गई

*1909 का अधिनियम*➖
[?]  यह अधिनियम *भारत सचिव मार्ले तथा गवर्नर जनरल मिण्टो* द्वारा तैयार किया गया था
[?]  1906 लॉर्ड मिंटो ने *सर ए.एरूण्डेल* की अध्यक्षता में एक समिति नियुक्त कर उस समिति के आधार पर मार्ले मिंटो सुधार अधिनियम पारित किया
[?]  इसलिए इस अधिनियम को *मार्ले -मिंटो सुधार अधिनियम* के नाम से भी जाना जाता है
[?]  केंद्रीय तथा प्रांतों की *व्यवस्थापिकाओ की सदस्य संख्या* बढ़ा दी गई
[?]  पहली बार *जाति वर्ग धर्म*के आधार पर अलग निर्वाचन क्षेत्र बनाने का प्रावधान रखा गया
[?]  इस अधिनियम द्वारा *सांप्रदायिक निर्वाचन प्रणाली*की स्थापना की गई
[?]  मुसलमानों के लिए अलग निर्वाचन क्षेत्र बनाए गए
[?]  इस अधिनियम के कारण *लॉर्ड मिंटो को सांप्रदायिक निर्वाचक मंडल के जनक* के रूप में जाना गया
[?] इसके अलावा प्रेसीडेंसी कारपोरेशन यूनिवर्सिटी चेंबर ऑफ कॉमर्स तथा जमीदारों के लिए भी अलग प्रतिनिधित्व की व्यवस्था की गई
[?]  व्यवस्थापिका सदस्य को पूर्ण प्रश्न पूछने का भी अधिकार दिया गया
[?]  पहली बार किसी *भारतीय* को वायसराय और गवर्नर की कार्यकारी परिषद में शामिल करने का प्रावधान किया गया
[?]  *सत्येंद्र प्रसाद सिन्हा* वायसराय की कार्य पालिका परिषद के *प्रथम भारतीय सदस्य* बने *इन्हें विधि सदस्य* बनाया गया
[?]  पहली बार औपचारिक रुप से *विधानमंडल का सिद्धांत*1909 के अधिनियम में प्रस्तुत किया गया
[?]  1909अधिनियम की सबसे *बड़ी विशेषता व दोष मुसलमानों के लिए अलग निर्वाचन मंडल और अलग मताधिकार* था इसके कारण मुस्लिमों को दोहरे मताधिकार दिए गए
[?]  इस अधिनियम में निर्वाचन मंडलों को तीन भागों में बांटा *1सामान्य ,2वर्गीय और 3विशिष्ट वर्ग*
[?]  1907 में भारत सचिव की भारत परिषद में *दो भारतीयों सैयद हुसैन बिलग्रामी और के जी गुप्ता* को नियुक्त किया गया
[?] 20 अगस्त 1916 को मोंटेग्यू द्वारा की गई घोषणा*
[?]  भारत के सचिव मोंटेग्यू ने 20 अगस्त को यह घोषणा की इस में पहली बार ब्रिटिश सरकार ने स्वीकार किया कि *उसका उद्देश्य भारत में उत्तरदायी शासन प्रणाली की क्रमिक स्थापना*करना है
[?]  ब्रिटिश सरकार ने *पहली बार भारत के लिए उत्तरदायी शासन* शब्दों का प्रयोग किया

 *भारत सरकार अधिनियम 1919*➖
[?]  इस अधिनियम को *मोंटेग्यू चेम्सफोर्ड सुधार अधिनियम* के नाम से भी जाना जाता है
[?]  *मोंटेग्यू तत्कालीन भारत सचिव व चेम्सफोर्ड भारत के तत्कालीन वायसराय और गवर्नर जनरल* थे
[?]  1919 के अधिनियम का तात्कालिक कारण *वर्ष 1916 का होमरूल आंदोलन और मेसोपोटामिया कमीशन की रिपोर्ट*थी
[?]  20 अगस्त 1916 को ब्रिटिश सरकार ने *पहली बार घोषित किया कि उसका उद्देश्य भारत में उत्तरदायी* सरकार की स्थापना करना है
