Daily Current Affairs 28-29 January 2018

Daily Current Affairs 28-29 January 2018

दैनिक समसामयिकी

1.  अर्थव्यवस्था के दस अहम तथ्य : 2017-18

  • • आर्थिक सुधारों पर नहीं लगेगा ब्रेक, होंगी कुछ अहम घोषणाएं
    • किसान व महिलाओं के लिए बजट आवंटन में नहीं होगी कमी
    • व्यक्तिगत और कॉरपोरेट कर में राहत संभव
    • राजकोषीय घाटे को लेकर नहीं बरती जाएगी ज्यादा कड़ाई
    • फर्टिलाइजर व बिजली सब्सिडी पर और चलेगी कैंची, बड़ी घोषणा संभव
    • ग्रामीण विकास के फंड में नहीं होगी कमी
    • अन्य फ्लैगशिप योजनाओं में भी नहीं होने दी जाएगी फंड की कमी
    • युवाओं को रोजगार देने को लेकर दिख सकती है
    • नई सोचक्या हैं बड़ी चुनौतियां
    • महंगे होते कच्चे तेल से गड़बड़ा सकता है गणित
    • उत्तर कोरिया और खाड़ी के देशों की अस्थिरता से भी खतरा
    • दूसरे देशों की तरफ से अपनाई जाने वाली संरक्षणवादी नीतियां
    • देश में नौकरी योग्य युवाओं की बढ़ती संख्या
    • सरकारी बैंकों की खराब स्थिति

2. भारत बनेगा सबसे तेज अर्थव्यवस्था
नोटबंदी और जीएसटी के क्रियान्वयन में शुरुआती कठिनाइयों के चलते डगमगाई अर्थव्यवस्था फिर से फर्राटा भरने को तैयार है। भारत अगले वित्त वर्ष में दुनिया की सर्वाधिक तेज वृद्धि दर वाली प्रमुख अर्थव्यवस्था बन सकता है। वित्त वर्ष 2018-19 में देश की विकास दर बढ़कर 7 से 7.5 फीसद रहने का अनुमान है। आर्थिक सर्वेक्षण में चालू वित्त वर्ष में देश की विकास दर 6.75 फीसद रहने का अनुमान लगाया गया है। आर्थिक सर्वेक्षण के मुताबिक, नोटबंदी, जीएसटी के क्रियान्वयन में शुरुआती दिक्कतों के चलते चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश की अर्थव्यवस्था की रफ्तार थोड़ी धीमी पड़ गई थी। कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें, उच्च ब्याज दरें, बैंकों के फंसे कर्ज की समस्या और खाद्यान्न की कीमतों में तेज गिरावट भी इसकी वजह बनीं। 

3. मलेशिया में हिन्दू महिला ने जीती अपने बच्चों के धर्मातरण की कानूनी लड़ाई
मलेशिया में एक हिन्दू महिला ने अपने बच्चों के धर्मातरण की कानूनी लड़ाई जीत ली है। मलेशिया की सर्वोच्च अदालत ने सोमवार को सर्वसम्मति से महिला के पक्ष में सुनाया। अदालत ने ऐतिहासिक फैसले में कहा कि नाबालिग के धर्मातरण के लिए माता-पिता यानी दोनों अभिभावकों की सहमति जरूरी है। महिला के पूर्व पति ने उसे बताए बगैर ही उसके तीन बच्चों को इस्लाम धर्म कबूल करा दिया था। एम इंदिरा गांधी पिछले करीब नौ साल से यह कानूनी लड़ाई लड़ रही थीं।

4. आजाद समेत पांच को उत्कृष्ट सांसद पुरस्कार
कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी समेत पांच सासंदों को सोमवार को उत्कृष्ट सांसद पुरस्कार के लिए चुना गया। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की अध्यक्षता वाले भारतीय संसदीय समूह (आईपीजी) ने एक बयान में कहा कि इनके अलावा जिन्हें पुरस्कार के लिए चुना गया है, उनमें मणिपुर की राज्यपाल और पांच बार की राज्यसभा सांसद नजमा ए. हेपतुल्ला (2013), भाजपा के लोकसभा सदस्य हुकुमदेव नारायण यादव (2014) और पांच बार के राज्यसभा सदस्य लोक बीजू जनता दल के भर्तृहरी महताब (2017) शामिल हैं। आजाद और त्रिवेदी को क्रमश: 2015 और 2016 के लिए चुना गया है। उत्कृष्ट सांसद पुरस्कार 1995 में शुरू किए गए थे।

