Daily Current Affairs 25-26 February 2018 ( in Hindi )

Daily Current Affairs 25-26 February

1.टिकाऊ जैव ईंधनों पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन (आईसीएसबी) 2018

Image result for टिकाऊ जैव ईंधनों पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन (आईसीएसबी) 2जैव प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा मिशन इनोवेशन और बायोफ्यूचर प्लेटफॉर्म की तरफ से स्टेन ऑडिटोरियम, इंडिया हैबीटेट सेंटर, नई दिल्ली में संयुक्त रूप से टिकाऊ जैव ईंधन पर एक दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। मिशन इनोवेशन (एमआई) दुनिया भर के 22 देशों और यूरोपीय देशों द्वारा वैश्विक स्तर पर स्वच्छ ऊर्जा नवाचार को गति देने के लिए शुरू की गई वैश्विक पहल है। भागीदार देशों ने इस पहल के तहत 5 वर्षों में स्वच्छ ऊर्जा अनुसंधान एवं विकास पर निवेश को दोगुना करने के लिए प्रतिबद्धता जाहिर की है।

सरकारों, शोधकर्ताओं, निवेशकों और उद्योग के लिए टिकाऊ जैव ईंधन का विकास एक अहम चुनौती के साथ ही मिलकर काम करने का अवसर भी है। केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान और पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे और 26 फरवरी, 2018 को इस प्रदर्शन का उद्घाटन किया।

इस कार्यक्रम में 18 देशों के प्रतिनिधियों के अलावा 300 से ज्यादा भागीदार भाग लेंगे। इस कार्यक्रम का उद्देश्य सरकार के नीति निर्धारकों, उद्योग, निवेशकों और शोधकर्ताओं को अनुभवों और उन्नत जैव ईंधन के विकास और आकलन से संबंधित चुनौतियों के आदान प्रदान के लिए एक समान मंच उपलब्ध कराना है।

02.आरबीआई ने एनबीएफसी के लिए लोकपाल योजना शुरू की

Image result for आरबीआई ने एनबीएफसी के लिए लोकपाल योजना शुरू कीभारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने गैर-बैंकिग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) के लिए 23 फरवरी 2018 को लोकपाल योजना पेश की है. यह व्यवस्था एनबीएफसी की सेवाओं में कमी से जुड़ी शिकायतों के तेज और शुल्क मुक्त निवारण की सुविधा पूरी तरह उपलब्ध कराएगी. एनबीएफसी लोकपाल के कार्यालय दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई और मुंबई महानगरों में कार्य करेंगे. यह कार्यालय संबंधित परिक्षेत्रों के ग्राहकों की शिकायतों पर पूरी तरह विचार करेंगे.

03. अंडमान निकोबार में सबसे बड़े समुद्री नौसैनिक अभ्यास मिलन-2018 का आयोजन

Image result for अंडमान निकोबार में सबसे बड़े समुद्री नौसैनिक अभ्यास मिलन-2018 का आयोजनभारतीय नौसेना मार्च 2018 के दूसरे हफ्ते में अंडमान निकोबार में अब तक के सबसे बड़े समुद्री नौसैनिक अभ्यास मिलन-2018 का आयोजन करने जा रही है. युद्धाभ्यास में हिस्सा लेने के लिए पहली बार एक साथ दुनिया के 22 देशों की नौसेना भारत में जुटेगी यह युद्धाभ्यास नौसेना के अंडमान निकोबार कमांड के तत्वावधान में पोर्ट ब्लेयर में 06 मार्च से 13 मार्च तक आयोजित किया जायेगा.

हिंद महासागर में अंडमान निकोबार द्वीप समूह के आसपास के हजारों वर्गमील समुद्री क्षेत्र में होने वाले इस युद्धाभ्यास के दौरान भारत सहित सभी 22 देशों की नौसेना अपने-अपने युद्धपोतों के साथ शक्ति का प्रदर्शन भी करेंगे. इस बार इस युद्धाभ्यास में गैरकानूनी समुद्री गतिविधियों से निपटने के लिए क्षेत्रीय सहयोग पर ज्यादा फोकस किया जायेगा.

इस वर्ष का मिलन इंटरनेशनल मैरीटाइम सेमिनार का विषय है ‘In Pursuit of Maritime Good Order – Need for Comprehensive Information Sharing Apparatus’.

04. स्वदेश निर्मित ड्रोन रुस्तम-2 का सफल परीक्षण

Image result for स्वदेश निर्मित ड्रोन रुस्तम-2 का सफल परीक्षणभारतीय रक्षा अनुसंधान संगठन (डीआरडीओ) ने 25 फरवरी 2018 को कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले में स्थित अपने परीक्षण केंद्र से स्वदेश निर्मित ड्रोन रुस्तम-2 का सफल परीक्षण किया. इस ड्रोन को भारत में ही बनाया गया है.

