BSTC EXAM SPECIAL NOTES 03

BSTC EXAM SPECIAL NOTES 03

 महत्व्पूर्ण प्रश्न 


 लाठी श्रखला क्या है- भूगभीय जलपट्टी
 राज्य का वह शहर जो राष्टीय राजधानी का अंग है- अलवर
 महिला आयोग की अध्यक्ष- सुमन जैन
 21जून को सूर्य की किरणे सीधी पड़ती है- बॉसवाङा

 राज्य का पूर्वी जिला- धौलपुर
 मुख्यमंत्री के रूप में सबसे अधिक समय सेवाए दी- मिहनलाल सुखाड़िया
 राज्य का सबसे निकट बन्दरगाह- कांडला(गुजरात)
 युवक-युवती के विवाह की आयु- 21(युवक)-युवती(18)
 राजपुताना शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किया- जार्ज थॉमस ने
 रजवाड़ा, रायथान, व राजस्थान नाम दिया- जेम्स टॉड ने (जेम्स टॉड को राज्य इतिहास का पितामाह कहते है)
 घग्घर नदी के पाट को क्या कहते है-  नाली
 बेडच नदी किस नदी का नाम है- आयड़ नदी का
 बायोजिकल पार्क स्थापित है- नाहरगढ उधान(जयपुर)
 मारवाड़ का प्रताप- चन्द्रसेन और नवीन प्रताप- अशोक गहलोत
 कुटीर ज्योति योजना- घरेलू विधुत से
 रेशम के कीड़े किस पेड़ पर पाले जाते है- शहतुत के

राजस्थान खेल जगत का पुरस्कार- राज्य खेल रत्न पुरस्कार
 किक्रेट पुरूस्कार- महाराणा प्रताप किक्रेट पुरस्कार
 प्रथम विधानसभा अध्यक्ष- नरोतमलाल जोशी (वर्तमान- कैलाश मेगवाल) (वर्तमान ग्रह मंत्री- गुलाबचन्द्र कटारिया)
 प्रथम निर्वाचित मुख्यमंत्री- टीकाराम पालीवाल  ( वर्तमान मुख्यमंत्रि- वसुन्दरा राज सीन्दाया(वित्त मंत्री भी यही है)
 राज्य में प्रथम राष्टपति शासन लागू हुवा था- 1967 ( अब तक 4 बार लग चुका है 1967, 1977, 1980, 1992 इनमे सबसे लम्बा 1992 मे लगा )

⛳ सुरभि मिश्रा- स्कवेश
⛳ राज्य की जल परी- रिमदता
⛳ लिम्बाराम- तिरादाजी(खेल रत्न प्राप्त)
⛳ बजरंग लाल ताखर- नोकायन
⛳ देवेन्द्र झाझड़िया- एथेलिटिक्स
⛳ परमवीर चक्र विजेता प्रथम व्यक्ति- हवलदार मेजर पिरु सिंह
⛳ घमंडाराम- एथेलिटिक्स

राज्य की राजनीति

 लोक सभा सीट – 25
 राज्य सभा सीट – 10
 विद्यानसभा सीट -200
 विद्यानमण्डल – एक सदनात्मक है
 व्रहद राजस्थान के प्रधानमत्री – हीरालाल शास्त्री
 राजस्थान के एकीकरण के समय रियासते व ठिकाने – 19 री. / 3 ठी.
 व्रहत राजस्थान के राजप्रमुख  – महाराणा भोपाल सिंह
 राज्य का वित्त मंत्री- हमेशा राज्य का मुख्यमंत्री होता है
 राजस्थान में अधिकतम मंत्रियो की सख्या हो सकती है – 30
 राज्य में जिले – 33
 सम्भाग – 7
 नगर-निगम – 7
 नगर-परिषद – 30
 राजस्थान में नगर- निगम की स्थापना – जयपुर में(1955) में                        

जिला- अजमेर
( उप नाम- राज्य का ह्रदय, भारत का मका, राजपुताना की कुञ्जी, राज्य का नाका)