[?]  *23 दिसंबर 1919* को भारत सरकार अधिनियम पारित किया गया
[?]  1919 के अधिनियम में द्धैध शासक का जनक लियोनीस कार्टिस था
[?] द्धैध शासन का सूत्रपात *1 अप्रैल 1921* को 8 प्रांतों बंगाल बिहार असम सहित प्रांत मध्य प्रांत पंजाब बंबई और मद्रास में हुआ यह शासन व्यवस्था वर्ष 1937तक चली
[?]  *ली आयोग* की सिफारिश पर 1926 में सिविल सेवकों की भर्ती के लिए केंद्रीय लोकसेवा आयोग का गठन किया गया
[?]  पहली बार केंद्रीय बजट को राज्य के बजट से अलग कर दिया गया
[?]  प्रांतीय विधान परिषद की सदस्य संख्या में वृद्धि की गई *प्रांतों में अधिकतम 140 तथा छोटे प्रांतों में न्यूनतम 60* सदस्य रखने की व्यवस्था की गई
[?]  प्रांतीय सूची को दो भागों में विभाजित किया गया *पहला*- 1 *हस्तांतरित विषय*- हस्तांतरित विषयों में स्थानीय स्वशासन शिक्षा अस्पताल उद्योग तथा कृषि थे इसका प्रशासन गवर्नर अपनी भारतीय मंत्रियों की सहायता से करता था
[?]  *दूसरा*- *आरक्षित विषय*-जो विषय गवर्नर के प्रति उत्तरदायी कार्यकारिणी के सदस्य के पास रहे उन्हें आरक्षित विषय कहा इसका प्रशासन गवर्नर अपनी कार्यकारिणी के सदस्य के द्वारा करता था
[?]  1919 के अधिनियम को *भारत के संवैधानिक इतिहास में प्रतिनिध्यात्म शासन के विकास*का एक महत्वपूर्ण चरण माना गया है
[?]  इस अधिनियम द्वारा द्वारा प्रांतों में उत्तरदायी सरकार की स्थापना का प्रयास किया गया
[?]  *नरेश/नरेंद्र मंडल* के गठन का निर्णय लिया गया
[?] इसकी स्थापना *8 फरवरी 1921 को दिल्ली*में की गई
[?]  नरेंद्र मंडल में 121 देश की राज्य सदस्य थे
[?]  मंडल का अध्यक्ष वायसराय था तथा *प्रथम चांसलर बीकानेर के महाराजा गंगा सिंह*
[?] यह मंडल देशी राज्य की समस्याओं से सरकार को अवगत कराता था
[?]  भारत के सैनिक व सैनिक प्रशासन के लिए भारी मात्रा में साजो सामान की खरीद-फरोख्त हेतु लंदन में *एक हाई कमिश्नर*की नियुक्ति की व्यवस्था की गई
[?]  *प्रथम हाई कमिश्नर की नियुक्ति 1920* में की गई जो एक अंग्रेज था बाद के सभी हाई कमिश्नर भारतीय ही थे
[?]  इस अधिनियम मैं *एक प्रस्तावना*भी ली गई थी

*1935 का भारत सरकार अधिनियम*➖
[?]  संवैधानिक सुधारों की श्रृंखला में यह ब्रिटिश शासन का *अंतिम अधिनियम* था
[?]  यह अधिनियम *अपरिभाषित और अस्पष्ट अधिनियम* था इस अधिनियम की कोई भूमिका लिखी हुई नहीं थी
[?]  इस अधिनियम में *प्रस्तावना का अभाव* था
[?]  यह *अधिनियम 1932* में बनकर तैयार हुआ था यह *एक श्वेत पत्र*पर आधारित था
[?]  अधिनियम भारत में पूर्ण उत्तरदायी सरकार के गठन में *एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर*साबित हुआ
[?]  यह अधिनियम एक लंबा विस्तृत दस्तावेज था
