11-16 MAY 2017 RAJASTHAN CURRENT AFFAIRS

01.  सियाणा की निशानेबाज महेश्वरी को मिला मारवाड़ रतन सम्मान
सियाणा. जालोर के सियाणा की निशानेबाज महेश्वरी चौहान को जोधपुर मेहरानगढ़ म्यूजियम में आयोजित कार्यक्रम के दौरान २०१६ में मारवाड़ रतन सम्मान से नवाजा गया।  निशानेबाजी के क्षेत्र में राष्ट्रीय व अन्तराष्ट्रीय स्तर पर किए प्रदर्शन पर जोधपुर में शिवराज सिंह ने सम्मान किया। कार्यक्रम  गजसिंह द्वितीय मुख्य प्रबंध न्यासी मेहरानगढ़ म्यूजियम ट्रस्ट मारवाड़ जोधपुर द्वारा १२ मई २०१७ को आयोजित किया। सम्मान समारोह में १४ जनों को सम्मानित किया गया। सम्मानितों की सूची में  सियाणा की महेश्वरी चौहान सबसे कम उम्र की थी। गौरतलब है कि महेश्वरी चौहान निशानेबाजी में इटली में आयोजित इंटरनेशनल शॉटगन ओपन जूनियर प्रतियोगिता की तीन स्पद्र्धा का कांस्य पदक जीते हंै। इटली में अन्तरराष्ट्रीय स्कीट शूटिंग प्रतियोगिता में १२ देशों के शूटरों के साथ भाग लेकर रजत पदक प्राप्त किया। इसके अलावा २०१२, १३ व १४ में भी गोल्ड मेडल हासिल किए। जूनियर इन्टरनेशनल थाइलैण्ड दुबई स्पेन शूटिंग प्रतियोगिता में भी भाग लिया। १५ नवम्बर को पटियाला पंजाब में आयोजित नेशनल शॉटगन चैम्पियनशिप में भाग लेकर स्वर्ण पदक हासिल किया।


2. समरजीत को मिलेगा महाराणा प्रताप अवार्ड
क्षेत्र का गौरव बन चुके गांव 57 जीबी निवासी अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी समरजीत सिंह मल्ली को 15 मई को राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद की ओर से महाराणा प्रताप अवार्ड से पुरस्कृत किया जायेगा। राजधानी स्थित सवाई मानसिंह स्टेडियम में होने वाले कार्यक्रम में मुख्यमंत्री इस युवा खिलाड़ी को महाराणा प्रताप अवार्ड से सम्मानित करेंगे।
वर्ष 2010 में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में 78 देशों के खिलाडिय़ों ने भाग लिया।  प्रतियोगिता में उन्हे देश का नेतृत्व करने का गौरव प्राप्त हुआ। इसमें उनकी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सातवीं रैंक थी। इसके बाद वर्ष 2010 में ही आयोजित एशियन ऑल स्टार्स गेम्स में कांस्य पदक प्राप्त किया।
इन्हीं उपलब्धियों के लिए राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद की ओर से वर्ष 2010 की उपलब्धियों के लिए उन्हें इस अवार्ड के लिए चयनित किया है। इससे पूर्व समरजीत सिंह मल्ली ने वर्ष 2009 में ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी नेशनल गेम्स में 74.45 मीटर की दूरी तक भाला फेंक कर स्वर्ण पदक प्राप्त किया एवं कीर्तिमान स्थापित किया। खास बात यह है कि समरजीत को यह अवार्ड वर्ष 2010 की उपलब्धियों के लिए मिल रहा है। जिस समय उनकी आयु मात्र 19 वर्ष थी। जो अब तक का अपने आप में एक रिकॉर्ड है।    


