संघ लोक सेवा आयोग(Union Public Service Commission)

संघ लोक सेवा आयोग

(Union Public Service Commission)

भारत के संविधान (Constitution) द्वारा स्थापित एक ऐसी संस्था है, जो भारत सरकार के लोक सेवा के अधिकारियों की नियुक्ति के लिए परीक्षाएँ संचालित करती है। भारतीय संविधान के अनुच्छेद 315-323 में एक ‘संघीय लोक सेवा आयोग’ और राज्यों के लिए ‘ राज्य लोक सेवा आयोग’ के गठन का प्रावधान है।

प्रथम लोक सेवा आयोग की स्थापना 1 अक्टूबर, 1926 ई. को हुई थी।
संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) के वर्तमान अध्यक्ष प्रो. डेविड आर. सिम्लिह हैं। डेविड आर. सिम्लिह ने 04 जनवरी 2017 को यूपीएससी के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार ग्रहण किया और वह 21 जनवरी 2018 को सेवानिवृत्त होंगे।

प्रो. डेविड आर. सिम्लिह ने अल्का सिरोही का स्थान लिया है, अल्का सिरोही 21 सितंबर 2016 को यूपीएससी (UPSC) की अध्यक्ष बनी थीं।

वर्ष 1926 से अब तक के सभी संघ लोक सेवा आयोग के अध्यक्षों की सूची:

नाम                                                    कार्यकाल
                                                   
सर रोस बार्कर ➡1926 से 1932 तक
सर डेविड पेट्री➡अगस्त 1932 से 1936 तक
सर आयरे गोर्डन➡1937 से 1942 तक
सर एफ.डब्ल्यू. राबर्टसन➡1942 से 1947 तक
श्री एच. के. कृपलानी➡1 अप्रैल 1947 से 13 जनवरी 1949 तक
श्री आर. एन. बनर्जी➡14 जनवरी 1949 से 09 मई 1955 तक
श्री एन. गोविंदराजन➡10 मई 1955 से 09 दिसंबर 1955 तक
श्री वी. एस. हेजमाड़ी➡10 दिसंबर 1955 से 09 दिसंबर 1961 तक
श्री बी. एन. झा➡11 दिसंबर 1961 से 22 फरवरी 1967 तक
श्री के. आर. दामले➡18 अप्रैल 1967 से 02 मार्च 1971 तक
श्री आर. सी.एस.सरकार➡11 मई 1971 से 01 फरवरी 1973 तक
डॉ. ए. आर. किदवई➡05 फरवरी 1973 से 04 फरवरी 1979 तक
डॉ. एम. एल. शहारे➡16 फरवरी 1979 से 16 फरवरी 1985 तक
श्री एच. के. एल. कपूर➡18 फरवरी 1985 से 05 मार्च 1990 तक
श्री जे.पी. गुप्ता➡05 मार्च 1990 से 02 जून 1992 तक
श्रीमती आर.एम. बाथ्यू (खरबुली)➡23 सितंबर 1992 से 23 अगस्त 1996 तक

श्री एस.जे.एस. छतवाल➡23 अगस्त 1996 से 30 सितंबर 1996 तक
श्री जे.एम. कुरैशी➡30 सितंबर 1996 से 11 दिसंबर 1998 तक
ले. जनरल (सेवानिवृत्त) सुरिंदर नाथ➡11 दिसंबर 1998 से 25 जून 2002 तक
श्री पी.सी. होता➡25 जून 2002 से 08 सितंबर 2003 तक
श्री माता प्रसाद➡08 सितंबर 2003 से 04 जनवरी 2005 तक
डॉ. एस.आर. हाशिम➡04 जनवरी 2005 से 01 अप्रैल 2006 तक
श्री गुरबचन जगत➡01 अप्रैल 2006 से 30 जून 2007 तक
श्री सुबीर दत्ता➡30 जून 2007 से 16 अगस्त 2008 तक
प्रोफेसर डीपी अग्रवाल➡16 अगस्त 2008 से 16 अगस्त 2014 तक
रजनी राज़दान➡16 अगस्त 2014 से 22 नवंबर 2014 तक
दीपक गुप्ता➡22 नवंबर 2014 से 20 सितंबर 2016 तक
श्रीमती अल्का सिरोही➡21 सितंबर 2016 से 03 जनवरी 2017 तक
प्रो.डेविड आर.सिम्लिह➡04 जनवरी 2017 से अब तक

संघ लोक सेवा आयोग(UPSC)
लोक सेवा आयोग भाग – 14 अनुच्छेद 308-23
1919 के अधिनियम में प्रावधान
1923 फर्नहमली कमीशन की सिफारिश पर 1926 से कार्यरत प्रथम अध्यक्ष – सर रोस बार्कर।
1935 में नाम – फेडरल लोक सेवा आयोग(FPSC)
1950 में नाम – .UPSC
प्रथम अध्यक्ष – एच. के. कृपलानी।
अनुच्छेद 315 में गठन का प्रावधान
अनुच्छेद 316 – नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा
अनुच्छेद 317 – अध्यक्ष व सदस्यों का कार्यकाल – 6/65 वर्ष जो भी पहले हो।
वर्तमान में 1(अध्यक्ष)$10(सदस्य) = 11 सदस्य हो।
वर्तमान अध्यक्ष – प्रो.डेविड आर.सिमिल्ह
त्याग पत्र – सभी राष्ट्रपति को।
शपथ – राष्ट्रपति द्वारा।
वेतन – 90,000 मात्र।
कार्यकाल से पूर्व – सुप्रिम कोर्ट की सिफारिश पर राष्ट्रपति हटा सकता है।
अनुच्छेद 320 – कार्य एवं शक्तियां
अखिल भारतीय केन्द्रिय तथा अन्य सेवाओं की भर्ती परिक्षा आयोजित करवाता है।
ऐसी सेवाओं के पदाधिकारीयों का एक सेवा से दुसरी सेवा में अन्तरण करने की सिफारिश करना।
सेवा के बीच में आकस्मिक अव्यवस्था होने पर जैसे मृत्यु, विकलांगता आदि में उसके परिलाभों को आश्रितों को देने की सिफारिश करना।

नोट

एक या एक से अधिक राज्यों का संयुक्त लोक सेवा अयोग के सदस्यों की नियुक्ति व त्याग पत्र राष्ट्रपति द्वारा।

राजस्थान लोक सेवा आयोग(RPSC)

1935 के अधिनियम में प्रावधान
स्थापना – अगस्त 1949 जयपुर में।
1956 में सत्यनारायण राव समिति की सिफारिश पर स्थानान्तरण अजमेर।
अनुच्छेद 316 – अध्यक्ष व सदस्यों की नियुक्ति राज्यपाल द्वारा
कार्यकाल – 62/6 वर्ष जो भी पहले हो ।
कार्यकाल से पुर्व हटाने का अधिकार – राष्ट्रपति को।
प्रथम अध्यक्ष – एस. के घोष।
वर्तमान – 1(अध्यक्ष)+7(सदस्य)।
वर्तमान अध्यक्ष-ललित के पंवार