[?]  सभी नियम में *451 धारा है और 15 परिशिष्ट*थे
[?]  इस अधिनियम में *ब्रिटिश संसद की सर्वोच्चता*थी इस अधिनियम में किसी भी प्रकार का परिवर्तन ब्रिटिश संसद के पास था
[?]  इस अधिनियम द्वारा *सांप्रदायिक निर्वाचन पद्धति*का विस्तार किया गया इस का विस्तार आग्ल भारतीय, भारतीय,ईसाइयो, यूरोपियनों और हरिजनों के लिए भी किया गया
[?]  इसके द्वारा *बर्मा को भारत स*े अलग कर दिया गया और एक अलग संविधान का निर्माण किया गया
[?]  *अदन को इंग्लैंड के औपनिवेशिक कार्यालय* के अधीन कर दिया गया और *बरार को मध्य प्रांत*में शामिल कर लिया गया
[?]  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया तथा संघीय रेलवे प्राधिकरण की स्थापना की गई
[?]  उड़ीसा तथा सिंध प्रांत सृजित किए गए
[?]  1935 के अधिनियम द्वारा अखिल भारतीय संघ की व्यवस्था की गई इसका निर्माण 11 ब्रिटिश प्रांतों 6 चीफ कमिश्नर के क्षेत्रों और स्वेच्छा से शामिल होने वाली देशी रियासतों को मिलाकर किया जाना था
[?]  इस अधिनियम में संघ लोक सेवा आयोग की सिफारिश की गई
[?]  *प्रांतीय स्वतंत्रता* 1935 के अधिनियम की प्रमुख विशेषता  थाी इस अधिनियम का *एकमात्र यही भाग ऐसा था जिसे क्रियान्वित*  किया गया था
[?]  केंद्रीय और प्रांतीय विधान मंडलों में विस्तार करके केंद्र में उच्च सदन के सदस्य की संख्या 207 और निम्न सदन के सदस्य की संख्या 375 कर दी गई
[?]  11 गवर्नर वाले प्रांतों के विधानमंडल में से *छ:विधानमंडल द्विसदनात्मक* कर दिए गए थे सिर्फ *पांच प्रांतों के विधानमंडल* एक सदनात्मक से
[?]  प्रान्तीय विधान मंडल के *उच्च सदन को विधान परिषद और निम्न सदन को विधानसभा कहते*हैं उत्तर पश्चिमी सीमा प्रांत जैसे छोटे प्रांतों की विधान सभा के सदस्य की अधिक अधिकतम संख्या 50 और उत्तर प्रदेश जैसे बड़े प्रांतों की अधिक अधिकतम संख्या 250 निश्चित की गई है
[?]  इस अधिनियम ने *भारत परिषद*को समाप्त को दिया गया
[?]  ब्रिटिश प्रांतों की संख्या 11 कर दी गई थी
[?]  पंडित जवाहरलाल नेहरू के अनुसार यह *अधिनियम ऐसा इंजन था जिसके चारों ओर ब्रेक्स* थे
[?]  पंडित जवाहरलाल नेहरू ने इसे *दास्तां के घोषणापत्र* की संज्ञा दी
[?]  *मदन मोहन मालवीय के अनुसार यदि अधिनियम हम पर थोपा गया*है बाहर से यह कुछ जनतंत्र शासन व्यवस्था से मिलता-जुलता है परंतु भीतर से खोकलाहै
[?] प्रो. कूपलैण्ड ने1935 के अधिनियम को *रचनात्मक राजनीतिक विचार*की एक महान सफलता बताया है
[?]  *ब्रिटिश राजनीतिज्ञ एटली* ने अधिनियम में आरक्षण व संरक्षण की व्यवस्था के कारण इसे *अविश्वास का प्रतिक कहा* है

*भारतीय स्वतन्त्रता अधिनियम1947*➖