3. उदयपुर की पिछोला झील को मिला बेस्ट नेचुरल अट्रैक्शन का अवार्ड
दक्षिणी राजस्थान की जग प्रसिद्ध उदयपुर की पिछोला झील को राष्ट्रीय स्तर पर बेस्ट नेचुरल अट्रैक्शन का अवार्ड दिया गया है। राजस्थान की ओर से यह अवार्ड राजस्थान पर्यटन स्वागत केंद्र की अतिरिक्त निदेशक डॉ. गुनजीत कौर और सहायक निदेशक आर.के.सैनी ने ग्रहण किया।
नई दिल्ली के होटल ताज मानसिंह में गुरुवार को रात आयोजित पर्यटन सम्मान समारोह में प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री जितेन्द्र सिंह मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। अवार्ड कार्यक्रम में पिछोला झील को ‘भारत का ‘फेवरेट नेचुरल अट्रेक्शन हॉली डे आईक्यू अवार्ड‘ पुरस्कार प्रदान किया गया। इस मौके पर पर्यटन उद्योग व व्यवसाय, मीडिया और प्रशासनिक जगत की जानी-मानी हस्तियां मौजूद थी।                   


4. जीएसटी नेटवर्क द्वारा बीटा लान्च की गतिविधियों में राजस्थान देशभर में दूसरे स्थान पर
जीएसटी में समस्त कार्य ऑनलाईन, जीएसटी पोर्टल पर किये जायेंगे। व्यवहारियों द्वारा की जाने वाली गतिविधियों को लाईव इन्वायरमेन्ट में सम्पादित करने के लिए जीएसटी नेटवर्क में बीटा लान्च की गतिविधि एक से 15 मई 2017 तक प्रारम्भ की गई है। इस बीटा लान्च की गतिविधि के लिए वाणिज्यिक विभाग द्वारा समर्पित सिमुलेशन सेन्टर स्थापित किया गया है। अभी तक की हुई बीटा लांच गतिविधियों में राजस्थान राज्य देशभर में द्वितीय स्थान पर रहा है।
विभाग द्वारा ऎसे 115 व्यवहारियों का चयन किया गया है जिन्होंने जीएसटी माईग्रेशन पूर्ण कर लिया है। बीटा लान्च की गतिविधि के तहत 2 से 7 मई तक जीएसटीआर1 (स्टेटमेन्ट ऑफ आउटवर्ड सप्लाईज) की गतिविधि की गई जिसमें 115 व्यवहारियों द्वारा 3 हज़ार 413 बिलों को अपलोड किया गया। इसके अलावा 8 से 11 मई तक जीएसटीआर2 (स्टेटमेन्ट ऑफ आउटवर्ड सप्लाईज ) की गतिविधि की गई। इसी प्रकार 12 मई तक जीएसटीआर1ए से सम्बन्धित गतिविधि की जायेगी। इसके अलावा 13 से 15 मई तक जीएसटीआर3 (मासिक विवरणी) व भुगतान संबंधी की गतिविधि की जायेगी।
विभागीय अधिकारियों द्वारा चयनित व्यवहारियों से सतत सम्पर्क करते हुए बीटा लान्च गतिविधियों के दौरान आने वाली समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है। सम्मिलित होने वाले व्यवहारियों ने इस बीटा लान्च की गतिविधि को जानकारी पूर्ण एवं लाभदायक प्रयास बताया।
अभी तक की हुई बीटा लांच गतिविधियों में राजस्थान राज्य देशभर में द्वितीय स्थान पर रहा है।   