➡ राजस्थान लोक सेवा आयोग(RPSC) का मुख्यालय- अजमेर
➡ राजस्थान माध्यामिल शिक्षा बोड का मुख्यालय – अजमेर
➡ 1857 की क्रान्ति का प्रथम केन्द्र या शुरवात हुई – नसीराबाद(अजमेर)
➡ निम्बार्क सम्पर्दाय की पीठ – सलेमाबाद(अजमेर)
➡ राजस्थान की “कूबड़पट्टी” – अजमेर-नागौर
➡ राज्य की पहली दूध डेयरी – पद्मा डेयरी(अजमेर)
➡ राज्य की एकमात्र 6-Line रोड – किशनगड से जयपुर
➡ सगमरमर मण्डी- किशनगढ़
➡ बणी-ठनी चित्र शैली- किशनगढ़(अजमेर)
➡ हिन्दुस्थान मशीन टूल्स(HMT) घड़ी का कारखाना – अजमेर
➡ बादशाह का मैला भरता है – ब्यावर में
➡ पुष्कर मेला, ब्रहा मन्दिर, तीथराज  पुष्कर (अजमेर)
➡ राज्य का जिब्राल्टर – तारागढ़(अजमेर)
➡ ख्वाजा मोइनुदिन चिश्ती की दरगाह – अजमेर (1 रजब से 6 रजब के बिच उर्स भरता है)
➡ राज्य का पहला कॉलेज – मेयो कॉलेज(अजमेर 1875 में)
➡ तारागढ़ का किला, अढ़ाई दिन का झोपडा, अनासागर, दोलतबाग – अजमेर
➡ स्वामी दयानंद का सम्बन्ध – अजमेर
➡ अजमेर का राज्य में विलय हुवा- 26 जनवरी 1956 को
➡ उतरी भारत का सबसे बड़ी सीमेंट कम्पनी – ब्यावर(अजमेर)
➡ अरुणा राय का सम्बन्ध – अजमेर से

 जिला- अलवर 
( उप नाम- राज्य का सिहदुआर, राज्य का स्कॉटलण्ठ, पूर्वी कश्मीर)

➡ 80 खम्भो की छतरी( मुसी महारानी की छतरी) – अलवर
➡ सीलीसेठ झील( राज्य का नन्दकान्न) – अलवर
➡ ” खो-दरिबा” ताबे की खान – अलवर
➡ सरिस्का अभ्यारण – अलवर
➡ नारायणी माता का मन्दिर(नाईयो की कुलदेवी) – अलवर
➡ प्राचीन पांडुपोल मन्दिर- अलवर
➡ नोटों की स्याही बनाने का कारखाना, ओधोगिक क्षेत्र, राज्य का नवीन मेनचेस्टर – भिवाड़ी(अलवर)
➡ बाला किला, जयसमन्द बाँध, फतह जंग गुम्बन्द- अलवर
➡ भृतहरि का मेला – अलवर
➡ मत्स्य संघ की राजधानी- अलवर

 जिला- बाड़मेर 

➡ राज्य का खजुराहो – किराडू(बाड़मेर)
➡ मल्लिनाथ का तीर्थ पशु मेला – बाड़मेर
➡ आलम जी का धोरा( घोड़ो का तीर्थ स्थल) – गुढामलानी(बाड़मेर)
➡ थार एक्सप्रस का स्टेशन – मुनाबाव(बाड़मेर)
➡ इदिरा गाँधी नहर का अंतिम बिंदु- गडरारोड़( बाड़मेर)
➡ अजरख प्रिन्ट, मलीर प्रिन्ट, थार मोहोत्सव- बाड़मेर
➡ बाड़मेर में तेल की खुदार करने वाली कम्पनी का नाम – केयन इंडिया

 जिला- बॉसवाङा 
( उप नाम- सौ दीपो का शहर )

➡ आनन्दपूरी – भुकिया क्षेत्र( सोने की खान) – बॉसवाङा
➡ घोटिया अम्बा का मेला(चैत्र अमावस्य को)- बॉसवाङा
➡ त्रिपुरी सुन्दरी का मन्दिर- बॉसवाङा
➡ आदिवासियों का कुंभ, वागड़ का पुष्कर, भीलों का सब से बड़ा मेला, सोम-माहि-जाखम नदियो का संगम(राज्य का सब से बड़ा त्रिवेणी संगम- बेणैश्वर धाम( बॉसवाङा)
➡ ऐतिहासिक “मांनगढ़” स्थल- बॉसवाङा

 जिला- बारां 
( उप नाम-वराह नगरी )
➡ सहरिया जनजाति का कुंभ, राज्य में सब से ज्यदा सहरिया जनजाति- सीताबाड़ी( बारां)
➡ फूलदेवरा( मामा-भांजा का मन्दिर)- बारां
➡ राज्य का मिनी खजुराहो – भण्डदेवरा(बारां)
➡ लहसुन मण्डी – छिपा बालोद(बारां)
➡ बाहाणि माता का मन्दिर( राज्य का एकमात्र मन्दिर जिस की पीठ की पूजा की जाती है) – बारां
➡ शेरगढ़ अभ्यारण – बारां
➡ छपडा बिजली परियोजना- बारां        

 जिला-भरतपुर 
( उप नाम- राज्य का प्रवेश Dhuwaar, पूर्वी सिहDhuwaar)