[?]  3 जून 1947 को प्रस्तुत की गई *माउंटबेटन योजना*के आधार पर बिटिश संसद ने *4/5 जुलाई 1947*को भारत स्वतंत्रता अधिनियम पारित कर दिया
[?]  18 जुलाई 1947 को सम्राट द्वारा अनुमति प्रदान कर दी गई और *15 अगस्त 1947*को यह लागू कर दिया गया
[?]  इस अधिनियम  में *20 धाराएं*थी
[?]  इस अधिनियम द्वारा *देसी रियासतों*पर ब्रिटेन की सर्वोच्चता का अंत कर दिया गया उनको भारत या पाकिस्तान किसी भी अधिसत्ता में सम्मिलित होने और अपने पारिवारिक संबंधों का निश्चय करने की स्वतंत्रता प्रदान की गई
[?]  जब तक *संविधान सभा द्वारा नया संविधान* बनकर तैयार नहीं हो जाता है तब तक *1935 भारतीय शासन अधिनियम* ही जारी रहेगा
[?]  15 अगस्त 1945 से *2 डोमिनियन राज्य भारत और पाकिस्तान*की स्थापना की गई
[?]  दोनों डोमिनियन राज्य की सीमा *सीमा आयोग* द्वारा निर्धारित की जाएगी
[?]  राज्य की सीमा निर्धारण के लिए *दो सीमा आयोग* गठित किए गए हैं जिनके *अध्यक्ष सर सिरिल रैडक्लिफ* है
[?]  2,9 राज्य के लिए वायसराय के पद को समाप्त कर दिया गया है और दोनों राज्य के लिए ब्रिटिश सरकार प्रथक प्रथक और यदि दोनों सहमत हो तो सयुक्त गवर्नर जनरल नियुक्त किया गये
[?]  दोनों राज्य अपनी अपनी संविधान सभा में अपने देश के लिए संविधान का निर्माण कर सकते हैं उन्हें ब्रिटिश कॉमनवेल्थ से प्रथक होने का अधिकार होगा
[?]  15 अगस्त 1947 के बाद ब्रिटिश सरकार दोनों राज्यों पर कोई भी नियंत्रण नहीं रखेगी
[?]  का राजा अब भारत का शासक नहीं होगा
[?]  15 अगस्त 1947 से पूर्व नियुक्त सिविल सेवकों की सेवाएं इसके बाद भी बनी रहेगी तथा वह सभी लाभ प्राप्त करने के अधिकारी होंगे जो उन्हें अभी तक प्राप्त है
[?]  15 अगस्त 1947 के बाद अब इन राज्य तथा उनके प्रांतों पर ब्रिटिश सरकार की पदवी से *भारत सम्राट* शब्द को हटा दिया गया इन नवीन  अधिराज्यों के साथ ब्रिटिश सरकार के संबंधों को संचालित करने का दायित्व *औपनिवेशिक विभाग*को सौंप दिया गया
[?]  इस अधिनियम के अनुसार 14 अगस्त 1947 को पाकिस्तान और 15 अगस्त 1947 को भारत को आजादी प्राप्त हुई *मोहम्मद अली जिन्ना पाकिस्तान के और लार्ड माउंटबेटन भारत वर्ष के गवर्नर* जनरल बने
[?]  इस अधिनियम में *माउंटबेटन योजना को विधिक रुप*प्रदान किया
[?] ब्रिटिश शासन को समाप्त करके *भारत की स्वतंत्रता* की घोषणा की गई
[?] इस अधिनियम में *राष्ट्रीय आंदोलन* को स्वतंत्रता की परिणति तक पहुंचाया
[?]  *अधिनियम का सबसे बड़ा दोष* भारत को दो भागों में विभाजित करना था
[?] भारत को दो टुकड़ों में ही नहीं बांटा बल्कि *कई रियासतों में भी विभाजित*कर दिया गया
[?]  अधिनियम से देशी *रियासतों के एकीकरण की समस्या*बढ़ गई थी 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.