05. देश का पहला सोलर लैंप प्रोजेक्ट डूंगरपुर मे
राजस्थान के डूंगरपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों सम्मानित डूंगरपुर का सोलर लैंप प्रोजेक्ट दो माह में शुरू हो जाएगा। कंपनी रजिस्ट्रेशन और भवन निर्माण का काम अंतिम चरण में चल रहा है। मशीनरी का ऑर्डर दिया जा चुका है। इस प्रोजेक्ट पर करीब 1 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहा है। दो माह में यहां उत्पादन शुरू हो जाएगा। यहां मुंबई आईआईटी के सहयोग से सोलर मॉड्यूल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाया जा रहा है। यहां सालाना 2 मेगावाट उत्पादन की उम्मीद जताई जा रही है।
स्थानीय सोलर लैंप निर्माण की सफलता को देखते हुए देश का पहला सोलर मॉड्यूल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट यहां लगाया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने भी इस प्रोजेक्ट को सराहा था।
यह प्रोजेक्ट अंतिम चरणों में है। यहां कार्य करने के लिए करीब 60 महिलाओं को चुना जाना है जो यहां काम करेंगी। पूरे प्रोजेक्ट का संचालन महिलाएं ही करेंगी।
महिलाओं के नाम से ही कंपनी का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। खास बात यह है कि इससे स्थानीय महिलाओं को जोड़ा गया है। महिलाएं सोलर स्ट्रीट लाइट से सोलर होम लाइट बनाने से लेकर रिपेयरिंग के काम में जुटेंगी।
आगे सोलर पंप भी बनेगा, 300 वाट के सोलर उपकरण बनेंगे
प्रोजेक्ट से जुड़े मुंबई आईआईटी के श्री प्रदीप पोडल बताते हैं कि सोलर स्ट्रीट लाइट और सोलर होम लाइट को लेकर महिलाओं को प्रशिक्षण दिया गया है। आगे के फेज़ में हम सोलर पंप पर भी काम करेंगे| इससे स्थानीय महिलाओं को रोज़गार मिलेगा और सौर ऊर्जा को भी बढ़ावा मिलेगा।
इस प्लांट में 1 वाट से लेकर 300 वाट तक के सोलर उपकरण तैयार किए जाएंगे। साल में करीब 2 मेगावाट के उत्पादन का लक्ष्य इस यूनिट से रखा गया है। इसके संचालन का ज़िम्मा आईआईटी मुंबई का रहेगा। यूनिट को महिलाएं चलाएंगी, जबकि उन्हें सहयोग आईआईटी मुंबई की टीम करेगी।


06. मुख्यमंत्री ने बिशनगढ़ ज़िले से जनकल्याण योजना शिविर का शुभारम्भ किया
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने गत दस मई से शुरू हुए मुख्यमंत्री शहरी जनकल्याण योजना शिविर के तहत जयपुर ज़िले के बिशनगढ़ से प्रदेश में पट्टा वितरण का आज शुभारम्भ किया।इस अवसर पर श्रीमती राजे ने ज़िले की शाहपुरा नगर पालिका क्षेत्र के ग्यारह लाभार्थियों को पट्टे सौंपकर अभियान की शुरुआत की।
उल्लेखनीय है कि नगरीय निकायों से जुड़ी आमजन की समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए मुख्यमंत्री शहरी जनकल्याण योजना के तहत आगामी दस जुलाई तक प्रदेश में शिविर आयोजित किए जायेंगे। इनमें कृषि एवं सिवायचक भूमि पर बसी कॉलनियों का नियमन, स्टेट ग्रांट एक्ट के पट्टे जारी करने, खांचा भूमि का आवंटन, निकायों के द्वारा नीलाम अथवा आवंटित भूखण्डों के बढ़े हुए क्षेत्रफल का नियमन, नक्शों का अनुमोदन, 31 दिसम्बर 2015 से पूर्व 90 वर्ग मीटर तक के भूखण्डों पर बिना सेटबैक के बने आवासों का नियमन, भूखण्डों का पुनर्गठन एवं उप विभाजन तथा भवन निर्माण अनुमति, बकाया लीज़ व नगरीय विकास कर की ब्याज राशि में छूट देकर वसूली तथा सिवायचक भूमि के नगरीय निकायों को हस्तांतरण के कार्य किए जा रहे हैं।
इसी तरह इन शिविरों में सीलिंग अधिनियम एवं कस्टोडियन भूमि से प्रभावित योजनाओं में नियमन, आवासन मण्डल, पीडब्ल्यूडी, जल संसाधन एवं नगरीय निकायों द्वारा अवाप्त भूमि में बने आवासों का नियमन, ईडब्ल्यूएस एवं एलआईजी तथा 60 वर्ग मी. से छोटे भूखण्डों व आवासों के नियमन जैसे कार्य किए जा रहे हैं। इसके अलावा इस दौरान गाड़िया लौहार एवं घुमन्तु जातियों को 50 वर्ग गज भूमि का निःशुल्क आवंटन का कार्य भी किया जाएगा।