रुस्तम-2 एक बार में लगातार 24 घंटे तक उड़ने की क्षमता रखता है और यह लगातार चौकसी कर सकता है और साथ में हथियार भी ले जा सकता है. मध्यम ऊंचाई तक और लंबी अवधि तक उड़ने वाले इस ड्रोन का विकास सेना की तीनों शाखाओं के लिए किया गया है.

05. अरुणा रेड्डी ने जिमनास्टिक विश्व कप में ब्रॉन्ज मेडल जीत कर इतिहास रचा

Image result for अरुणा रेड्डी ने जिमनास्टिक विश्व कप में ब्रॉन्ज मेडल जीत कर इतिहास रचाभारत की जिमनास्ट अरुणा रेड्डी ने 24 फरवरी 2018 को जिमनास्टिक विश्व कप में एकल पदक जीत कर इतिहास रचा. अरुणा रेड्डी जिमनास्टिक विश्व कप में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई हैं.

मेलबर्न में हुए विश्व कप में रेड्डी ने ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया. महिलाओं की वॉल्ट में 22 वर्षीय रेड्डी 13.649 अंक के साथ तीसरे पायदान पर रहीं. वहीँ एक ओर भारतीय खिलाड़ी प्रणति नायक ने 13.416 अंकों के साथ छठा स्थान हासिल किया.

06. वायरल लोड टेस्‍ट का शुभारंभ किया 

Image result for वायरल लोड टेस्‍ट का शुभारंभ किया केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री श्री जे.पी. नड्डा ने  एक समारोह में ‘एचआईवी/एड्स (पीएलएचआईवी) से पीडि़त लोगों के लिए वायरल लोड टेस्‍ट’ का शुभारंभ किया। इस पहल से देश में इलाज करा रहे 12 लाख पीएलएचआईवी का नि:शुल्‍क वायरल लोड टेस्‍ट साल में कम से कम एक बार अवश्‍य कराया जा सकेगा। 

यह वायरल लोड टेस्‍ट आजीवन एंटीरेट्रोवायरल थेरेपी करा रहे मरीजों के इलाज की प्रभावशीलता की निगरानी करने की दृष्टि से विशेष महत्‍व रखता है।  नियमित वायरल लोड टेस्‍ट ‘फर्स्‍ट-लाइन रेजिमेंस (नियमानुसार परहेज)’ के उपयोग को अनुकूलित करेगा, जिससे एचआईवी से पीड़ित लोगों में दवा प्रतिरोध का निवारण हो सकेगा और उनकी दीर्घायु सुनिश्चित होगी।

वर्ष 2017 में भारत ने एंटीरेट्रोवायरल थेरेपी (एआरटी) उपचार प्रोटोकॉल को संशोधित किया था, ताकि एआरटी वाले समस्‍त पीएलएचआईवी के लिए ‘ट्रीट ऑल’ का शुभारंभ हो सके।  यह ‘ट्रीट ऑल’ पहल इसलिए की गई थी, ताकि उपचार जल्‍द शुरू हो सके

07. 338 श्रमिकों को प्रधानमंत्री श्रम पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया  

Image result for 338 श्रमिकों को प्रधानमंत्री श्रम पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया  माननीय उपराष्‍ट्रपति श्री एम.वैंकेया नायडू ने केंद्रीय श्रम और रोजगार राज्‍यमंत्री श्री संतोष कुमार गंगवार की उपस्‍थित में 338 श्रमिकों को प्रधानमंत्री श्रम पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया। उपराष्‍ट्रपति ने वर्ष 2011, 2012, 2013, 2014, 2015 और 2016 के लिए 194 प्रतिष्‍ठित पुरस्‍कार आज यहां एक समारोह में प्रदान किए गए। पुरस्‍कार विजेताओं में केंद्र और राज्‍य सरकारों के कम से कम 500 श्रमिकों वाले सार्वजनिक उपक्रम और निजि इकाइयों में काम करने वाले श्रमिक शामिल थे।

ये पुरस्‍कार अपनी ड्यूटी के प्रति पूरी निष्‍ठा रखने वाले तथा उत्‍पादकता, सुरक्षा, गुणवत्‍ता, नवाचार क्षमता और संसाधनों के संरक्षण के प्रति उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन करने तथा प्रत्‍युन्‍मति और असाधारण साहस का परिचय देने वाले श्रमिकों को दिए गए। पुरस्‍कार उन श्रमिकों को भी दिए गए जिन्‍होंने अपने जिम्‍मेदारियों का निर्वहन करते हुए अपने जान को जोखिम में डाला या फिर अपने प्राणों की आहूति देकर सर्वोच्‍च बलिदान दिया।

