DAILY CURRENT AFFAIRS 02 JANUARY 2018

1.: सत्येन्द्र नाथ बोस की 125वीं जयंती के समारोह
कोलकाता में प्रोफेसर सत्येन्द्र नाथ बोस की 125वीं जयंती के समारोहों के उद्घाटन कार्यक्रम को वीडियो-कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि देश के वैज्ञानिकों और अनुसंधानकर्ताओं को अपने ज्ञान और अनुसंधान का इस्तेमाल जनता के फायदे और उनकी सामाजिक-आर्थिक जरूरतों के लिए करना चाहिए।
देश में हर वैज्ञानिक और अनुसंधानकर्ता को नए भारत के लिए नवाचार और अनुसंधान करना चाहिए।

2. भारतमाला से निकलेंगे 8 एक्सप्रेस वे
देश में एक्सप्रेस वे निर्माण का दौर शुरू हो गया है और इसमें भारतमाला परियोजना की महत्वपूर्ण भूमिका है। इस परियोजना से देश में आठ एक्सप्रेस वे के निर्माण होंगे। इनमें दिल्ली-जयपुर, दिल्ली-अमृतसर-कटरा और कानपुर-लखनऊ एक्सप्रेस वे शामिल हैं। अगले दो-तीन महीने के भीतर डीपीआर तैयार हो जाएगा। लिहाजा मार्च के बाद नए एक्सप्रेस वे को बनाने की औपचारिकताएं पूरी करने की गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। हालांकि कुछ एक्सप्रेस वे परियोजनाओं पर काम चल रहा है और मार्च तक इनमें एक-दो एक्सप्रेस शुरू हो जाएंगे।
भारतमाला परियोजना के पहले चरण में 24,800 किलोमीटर नेशनल हाइवे का निर्माण किया जाना है और इस पर 5,35, 000 करोड़ रपए खर्च किए जाएंगे। यह परियोजना वर्ष 2017-18 से लेकर 2021-22 तक पूरी हो जाएगी। पहले चरण में दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेस वे, दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस वे, वड़ोदरा-मुंबई एक्सप्रेस वे, हैदराबाद-विजयवाड़ा-अमरावती एक्सप्रेस वे, नागपुर-हैदराबाद-बेंगलुरू एक्सप्रेस वे, कानपुर-लखनऊ एक्सप्रेस वे और अमरावती में रिंग रोड एक्सप्रेस वे शामिल हैं।
ता है।

3. इजरायल में मिली 2700 साल पुरानी मुहर की छाप
इजरायल के पुरातत्व वैज्ञानिकों ने 2,700 साल पुरानी मिट्टी की मुहर की छाप खोजी है। बताया जा रहा है कि यह मुहर यरुशलम के गवर्नर की थी, जिसका उल्लेख बाइबल में भी किया गया है। मुहर की इस छाप को पुराने यरुशलम में स्थित यहूदियों के पवित्र स्थल वेस्टर्न वॉल के करीब खोजा गया। सबसे शक्तिशाली स्थानीय पद था गवर्नर का : मुहर की इस छाप पर प्राचीन हिब्रू लिपि में लिखा है, ‘शहर के गर्वनर की संपत्ति।’ 


4. पहली बार विदर्भ बना रणजी चैंपियन
पहली बार फाइनल खेल रही विदर्भ ने सात बार की चैंपियन दिल्ली को चौथे ही दिन नौ विकेट से हराकर रणजी ट्रॉफी का खिताब जीत लिया। विदर्भ ने पहली बार रणजी ट्रॉफी खिताब जीता है। वह यह खिताब जीतने वाली 18वीं टीम बनीं। होलकर स्टेडियम के लिए भी यह एक रिकॉर्ड है, लगातार दूसरी बार रणजी ट्रॉफी फाइनल की मेजबानी करते हुए उसने अप्रत्याशित नया चैंपियन दिया। पिछले साल जनवरी में गुजरात ने यह खिताब जीता था। होलकर स्टेडियम एक ही साल में दो रणजी फाइनल की मेजबानी करने वाला पहला मैदान बना गया

5. नैनोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में दुनिया में तीसरे स्थान पर है भारत
केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि भारत नैनोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में दुनिया में तीसरे स्थान और विज्ञान संबंधी प्रकाशनों के मामले में पांचवे स्थान पर है। उन्होंने आगे कहा, “वैज्ञानिक शोध में सरकारी मदद वाली दुनियाभर की 1,200 संस्थाओं में हमारी संस्था कॉउंसिल ऑफ साइंटिफिक एेंड इंडस्ट्रियल रिसर्च (सीएसआईआर) 9वें स्थान पर पहुंच गई है।”