07. विद्युत शिकायतों के लिए कॉल सेंटर शुरू
भीषण गर्मी और बरसात के मौसम को देखते हुए जयपुर शहर वृत के बिजली उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए एक व्यवस्था की गई है। इसके तहत जब भी बिजली कटे या बिजली से संबंधित कोई भी समस्या हो तो आपके लिए टेलीफोन नंबर व कॉल सेन्टर के टोल फ्री नंबर के साथ ही वृत-स्तर, खंड-स्तर एवं उपखंड स्तर पर शिकायत केन्द्रों की स्थापना की गई है।
एकल टेलीफोन नंबर 2203000 और टोल फ्री नंबर 18001806507 पर शिकायत दर्ज कराने की सुविधा पूर्व में ही चालू है।      


08. राजस्थान में 41 खिलाडि़यों को महाराणा प्रताप अवार्ड, 13 प्रशिक्षकों को भी मुख्यमंत्री ने पुरस्कार से नवाजा
देश के सबसे बड़े राज्य राजस्थान में 41 खिलाडि़यों को महाराणा प्रताप और 13 प्रशिक्षकों को गुरु वशिष्ठ पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया है। मुख्यमंत्री ने सोमवार को यहां एक समारोह में उन्हें अवॉर्ड्स से नवाजा।
सम्मान समारोह शाम 5 बजे सवाई मानसिंह स्टेडियम स्थित इंडोर हॉल में हुआ। राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद के सचिव नारायण सिंह ने बताया कि इस अवसर पर 46 खिलाडि़यों को राइजिंग स्टार अवॉर्ड से भी सम्मानित किया। साथ ही साल 2016 पैरालंपिक ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक विजेता देवेन्द्र झाझडि़या को 75 लाख रुपए की राशि और प्रशस्ति पत्र दिया।
साथ ही वर्ष 2016 में प्रदेश के तीन अर्जुन पुरस्कार विजेताओं अपूर्वी चंदेला, रजत चौहान और सदीप सिंह मान को सम्मानित किया। ओलंपियन खेताराम, सपना पूनिया और राजस्थान रणजी टीम के कप्तान पंकज सिंह को अवॉर्ड ऑफ  एक्सीलेंस से सम्मानित किया।
 वर्ष 2006-07 के बाद प्रदेश के खिलाडि़यों को यह सम्मान दिया गया है।
समारोह में पैरालंपिक खेलों में 12 साल बाद दूसरा स्वर्ण पदक जीत देश व प्रदेश का मान बढ़ाने वाले पैरा एथलीट देवेन्द्र झाझडि़या को मुख्यमंत्री ने 75 लाख रुपए का नकद पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
झाझडि़या पैरालंपिक खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने वाले देश के एकमात्र खिलाड़ी हैं। झाझड़ि़या के अलावा अर्जुन अवार्ड हासिल कर चुके तीरंदाज रजत चौहान व संदीप सिंह मान को भी पुरस्कृत किया। इस दौरान क्रिकेटर पंकज सिंह को अवार्ड ऑफ एक्सीलेंस के तहत प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। समारोह में उपस्थित 29 खिलाडि़यों को राइजिंग स्टार अवार्ड से नवाजा गया। राइजिंग स्टार अवार्ड के लिए 46 खिलाड़ियों का चयन किया गया था।

