व्यक्तित्व (Personality)

व्यक्तित्व (Personality)

Personality शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा के Persona शब्द से हुई हैं, जिसका अर्थ हैं – ” मुखौटा ” ।

 प्राचीन समय में बाहरी रूप रेखा के आधार पर व्यक्तित्व को परिभाषित किया जाता था । लेकिन आज परिभाषा बदल चुकी है

 वर्तमान समय मे बाहरी व आंतरिक गुणों के समावेश को व्यक्तित्व कहाँ जाता हैं ।

 ” व्यक्तित्व उन मनोदैहिक व्यवस्थाओं का गत्यात्मक संगठन है जो वातावरण के साथ समायोजन स्थापित कर लेता हैं ” – अॉलपोर्ट ।

 व्यक्तित्व का वर्गिकरण – पाश्चात दृष्टिकोण से :-

 1. क्रेश्चर ( क्रेश्मर ) के अनुसार – क्रेश्चर ने शारिरिक संरचना के आधार पर पहला वर्गिकरण किया हैं :- 
(अ) स्थूलकाय – नाटे व्यक्ति
(ब) सुडौलकाय – खिलाड़ी प्रकृति वाले
(स) क्षीणकाय – दुर्बल शरीर वाले
(द) मिश्रितकाय – मिले-जुले

 2. शैल्डन के अनुसार – शैल्डन ने शारिरीक संरचना के आधार पर
दुसरा वर्गिकरण किया हैं :- 
(अ) गोलाकार – एण्ड़ोमोरफिक
(ब) आयताकार – मैसोमोरफिक
(स) लम्बाकार – एक्टोमोरफिक

 शैल्डन का स्वभाव के आधार पर वर्गिकरण :- 
(अ) विसेरोटॉनिक – मस्त -मौला, आराम पसंद, खाने-पिने का शौकिन,प्यार का इच्छुक आदि ।
(ब) सौमेटोटॉनिक – कर्मठ, स्पष्ट भाषी, साहसी, शक्तिशाली, अधिकार प्रिय आदि ।
(स) सैरिब्रोटॉनिक – शर्मिले, संकोंची, एकान्त प्रिय, दु:खी, परेशान, अन्तर्मुखी आदि ।

 3. स्पेंग्लर के अनुसार – स्पेंग्लर ने समाज शास्त्री आधार पर व्यक्तित्व का वर्गिकरण किया हैं :-
(अ) सैंध्दातिक प्रवृति वाले,
(ब) सामाजिक प्रवृति वाले,
(स) राजनैतिक प्रवृति वाले,
(द) सौन्दार्यात्मक प्रवृति वाले,
(य) आर्थिक प्रवृति वाले,
(र) धार्मिक प्रवृति वाले ।

 4. युंग / जुंग के द्वारा किया गया वर्गिकरण वर्तमान समय मे सबसेप्रसिध्द माना जाता हैं । इन्होंने मनोवैज्ञानिक आधार पर व्यक्तित्व का वर्गिकरण किया हैं :- 
(अ) अन्तर्मुखी – लेखक बनने के लिए उचित व्यक्तित्व ।
(ब) बर्हिमुखी – नेता या शिक्षक बनने के लिए उचित व्यक्तित्व ।
(स) उभयमुखी – उचित या वांचित व्यक्तित्व ।

 5. भारतीय दृष्टिकोण से व्यक्तित्व का वर्गिकरण :- 
(अ) सतोगुणी – ईश्वर और धर्म में,
(ब) रजोगुणी – कर्म मे,
(स) तमोगुणी – सुख प्राप्ति में ।

6. आधुनिक दृष्टिकोण ( Modern approach) से व्यक्तित्व का वर्गिकरण :- 
(अ) भावुक,
(ब) कर्मशील,
(स) विचारशील ।
नोट :- उचित व्यक्तित्व होता हैं – ” संवेगिय स्थिरता ” 

Important Questions
 1. संरचनावादी संप्रदाय के प्रतिपादक कौन है।
उत्तर- विलियम वुंट टिंचनर

 2. प्रेरकीय संप्रदाय के जन्मदाता कौन है।
उत्तर- विलियम मैक्डूगल(William mcdougall)
 

3. चिरसम्मत अनुकूलन सिद्धांत (Adaptation theory) के प्रतिपादक है।
उत्तर – इवान पावलोव(Ivan pavlov)

 4. गूथरी ने अपने सिद्धांत का प्रतिपादन किस जीवपर किया था।
उत्तर  – खरगोश पर

 5. मनोविश्लेष्णात्मक सिद्धांत (Psychoanalytic theory) के प्रवर्तक हैं।
उत्तर – Sigmund freud
 

6. आवश्यकता अनुक्रम सिद्धांत के प्रवर्तक कौन है।
उत्तर – एच. मास्लो

 7. व्यक्तित्व के प्रतिपारक सिद्धांत के प्रतिपादक कौन है।
उत्तर – आर.बी. कैटल
 

8 कार्ल सी.गैरीसन ने किस विधि का अध्ययन किया था ?
लम्बात्मक विधि
 

9. “मनोविज्ञान मन का विज्ञान है” यह कथन है ?
उत्तर – Aristotle 

 10.छात्रों की संवेदना एवं अभिवृद्धि जानने हेतु सर्वोचित विधि है
उत्तर – Interview

