भारत की स्थिति और सीमाएं(India’s locations and borders)

भारत की स्थिति और सीमाएं

(India’s locations and borders)

भारत की पृष्ठभूमिImage result for india

भारत की भौगोलिक स्थिति

 भारत दक्षिण एशिया में स्थितभारतीय उपमहाद्वीप का सबसे बड़ा देश है। पूर्ण रूप से उत्तरी गोलार्ध में स्थित भारत, भौगोलिक दृष्टि से विश्व में सातवाँ सबसे बड़ा और जनसंख्या के दृष्टिकोण से दूसरा सबसे बड़ा देश है। भारत के पश्चिम मेंपाकिस्तान, उत्तर-पूर्व में चीन, नेपाल और भूटान, पूर्व में बांग्लादेश और म्यान्मार स्थित हैं। हिन्द महासागर में इसके दक्षिण पश्चिम में मालदीव, दक्षिण में श्रीलंकाऔर दक्षिण-पूर्व में इंडोनेशिया से भारत की सामुद्रिक सीमा लगती है। इसके उत्तर की भौतिक सीमा हिमालयपर्वत से और दक्षिण में हिन्द महासागर से लगी हुई है। पूर्व में बंगाल की खाड़ी है तथा पश्चिम में अरब सागर

अवस्थिति एवं विस्तार
भारत की निरपेक्ष अवस्थिति 08° 04′ उ. से 37° 06’उ. अक्षांश तक और 68° 07′ पू. से 97° 25′ पू. देशान्तर के मध्य है। इसकी उत्तर से दक्षिण लम्बाई 3,214 किमी और पूर्व से पश्चिम चौड़ाई 2933 किमी है। इसकी स्थलीय सीमा की लम्बाई 15,200 किमी तथा समुद्र तट की लम्बाई 7516.6 किमी है। कुल क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किमी है। भारत की स्थलीय सीमा उत्तर-पश्चिमी में पाकिस्तान और अफगानिस्तान से लगती है, उत्तर मेंतिब्बत (अब चीन का हिस्सा) और चीन तथा नेपालऔर भूटान से लगी हुई है और पूर्व मे बांग्लादेश तथाम्यांमार से। बंगाल की खाड़ी में स्थित अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह और अरब सागर में स्थितलक्षद्वीप, भारत के द्वीपीय हिस्से हैं। इस प्रकार भारत की समुद्री सीमा दक्षिण-पश्चिम में मालदीव दक्षिण में श्री लंका और सुदूर दक्षिण-पूर्व में थाइलैंड और इंडोनेशिया से लगती है। पाकिस्तान, बांग्लादेश और म्यांमार के साथ भारत की स्थलीय सीमा और समुद्री सीमा दोनों जुड़ी हैं।

भारत का सबसे उत्तरी बिंदु इंदिरा कॉल’ उत्तरी अक्षांस) और सबसे दक्षिणी बिंदु इंदिरा प्वाइंट(06°04′ उत्तरी अक्षांस) तथा सबसे पूर्वी बिंदु किबिथू (अरुणाचल प्रदेश में) और सबसे पश्चिमी बिंदु सिर्क्रिक (गुजरात) है। मुख्य भूमि का सबसे दक्षिणी बिंदु कन्याकुमारी (तमिलनाडु) है। उत्तरतम बिंदु इंदिरा कॉल का नामकरण इसके खोजी बुलक वर्कमैन ने 1912 में भारतीय देवी लक्ष्मी के एक नामइंदिरा के आधार किया और इसका इंदिरा गाँधी से कोई संबंध नहीं है

भारत का नामांकरण

भारत –

यह नाम आर्य जाति के लोगों द्वारा दिया गया नाम है क्योंकि प्राचीन काल में आर्य की एक शाखा भरत ने अनार्यों पर अपना प्रभुत्व स्थापित किया था उसी के आधार पर हमारे देश का नाम भारत पड़

हिंदुस्तान

यह नाम ईरानियों (पारसियों) द्वारा दिया गया है इस संदर्भ में दो तथ्य उल्लेखित हैं

1- प्राचीन काल में भारत तथा ईरान के मध्य हिंदू कुश पर्वत द्वारा सीमा का निर्धारण किया जाता था और प्राचीन भारत की सीमा का प्रारंभ हिंदू कुश पर्वत से होता था इसी आधार पर हिंदू कुश पर्वत के पूर्वी भाग को ईरानियों द्वारा हिंदुस्तान कहा गया

2. ईरानी (पारसी) लोग (वैदिक आर्य) सिंधु नदी को हिंदू नदी तथा सिंधु नदी क्षेत्र को हिंदुस्तान कहते थ