09. भारतीय सेना ने 20 हजार सैनिकों संग रेगिस्तान में दिखाई थार-शक्ति
भारतीय सेना की चेतक कोर ने राजस्थान के रेगिस्तान में ‘थार-शक्ति’ नामक युद्धाभ्यास किया। इस युद्धाभ्यास में करीब 20,000 सैनिक, बख्तरबंद गाडिय़ां, टैंक एवं तोप आदि ने हिस्सा लिया। इसमें अत्याधुनिक सर्विलांस सेंसर का भी प्रयोग किया गया। लेफ्टिनेन्ट जनरल अश्वनी कुमार समेत अनेक वरिष्ठ अधिकारियों ने अंतिम चरण में इस युद्धाभ्यास का अवलोकन किया। लेफ्टिनेन्ट जनरल अश्वनी कुमार ने इस युद्धाभ्यास की सफलता पर अपनी संतुष्टि जताई एवं सैनिकों द्वारा इस भीषण गर्मी में भी मरूस्थल में इस युद्धाभ्यास को पूरी तरह सफल बनाने के लिये सभी सैनिकों की सराहना की।
इस युद्धाभ्यास में सेना ने अपने लिए तय किये गए सभी युद्धात्मक पैमाने और कठिन ऑपरेशनल चुनौतियों को सफलतापूर्वक हासिल किया जिससे आधुनिक युद्ध में विजय सुनिश्चित की जा सके।


10.भैरोंसिंह शेखावत स्मृति व्याख्यान माला में सिक्किम के सीएम का हुआ सम्मान
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने पंच वर्षीय योजना में स्वर्गीय भैरोसिंह शेखावत के योगदान को याद करते हुए भारत को सबसे बड़ा लोकतंत्र कहा। राष्ट्रपति ने छोटे राज्य सिक्किम को रोल मॉडल स्टेट बताया। उल्लेखनीय है कि सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन चामलिंग को सोमवार को यहाँ पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत की स्मृति में बिड़ला ऑडिटोरियम में हुई पहली व्याख्यानमाला में लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि चामलिंग पिछले 23 साल से सिक्किम के सीएम हैं। 

भैरोंसिंह जी ने अंत्योदय योजना शुरू की जिसे देश दुनिया में पहचान मिली: अंत्योदल योजना की शुरूआत की जिसे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली। बाद में इसे अन्य राज्यों ने भी अपनाया।

11. सामूहिक विवाह में ही वर-वधू को मिलेगी अनुदान राशि
सामूहिक विवाह में शामिल होने वाले वर-वधू को अब अनुदान राशि के लिए इंतजार नहीं करना होगा। राज्य सरकार ने सामूहिक विवाह योजना में संशोधन किया है। इसके तहत वर-वधू को सामूहिक विवाह में ही अनुदान राशि दी जाएगी। सरकार शादी समारोह में फिजूलखर्ची रोकने और दहेज जैसी कुरीतियों को दूर करने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग ने सामूहिक विवाह सहायता अनुदान योजना में संशोधन किया है। योजना के तहत अब सामूहिक विवाह कराने वाली संस्थाओं को और वर-वधू को मौके पर ही सहायता राशि दी जाएगी। इसके अलावा मौके पर ही विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र भी बनाये जाएंगे। सामूहिक विवाह में विभाग के आला अधिकारी व जनप्रतिनिधि भी शामिल होंगे।
यह मिलेगी सहायता :
सामूहिक विवाह अनुदान योजना के तहत विभाग की ओर से 18 हज़ार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। इसमें 3 हज़ार रुपए प्रति जोड़े के हिसाब से विवाह कराने वाली संस्था और 10 हज़ार की एफडी वधू के नाम दी जाएगी। एफडी 3 साल के लिए किसी भी डाकघर या राष्ट्रीयकृत बैंक में कराई जाएगी। वहीं 5 हज़ार रुपए राशि का चेक भी वधू को सामूहिक विवाह के दौरान सौंपा जाएगा। इस राशि का उपयोग वह विवाह के समय कर सकेगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए ज़िला कलेक्टर और एसडीओ से स्वीकृति लेनी होगी।