 11″शिक्षा जीवन का अंग है” यह कथन किसका है ?
उत्तर -क्रो एडं क्रो
 

12. शिक्षा मनोविज्ञान (Education psychology) किसकी स्थापना में सहायता करती है ?
उत्तर – Educational purposes
 

13.खेल गीतों व उपहारों द्वारा शिक्षा किस विधि में दी जाती है ?
उत्तर – Montessori system
 

14.एक समूह की बनावट का अध्ययन करने में प्रयुक्त होने वाली विधि है ?
उत्तर- समाजमिति विधि
 

15. किण्डर गार्टन विधि (Kindergarten law) किस कौशल पर आधारित है ?
उत्तर -खेल पर
 

16. मनोविज्ञान में संरचनावादी विचारधारा के प्रवर्त्तक है ?
उत्तर – विलियम वुण्ट और टिचनर
 

17. सर्वप्रथम मनोवैज्ञानिक प्रयोगशाला की स्थापना कहाँ हुई थी ?
उत्तर- लिपजिंग [जर्मनी]
 

18. मापन व निरीक्षण पर विशेष बल किसने दिया ?
उत्तर – व्यवहारवाद ने
 

19. समुद्र में तैरते हुए हिमखण्ड से मन की तुलना किसने की थी ?
उत्तर- फ्रायड ने
 

20. बालक के व्यक्तिगत अध्ययन की मनोवैज्ञानिक विधि (Psychological law) है ?
उत्तर- केस स्टडी

 

21 मानवीय चेतना (Human consciousness) के कितने अंग है ?
उत्तर – तीन
 

22. शिक्षा मनोविज्ञान की प्राचीनतम अध्ययन विधि है ?
उत्तर – अन्तर्दर्शन विधि
 

23. किसी व्यक्ति के जन्म से लेकर उसकी वृद्धावस्था तक के अधिगम अनुभवों का वर्णन एवं धारणा ही शिक्षा मनोविज्ञान है- यह कथन है ?
उत्तर -क्रो एव क्रो
 

24. बी.एफ.स्कीनर प्रसिद्ध मनोवैज्ञानिक थे?
उत्तर – America
 

25. ‘मनोविज्ञान शिक्षा का आधारभूत विज्ञान है- कथन है ?
उत्तर- स्किनर
 

26. ‘प्ले वे’ शब्द का प्रयोग किसने किया ?
उत्तर – कुक
 

27. बालक के निजी व्यवहार का अंकन करने में कौनसी विधि सहायक होती है ?
उत्तर – नियंत्रित निरीक्षण विधि
 

28. ‘शिक्षा मनोविज्ञान व्यक्ति के जन्म से वृद्धावस्था तक सीखने के अनुभवों का वर्णन तथा व्याख्या है-कथन है ?
उत्तर- क्रो एव क्रो
 

29. सर्वप्रथम प्रश्नावली का निर्माण किसने किया ?
उत्तर- Woodworth
 

30. ऐसे खेल जिनमें बालक स्वयं कुछ बनाता है वह है ?
उत्तर- Creative games
 

31. सामाजिकता की जाँच हेतु सर्वश्रेष्ठ विधि है?
उत्तर- समाजमिति
 

32. शिक्षा मनोविज्ञान अध्यापकों की तैयारी की आधारशिला है-कथन है ?
उत्तर- स्किनर

 

 33. मनोविज्ञान व्यवहार और अनुभूति का विज्ञान तय हुआ ?

उत्तर- Nineteenth century
 

34. किस मनोवैज्ञानिक ने कहा था कि- मुझे बच्चा दो और बताओं उसे क्या बनाऊँ इंजीनियर,डॉक्टर या अन्य।
उत्तर- वाटसन
 

35. चेतना का प्रमुख उद्देश्य हमारे जीवन को सुरक्षा प्रदान करना है..अत: शरीर के विभिन्न अंगो पर पड़ने वाले चेतना के प्रभावों का अध्ययन ही मनोविज्ञान का विशिष्ट क्षेत्र होना चाहिए न कि केवल चेतना का अध्ययन-कथन है ?
उत्तर- William James
 

36. गैस्टाल्ट सम्प्रदाय (Gestalt secta) का जन्म कब हुआ ?
उत्तर – 1912ई.
 

37. अन्त: दृष्टि कभी पूर्व दृष्टि और कभी पश्चात दृष्टि होती है- कथन है?
उत्तर- वुडवर्थ
 

38. पर्यावरणीय सिद्धान्त के प्रणेता है ?
उत्तर- रोजर्स
 

39. आत्म-बिन्दुरेखीय व्यवस्था के प्रबल समर्थक थे ?
उत्तर- आलपोर्ट
 

40. व्यक्तित्व सम्बन्धी (Personality) गुणों का सर्वप्रथम विश्लेषण किया था ?
उत्तर- आलपोर्ट
 

41. व्यावहारिक तकनीकी के जन्मदाता है?
उत्तर- बी.एफ.स्किनर
 

42. ‘मनोविज्ञान आचरण एवं व्यवहार का यथार्थ विज्ञान है’ उक्त परिभाषा है ?
उत्तर – Mcdougall