इंडिया
यह नाम यूनानी (ग्रीक -लैटीन) के द्वारा दिया गया है क्योंकि यह यूनानी सिंधु नदी को इंडस नदी कहते थे और जिस स्थान पर इंडस नदी बहती है उसे इंडिया कहा जाता है

भारत की आकृति

भारत की आकृति पूर्ण रुप से त्रिभुजाकार न हो कर चतुष्कोणीय है स्ट्रेबो नामक भूगोलवेत्ता ने भारत को पतंगाकार कहा

भारत की स्थिति

भारत दक्षिण एशिया में केंद्रीय मध्यवर्ती स्थान रखता है भारत भूमध्य रेखा के उत्तर पूर्व दिशा में स्थित है अर्थात अक्षांशीय दृष्टि से भारत उत्तरी गोलार्ध में स्थित है जबकि देशांतरीय दृष्टि से पूर्वी गोलार्ध में स्थित है
नॉट- पूर्वी गोलार्ध में भारत मध्यवर्ती स्थिति रखता है

 

भारत की पड़ोसी देशों के साथ सीमाए

पाकिस्तान
भारत व पाकिस्तान के मध्य लगने वाली सीमा को रेडक्लिफ रेखा कहा जाता है इसकी कुल लंबाई 3323 किलोमीटर है इस सीमा से लगने वाले भारत के 4 राज्य हैं जिन का क्रम दक्षिण से उत्तर गुजरात, राजस्थान, पंजाब व जम्मू कश्मीर है
नोट- LOC ( लाइन ऑफ़ कण्ट्रोल) यह नियंत्रण रेखा जम्मू कश्मीर को दो भागो में बाटती PAK अधिकृत कश्मीर व कश्मीर

अफगानिस्तान
पाकिस्तान व अफगानिस्तान के मध्य लगने वाली सीमा को डूरंड रेखा कहा जाता है पाक अधिकृत कश्मीर से लगने वाली इस सीमा की कुल लंबाई 106 किलोमीटर है

चीन
चीन से लगने वाली भारत की सीमा को मैकमोहन रेखा कहा जाता है चीन की सीमा पर स्थित भारत के राज्य – जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश स्थित ह इस सीमा की कुल लंबाई 3488 किलोमीटर है
नोट – LAC ( लाइन ऑफ़ एक्चुअल कंट्रोल) चीन व भारत के जम्मू कश्मीर के मध्य सीमा रेखा

नेपाल
नेपाल व भारत के मध्य 1751 किलोमीटर लंबी सीमा लगती है जिस पर उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, व सिक्किम स्थित है

भूटान
भूटान व भारत के मध्य 699 किलोमीटर अंतरराष्ट्रीय सीमा है जिस पर भारत के 4 राज्य पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम व अरुणाचल प्रदेश हैं

म्यांमार
म्यांमार और भारत के मध्य 1643 किलोमीटर लंबी अंतर्राष्ट्रीय सीमा है जिस पर भारत के चार राज्य अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड ,मणिपुर व मिजोरम स्थित हैं

बांग्लादेश
भारत के सभी पड़ोसी देशों में सर्वाधिक लंबी स्थलीय सीमा बांग्लादेश के साथ लगती है जिसकी कुल लंबाई 4096 किलोमीटर है इस पर भारत के पांच राज्य स्थित हैं पश्चिम बंगाल, असम, मेघालय, त्रिपुरा व मिजोरम

नोट – जम्मू कश्मीर, सिक्किम व पश्चिम बंगाल भारत के तीन ऐसे राज्य हैं जो 3 देशों के साथ सीमा बनाते हैं
नोट- सिक्किम भारत का ऐसा राज्य है जो भारत के एक ही राज्य पश्चिम बंगाल से सीमा बनाता है जबकि त्रिपुरा एक ऐसा राज्य है जो तीन ओर से एक ही देश बांग्लादेश गिरा हुआ ह

चैनल /जलसंधि / जलडमरूमध्य
दो द्वीपों के मध्य संकीर्ण सकरा जल भाग जो स्थल खण्ड को पृथक करता और जल भाग को जोड़ने का कार्य करता ह चैनल /जलसंधि / जलडमरूमध्य कहलाता है

हिंद महासागर के प्रमुख चैनल

अंडमान को निकोबार से पृथक करता है -10 डिग्री चैनल
मालदीव को मिनीकाय से पृथक करने वाला चैनल – 8 डिग्री चैनल
निकोबार द्वीप समूह को इंडोनेशिया से पृथक करने वाला चैनल-
म्यांमार व कोको द्वीप के मध्य स्थिति चैनल – कोको चैनल
भारत को श्रीलंका से पृथक करने वाली जलसंधि पाक जलडमरूमध्य व मन्नार की खाड़ी है

 

धन्यवाद साथीयो

सुभाष शेरावत
निदेशक – विराट क्लासेज चौमुं
( जयपुर )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.