संक्रामक वायरस जनित रोग( Infectious virus-borne disease)

संक्रामक वायरस जनित रोग

( Infectious virus-borne disease)

♻➖*एड्स*➖♻
[?]  *कारक* HIV *(Human Immuno Deficiency Virus*)
[?]  *संक्रमण*-&रुधिर आदान- प्रदान_ यौन संबंध व संक्रमित सीरिज से,
[?]  *लक्षण*-इसका प्रभाव श्वेत कणिकाओं *टी लिंफोसाइट*पर पड़ता है जिससे रोगी की रोग प्रतिरोधक क्षमता समाप्त हो जाती है
[?]  *उपचार*- बचाव ही उपचार है

♻➖ *पोलिओ*➖♻.
[?]  *कारक*- पोलियो वायरस
[?]  *संक्रमण*- जल एवं भोजन द्वारा
[?]  *लक्षण*-विषाणु मेरूरज्जु में पहुंचकर तंत्रिका तंत्र को निष्क्रिय कर देते हैं बच्चे विकलांग हो जाते हैं
[?]  *उपचार*-पोलियो का टीका शिशु जन्म के 6माह बाद लगाना चाहिए

♻➖ *इन्फ्लुएंजा फ्लू*➖♻
[?]  *कारक*- मिक्सोवायरस इन्फ्लुएँजाइ
[?]  *संक्रमण*-थूक,कफ द्वारा यह *वायु सवाहित रोग* है
[?]  *लक्षण*- खासी बलगम छींक ज्वार तथा सिर दर्द
[?]  *उपचार*- एंटीबायोटिक दवाइयां

♻➖ *चेचक*➖♻

इसे *स्मॉल पॉक्स बडी माता*भी कहते है!
[?]  *कारक*-वेरीओला  विषाणु
[?]  *संक्रमण*-वायु द्वारा या रोगी से सीधे संपर्क द्वारा
[?]  *लक्षण*-बुखार व तीन-चार दिनों बाद शरीर पर लाल दाने ऊपर जाना
[?]  *उपचार*-शिशुओं को तीन से छह महीने के बीच टीका लगवाना

♻➖ *छोटी माता*➖♻.

इसे *चिकन पॉक्स* भी कहते है
* [?] कारक*-वेरी सेला विषाणु संक्रमण यह रोगी कि श्वास या छींको द्वारा फैलता है
* [?] लक्ष्मण*-हल्के बुखार के साथ शरीर पर छोटे छोटे दाने निकल आते हैं
* [?] उपचार*- रोगी को स्वच्छ वातावरण में रखना

*♻➖खसरा(Measles)*➖♻
[?]  *कारक*-मोर्बेली विषाणु
* [?] संक्रमण*-यह *वायु वाहित रोग*है इस के विषाणु नाक से स्त्राव द्वारा फेलते हैं
* [?] लक्षण*- प्रारंभ में नाक से पानी बहना व तीन-चार दिन बाद शरीर पर *लाल दाने*हो जाते हैं
* [?] उपचार*-हल्का भोजन और उबला हुआ पानी पीना

*♻➖रेबीज*➖♻.
* [?] कारक*- रेबीज विषाणु
* [?] संक्रमण*-पागल कुत्ते, बिल्लिया, बंदर के काटने से होता है
* [?] लक्षण*-रोगी पागल हो जाता है जल से डरता है इसे *हाइड्रोफिबीया* भी करते हैं
* [?] उपचार*-रेबीज रोधी टीका लगाना चाहिए

*♻➖पीलिया*➖♻

इसे  *हिपैटाइटिस* भी कहते है यह दो प्रकार का होता है *हिपैटाइटिसA हिपैटाइटिसB*
* [?] कारक*- हिपेटाइटिस विषाणु व *शरीर में बिलीरुबिन नामक* पदार्थ के सामान्य से अधिक मात्रा में एकत्रित होने की वजह से होता है
* [?] संक्रमण*- खाने की वस्तुओं द्वारा *टाइप A* रुधिर आधार पर *टाइप B* पीलिया होता है
* [?] लक्षण*- आखँ और त्वचा पीली हो जाती है पैसाब भी पीला हो जाता है *झिल्ली की कार्य क्षमता घट जाती* है *खून में पित्त* बढ़ जाता है भूख नहीं लगती
* [?] उपचार*-लीवर के इंजेक्शन *दही गन्ने का सेवन*छैने हुए खाद्य प्रदार्थ *रसगुल्ले*तथा पूर्ण आराम

*♻विषाणु जनित अन्य रोग*-
* [?] डेंगू ज्वर*  या हड्डी तोड़ बुखार, ड्रैकोमा (आंख में सूजन).
* [?] गलसुआ*-भी एक विषाणु जनित रोग है यह *जीवन में एक ही बार* होता है
* [?] मेमिन्जाइटीस*- यह एक *वायरस जनित* बीमारी है जिसमें *मस्तिष्क प्रभावित* होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.