श्रम पुरस्‍कारों में से 232 पुरस्‍कार सार्वजनिक क्षेत्र में काम करने वाले और 106 पुरस्‍कार निजी क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों को दिए गए। कुल 338 पुरस्‍कार विजेताओं में से 20 महिलाएं है। दो श्रमिकों को ये पुरस्‍कार मरणोपरांत दिया गया है।

08. भारतीय रेलवे में ‘सृजन’ का शुभारंभ 

Image result for भारतीय रेलवे में ‘सृजन’ का शुभारंभ हितधारकों के साथ सलाह-मशविरा करने के इस उद्देश्‍य को ध्‍यान में रखते हुए भारतीय रेलवे में 635 स्‍टेशनों के विकास के लिए अभिनव विचारों (आइडिया) को आमंत्रित करने हेतु एक प्रतियोगिता ‘सृजन’ (संयुक्‍त कदम के जरिए स्‍टेशन कायाकल्‍प पहल) का शुभारंभ माईगव पोर्टल पर किया गया है।
इस प्रतियोगिता के लिए प्रविष्टियां प्रस्‍तुत करने की अंतिम तिथि 26 मार्च, 2018 है। विजेताओं को प्रमाण पत्र दिए जाएंगे और सुयोग्‍य विचारों को संबंधित डिजाइनों में अंतर्निहित किया जाएगा। आईआरएसडीसी ने लोगो और टैगलाइन के लिए माईगव पोर्टल के जरिए प्रतियोगिता शुरू की है। लोगो प्रतियोगिता के विजेता को 75,000 रुपये का नकद पुरस्‍कार और टैगलाइन के विजेता को भी 75,000 रुपये का नकद पुरस्‍कार दिया जाएगा।वेबसाइट https://www.irsdc.com/images/Invitation%20Concept%20Plan%20120218.pdf  पर दिया गया है। स्‍टेशनों के लिए अपनी अभिरुचि प्रस्‍तुत करने की अंतिम तिथि 09 मार्च, 2018 है।

09. 15 शहरों में अंतरमॉडल स्टेशन बनेंगे

Image result for 15 शहरों में अंतरमॉडल स्टेशन बनेंगेअंतरमॉडल स्टेशन विकसित करने के लिए देश के 15 शहरों को प्राथमिकता दी गई है जिसमें से नागपुर और वाराणसी को पायलट परियोजना के लिए चुना गया है। अंतरमॉडल स्टेशन एक टर्मिनल संरचना है, जहां एक ही स्थान पर रेल, सड़क, मास रैपिड ट्रांजिट प्रणाली, बस रैपिड ट्रांजिट प्रणाली, अंतर्देशीय जल मार्ग, ऑटोरिक्शा, टैक्सी और निजी वाहन एकत्रित होते हैं ताकि लोग बिना किसी बाधा के ऑटोमोबाइल के न्यूनतम उपयोग के साथ एक से दूसरे साधन से आवाजाही कर सकेंगे। 

अंतरमॉडल स्टेशन नई जोड़ने वाली सड़कों, पुलों तथा फ्लाइओवरों के जरिये सड़क नेटवर्क विकास के साथ-साथ एकीकृत रूप में बनाए जायेंगे। ये स्टेशन अगले 30 वर्षों के लिए यात्रियों की संख्या भार सहन करेंगे और इसमें ट्रैवेलेटरों के साथ फुटओवर ब्रिज, सब वे, साझा प्रतीक्षालय, स्वच्छ शौचालय और विश्राम गृह, एकीकृत सार्वजनिक सूचना प्रणाली, आधुनिक अग्निशमन सुविधा तथा आपातक्रिया सेवा, उपयोगी सामान भंडार, कॉनकोर्स तथा स्केलेटर, पर्याप्त सर्कुलेशन स्थान तथा वाणिज्यीक प्रतिष्ठान होंगे। 

10. बंदरगाहों, जलमार्ग और तटों के राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी केंद्र की आधारशिला रखी