➡ जलमहलो की नगरी, पर्यटन व महल एव फव्वारो के लिए प्रसिद्ध नगर- डीग( भरतपुर)
➡ लौहागढ़ दुर्ग( मिट्टी का किला)- भरतपुर
➡ राष्टीय केवलादेव(राष्टीय पक्षी उधान)- भरतपुर
➡ राष्टीय सरसों अनुसधान केंद्र- सेवर(भरतपुर)
➡ बादशाह दुर्ग, उषा मन्दिर/मस्जिद- बयाना(भरतपुर)
➡ 1527 ई. में बाबर व राणा सागा के मध्य युद्ध स्थल -खानवा(भरतपुर)
➡ जाटो का प्लेटो(अफ़लातून)- सूरजमल जाट( भरतपुर)

 जिला-भीलवाड़ा 
( उप नाम- वस्त्र नगरी, टेक्सटाईल सिटी, राज्य का मेनचेस्टर, अभ्र्क नगरी)

➡ भीलवाड़ा किस नदी किनारे बसा हुवा है- कोठारी नदी के
➡ फड़(पड़)- चित्र कला के लिये प्रसिद्ध( जोशी परिवार प्रसिद्ध )- शाहपुरा
➡ रामस्नेही सम्पर्दाय की पीठ- शाहपुरा
➡ बिजोलिया किसान आंदोलन(विजय सिंह पथिक ने नेतृत्वक किया) बिजोलिया गॉव
➡ अन्तराष्टिय बहरूपिया जांकिलाल भांड का सम्बन्ध- भीलवाड़ा से
➡ आगूचा( सीसा, जस्ता ) के भण्डार- भीलवाड़ा
➡ नाहर नृत्य जो होली के 13 दिन बाद किया जाता है प्रसिद्ध है- माण्डल
➡ मेजा बाँध- भीलवाड़ा
➡ सहकारी क्षेत्र की प्रथम कताई मिल(1997)- गुलाबपुरा
➡ अजता-एलोरा की प्रतिमाओ से समानता रखने वाले मन्दिर है- मेनाल के मन्दिर
➡ सवाईभोज का मन्दिर – आसीन्द
➡ 32 खम्भो की विशांल छतरी- माडल
➡ धरमतलाई(धान्धालाई) नामक तालाब स्थित है- भीलवाड़ा

 जिला- बीकानेर 
( उप नाम- उन का घर, जांगल प्रदेश)

➡ राजस्थान अभिलेखाकर, राज्य भाषा, राज्य साहित्य, राज्य संस्कृत अकादमी- बीकानेर
➡ गुरु जाम्भेशवर की तपोस्थली( विश्नोइ समाज 20+9 नियम) – मुकाम(नोखा)- बीकानेर
➡ कृषि अनुसंधान निदेशालय- बिलानेर
➡ करणीमाता का मन्दिर(चूहो की देवी)- देशनोक( बीकानेर)
➡ “टेस्सीतोरी” की कर्मस्थली- बीकानेर
➡ लाल गढ़ महल, अगिन नृत्य- बीकानेर
➡ एशिया की सबसे बड़ी उन मण्डी- बीकानेर
➡ केंद्रीय ऊट प्रजनन केंद्र- बीकानेर
➡ लूणकरणसर खारे पानी की झील- बीकानेर
➡ ऊट महोत्सव- बीकानेर
➡ जूनागढ़ का किला- बीकानेर
➡ गजनेर अभ्यारण- यहां का बटबङ पक्षी प्रसीद है
➡ राज्य पशु चिकित्सालय कॉलेज – बीकानेर

 जिला-बून्दी 
( उप नाम- छोटी काशी, बावड़ियो का शहर(City Of Step Wells)

➡ 84 खम्भो की छतरी- बून्दी
➡ पशु-पक्षी चित्र शेली( स्कुल ऑफ पेन्टिग) प्रसिद्ध है- बून्दी की
➡ राज्य की प्रथम सीमेन्ट का कारखाना- लाखेरी(बून्दी)
➡ तेजाजी महाराज का पवित्र स्थल- दुगारी(बून्दी)
➡ सहकारी क्षेत्र की प्रथम सुगर मिल- केशोरापाटन(बून्दी)
➡ तारागढ़ का किला- बून्दी
➡ सती प्रथा पर रोक लगाने वाली प्रथम रियासत- बून्दी

4 thoughts on “BSTC EXAM SPECIAL NOTES 03”

  1. अब तक राष्ट्रपति शासन 4 बार लग चुका है 1967, 1977,1980,1992 इनमे सबसे लम्बा 1992मे लगा. राजस्थान मे. धन्यवाद l

Comments are closed.