6. सौरमंडल के बाहर खोजे गए बृहस्पति सरीखे चार ग्रह ‘हॉट ज्यूपिटर
जर्मनी स्थित मैक्स प्लांक इंस्टीट्यूट फॉर एस्ट्रोनॉमी के वैज्ञानिकों ने हंगरी में स्थापित स्वचालित टेलीस्कोप नेटवर्क-साउथ की मदद से सौरमंडल के बाहर एचएटीएस-50बी, एचएटीएस-51बी, एचएटीएस-52बी और एचएटीएस-53बी नाम के चार ग्रह खोजने में सफलता हासिल की। ये सभी ग्रह दस दिनों में ही अपने तारों की परिक्रमा पूरी कर लेते हैं। इनमें बृहस्पति जैसी कुछ विशेषताएं पाई गई हैं, जिनकी वजह से इन्हें ‘हॉट ज्यूपिटर’ कहा गया है। ये सभी काफी नजदीक से अपने तारों की परिक्रमा करते हैं इसलिए इनकी सतह का तापमान काफी अधिक है।  खोजे गए ग्रहों में एचएटीएस-50बी सबसे छोटा और कम द्रव्यमान वाला है, जबकि एचएटीएस-51बी सबसे बड़ा है। हमारे सौरमंडल से 1,560 प्रकाश वर्ष दूर स्थित यह ग्रह केवल 3.35 दिन में ही अपने तारे की परिक्रमा पूरी कर लेता है।

7. उत्तर प्रदेश में 26 जनवरी से मोबाइल पर शुरू होगा पैनिक बटन
मंगलवार को महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने 2018 के एजेंडे की जानकारी देते हुए बताई कि पैनिक बटन का यूजर ट्रायल 26 जनवरी से उत्तर प्रदेश में शुरू होगा।  मुसीबत में फंसी महिला पैनिक बटन दबा कर तत्काल मदद मांग सकेगी। महिलाओं के प्रति अपराध में अग्रणी उत्तर प्रदेश में महिला की सुरक्षा सुनिश्चित करने की दिशा में यह महती कदम होगा। उत्तर प्रदेश के बाद देश के अन्य राज्यों में भी इसी वर्ष मोबाइल पर पैनिक बटन शुरू होगी। 

8. सलिल एस. पारेख होंगे इन्फोसिस के नए MD और CEO
दिग्गज आईटी कंपनी इन्फोसिस ने शनिवार को सलील एस. पारेख को कंपनी का नया सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर नियुक्त किए जाने का ऐलान किया है। पारेख 2 जनवरी से कार्यभार संभाल । अभी पारेख फ्रांसीसी आईटी सर्विसेज कंपनी कैपजेमिनाइ के ग्रुप एग्जिक्युटिव बोर्ड के सदस्य हैं। उन्होंने कॉर्नल यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस और मकैनिकल इंजिनियरिंग की मास्टर डिग्री हासिल की है।  नंदन नीलेकणी इन्फोसिस के नॉन-एग्जिक्युटिव चेयरमैन बने रहेंगे। कंपनी के अंतरिम सीईओ प्रवीण राव को चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (COO) बनाया जाएगा। इस साल अगस्त में विशाल सिक्का ने एन. आर. नारायणमूर्ति समेत कुछ संस्थापक सदस्यों के साथ मतभेदों के बाद एमडी और सीईओ पद से इस्तीफा दे दिया था। 

9. राज्यसभा में 15 साल बाद बन गया इतिहास
राज्यसभा में मंगलवार को जमकर कामकाज हुआ और एक नया रिकॉर्ड बन गया. 15 साल बाद हुआ जब शून्यकाल में सभी तारांकित प्रश्नों के उत्तर दिए गए और शून्य काल में सबको मौका मिला. शून्य काल में 19 सांसदों ने जनता से जुड़े मुद्दों को उठाया. 11 सांसदों ने अपना बयान दिया, जबकि बाकी ने लिखित बयान सदन के पटल पर रखा. सभापति वेंकैया नायडू ने शून्यकाल पूरा होने पर इसका जिक्र किया और कहा कि राज्यसभा ने एक छोटा सा इतिहास रचा है. 
नायडू ने कहा कि यह सदस्यों के सहयोग के कारण संभव हो सका है. 

10. कर्नाटक सरकार को मिलेंगी बिजली से चलने वाली गाड़ियां
कर्नाटक सरकार ने आज कहा कि उसे केंद्र की फेम-इंडिया योजना के तहत इलेक्ट्रिक वाहन प्राप्त होंगे. इस योजना के तहत इलेक्ट्रिक गाड़ियों की खरीद पर सब्सिडी मिलती है.राज्य के उद्योग मंत्री आर वी देशपांडे ने बयान में कहा कि कर्नाटक 40 इलेक्ट्रिक बसों, 100 चौपहिया वाहनों और 500 तिपहिया वाहनों को खरीदने और चलाने के साथ बेंगलुरु में चार्जिंग के लिए बुनियादी ढांचा स्थापित करने की तैयारी में है.

​11.आज ही के दिन 64 वर्ष पहले अस्तित्व में आया था ‘भारत रत्न’ सम्मान

2 जनवरी, 1954 को देश का सर्वोच्च नागरिक सम्‍मान ‘भारत रत्न’ अस्तित्व में आया था । यह सम्मान कला, साहित्‍य और विज्ञान के क्षेत्र में असाधारण सेवा तथा उच्‍चतम स्‍तर की लोक सेवा को मान्‍यता देने के लिए दिया जाता है। वहीं, ऐसा कोई लिखित प्रावधान नहीं है कि भारत रत्‍न केवल भारतीय नागरिकों को ही दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.