Image result for बंदरगाहों, जलमार्ग और तटों के राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी केंद्र की आधारशिला रखी सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, शिपिंग एवं जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री श्री नितिन गडकरी ने आज आईआईटी चेन्नई में बंदरगाहों, जलमार्ग और तटों के राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी केंद्र (एनटीसीपीडब्ल्यूसी) की आधारशिला रखी। इस अवसर पर आज आईआईटी चेन्नई और मंत्रालय ने एक समझौता ज्ञापन पत्र पर हस्ताक्षर भी किए। एनटीसीपीडब्ल्यूसी की स्थापना शिपिंग मंत्रालय के प्रमुख कार्यक्रम सागरमाला के तहत किया गया है। यह बंदरगाहों, भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण और अन्य संस्थानों के लिए इंजीनियरिंग व तकनीकी जानकारी तथा सहायता प्रदान करने के लिए शिपिंग मंत्रालय की एक तकनीकी शाखा के रूप में कार्य करेगी। 

विश्व स्तर के अत्याधुनिक केंद्र के रूप में तैयार की गई, एनटीसीपीडब्ल्यूसी नवीनतम प्रौद्योगिकी उपकरणों का केंद्र होगा और यह विदेशी संस्थानों पर हमारी निर्भरता को कम करेगा। इससे अनुसंधान की लागत बहुत कम हो जाएगी। साथ ही इससे पोर्ट और समुद्री क्षेत्र में काम करने के लिए लागत और समय की बचत होगी।

11. ई-गवर्नेंस पर 21वां राष्ट्रीय सम्मेलन हैदराबाद में 

Image result for ई-गवर्नेंस पर 21वां राष्ट्रीय सम्मेलन हैदराबाद में भारत सरकार का प्रशासनिक सुधार एवं लोक शिकायत विभाग (डीएआरपीजी), इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय एवं तेलंगाना सरकार के साथ मिल कर तेलंगाना के हैदराबाद में 26-27 फरवरी, 2018 को ई-गवर्नेंस पर 21वें राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया।

केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान राज्य मंत्री श्री वाई.एस.चौधरी सम्मेलन के उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता की ! तेलंगाना सरकार के आईटी, नगरपालिका प्रशासन एवं शहरी विकास, उद्योग एवं वाणिज्य, लोक उपक्रम, चीनी, खनन एवं भूगर्भ, एनआरआई मंत्री श्री काल्वकुंतल तरक रामा राव उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि थे।

इस वर्ष के सम्मेलन की थीम है, ‘त्वरित विकास के लिए प्रौद्योगिकी‘

12. राष्ट्रकुल शिक्षा मंत्रियों का 20वा सम्मेलन में फिजी में आयोजित

Image result for राष्ट्रकुल शिक्षा मंत्रियों का 20वा सम्मेलन में फिजी में आयोजितकेंद्रीय मानव संसाधन विकास; एवं जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण राज्य मंत्री डॉ. सत्यपाल सिंह ने फिजी के नादी में 19-23 फरवरी, 2018 के दौरान आयोजित राष्ट्रकुल शिक्षा मंत्रियों के 20वें सम्मेलन (20 सीसीईएम) में भारतीय शिष्टमंडल का नेतृत्व किया। सम्मेलन की थीम थी ‘अनुकूलता एवं लचीलापन: क्या शिक्षा कारगर हो सकती है?

सतत विकास लक्ष्यों का मूल उद्वेश्य हमारे शिक्षकों एवं छात्रों में भी सार्वभौमिक, मानवतावादी, नैतिक एवं आध्यात्मिक मूल्यों को अंतर्निविष्ट करना एवं उनका पोषण करना है।

13. बायो एशिया का 15वां संस्करण हैदराबाद में आयोजित

तेलंगाना सरकार के वार्षिक प्रमुख समारोह, बायोएशिया के 15वें  संस्करण को हैदराबाद में आयोजित किया गया बायो एशिया 2018 का विषय “Right Time, Right Now” था जिसका उद्देश्य परिवर्तन की गति और वितरण और स्वास्थ्य देखभाल वितरण के लिए नए मॉडल विकसित करने हेतु नवीन तरीके विकसित करने के लिए रणनीतियों पर ध्यान केंद्रित करना था.आयरलैंड, नीदरलैंड और दक्षिण अफ्रीका अंतर्राष्ट्रीय साझेदार थे जबकि गुजरात, असम और राजस्थान इस कार्यक्रम के साझेदार राज्य थे.

 

Source of the Current Affairs ( With Respect ) : Ndtv India, Ibn7, Dainik Bhaskar , Hindustan Times, India Govt News Portal, Aaj tak, Panjab Keshari , Amar Ujala, Dainik Jagran, Dainik  Bhaskar, Rashtriya Sahara, The Hindu, BBC Portal, The Economic Times(Hindi& English), AAJ TAK, Nav Bharattimes & pib.nic press.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.