12. सीसुब ने सीमा क्षेत्र में शुरू किया ‘ऑपरेशन अलर्ट’
जैसलमेर. पाकिस्तान से सटे जैसलमेर जिले के सीमा क्षेत्र में सोमवार से ‘ऑपरेशन अलर्ट’ प्रारम्भ कर दिया है। यह अभियान आगामी 21 मई तक चलेगा। एक सप्ताह तक अभियान अवधि में सीमा सुरक्षा बल के सभी अधिकारी सीमा क्षेत्र का दौरा कर सीमा चौकियों पर व्यवस्थाओं का करीबी निरीक्षण करेंगे और जवानों से समुचित फीडबैक लेंगे। इस दौरान सीमा पर आम दिनों की तुलना में ज्यादा संख्या में सीसुब के जवान ड्यूटी पर लगाए गए हैं। बल के नॉर्थ सेक्टर के उपमहानिरीक्षण अमित लोढ़ा ने बताया कि ऑपरेशन सर्द हवा और ऑपरेषन गर्म हवा के छोटे सेटअप में ऑपरेशन अलर्ट चलाया जाता है। यह एक सप्ताह के लिए होता है, जिसमें बल के अधिकारी सभी पहलुओं की समीक्षा करते हैं और मौके पर जाकर हालात का जायजा लेते हैं। लोढ़ा ने बताया कि सीमा क्ष् ोत्र में इन दिनों स्थितियां शांतिपूर्ण है।


13. राजस्थान हाइकोर्ट को मिले नए न्यायाधीश
राजस्थान हाईकोर्ट के पांच नवनियुक्त जजों का शपथ ग्रहण समारोह सोमवार सुबह शुरू हुआ। मुख्य न्यायाधीश प्रदीप नन्दाजोग ने पांच नवनियुक्त जजों को शपथ दिलाई। न्यायाधीश अशोक गौड़, मनोज कुमार गर्ग, इंद्रजीतसिंह, वीरेंद्र माथुर व रामचंद्रसिंह के शपथ ग्रहण करने के बाद अब हाईकोर्ट में न्यायाधीशों की संख्या 39 हो गई है। जहां न्यायाधीश अशोक गौड़, मनोज कुमार गर्ग, इंद्रजीतसिंह अधिवक्ता कोटे से न्यायाधीश बने हैं वहीं वीरेंद्र माथुर व रामचंद्रसिंह न्यायिक कोटे से न्यायाधीश बने हैं। हालांकि 50 स्वीकृत पदों में से अब भी 11 पद रिक्त हैं। 


14. अशोक नर्सिंग पुरस्कार से सम्मानित
. अन्तर्राष्ट्रीय दिवस के मौके पर जयपुर में आयोजित हुए राज्य स्तरीय समारोह में स्थानीय चिकित्सालय के नर्सेज अशोक शर्मा को नर्सिंग पुरस्कार 2017 से सम्मानित किया गया। चिकित्सालय के कम्पाउण्डर मोहनलाल शर्मा ने बताया कि बिड़ला ऑडोटोरियम में हुए समारोह में चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ ने अशोक शर्मा को पुरस्कार प्रदान किया।      


15. मुख्यमंत्री निःशुल्क कोचिंग के लिए 31 मई तक कर सकेंगे आवेदन
मुख्यमंत्री निःशुल्क कोचिंग योजना के तहत आवेदन पत्र भरने की तिथि को 31 मई, 2017 तक बढ़ा दिया है।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक डॉ. समित शर्मा ने बताया कि जयपुर व कोटा में सभी वर्गों के 500-500 विद्यार्थियों को प्रति वर्ष अच्छे कोचिंग में आईआईटी, मेडिकल, आईआईएम एवं लॉ के पाठ्यक्रमों में प्रवेश परीक्षाओं की तैयारियाँ कराई जायेगी। उन्होंने बताया कि इनमें 30 प्रतिशत स्थान सम्बन्धित श्रेणी की छात्राओं के लिए आरक्षित होंगे, उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री निःशुल्क कोचिंग योजना के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित विभागीय छात्रावासों में आवासरत छात्र-छात्रायें ही आवेदन कर सकेंगे।
निदेशक ने बताया कि छात्रावासों में आवासरत छात्र-छात्रायें 31 मई, 2017 तक निर्धारित आवेदन पत्र से आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पत्र विभागीय वेबसाइट www.sje.rajasthan.gov.in पर उपलब्ध है। आवेदन पत्र सम्बन्धित छात्रावास अधीक्षक, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग को जमा कराना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.