5. ग्रैमी अवॉर्डस : ब्रूनो मार्स, केंड्रिक लेमर छाए
न्यूयॉर्क में आयोजित 60वें ग्रैमी अवार्डस में गायक ब्रूनो मार्स और केंड्रिक लेमर की धूम रही। समारोह में कई कलाकारों ने प्रस्तुतियां दी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर भी खूब तंज कसे गए। मैडिसन स्क्वायर गार्डन में रविवार रात आयोजित समारोह में आठ नामांकनों के साथ पुरस्कार की दौड़ में आगे चल रहे रैपर जे-जी को खाली हाथ लौटना पड़ा, जबकि मार्स ने सात पुरस्कार बटोरे। ब्रूनो मार्स को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड, वर्ष की सर्वश्रेष्ठ अल्बम, सर्वश्रेष्ठ आरएंडबी अल्बम, सर्वश्रेष्ठ इंजीनिर्यड अल्बम ‘‘24के मैजिक’ के लिए नॉन-क्लासिकल और एकल गीत ‘‘दैट्स वाट आई लाइक’ को ‘‘वर्ष का सर्वश्रेष्ठ गीत’ (सॉन्ग ऑफ द ईयर), सर्वश्रेष्ठ आरएंडबी गीत और सर्वश्रेष्ठ आरएडंबी परफॉम्रेस का पुरस्कार मिला।
लेमर ने ‘‘हंबल’ के लिए सर्वश्रेष्ठ संगीत वीडियो, सर्वश्रेष्ठ रैप प्रस्तुति, और सर्वश्रेष्ठ रैप गीत का पुरस्कार जीता। ‘‘लॉयल्टी’ के लिए उन्होंने रैप कॉलेबरेशन का पुरस्कार जीता। इसमें रिहाना भी थीं। ‘‘डैम’ के लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ रैप अल्बम का पुरस्कार जीता। इस साल लोर्डे एकमात्र महिला रहीं, जो वर्ष के सर्वश्रेष्ठ अल्बम की श्रेणी में नामित हुई थीं, जबकि शकीरा ने ‘‘एल डोराडो’ के लिए सर्वश्रेष्ठ लैटिन पॉप अल्बम का पुरस्कार जीता। पॉप गायिका एलिसिया कारा सर्वश्रेष्ठ नवोदित कलाकार का ग्रैमी जीतने वाली पहली कनाडाई रहीं, जबकि अभिनेत्री कैरी फिशर और गायक लियोनार्ड कोहेन को मरणोपरांत इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

6. बुजुर्गो के लिए ‘बापू की कुटिया’ मिलेगा 80 हजार तक का इलाज
अब छत्तीसगढ़ के बुजुर्ग बेसहारा नहीं रहेंगे। इलाज के लिए उन्हें किसी की दया पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। अकेला घर काटने को दौड़ेगा तो बापू की कुटिया में हमउम्र लोग दर्द और समय बांटने के लिए साथ होंगे। राज्य सरकार ने गणतंत्र दिवस के ठीक एक दिन बाद प्रदेश के बुजुर्गो को दो महत्वपूर्ण सौगातें दीं। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इसकी घोषणा की।
आरएसबीवाइ-एमएसबीवाइ हेल्थ कार्ड में जहां एक परिवार को सालाना 50 हजार रुपये तक इलाज का खर्च निशुल्क मिलता हैे वहीं अब बुजुर्गो के लिए इसमें अतिरिक्त 30 हजार रुपये मिलेंगे। यानि वे 80 हजार रुपये तक का इलाज करा सकेंगे। स्वास्थ्य विभाग ने पूरा प्लान तैयार कर लिया है। 1गौरतलब है कि अगर आपके घर में दो बुजुर्ग हैं तो दोनों के लिए अलग-अलग 30-30 हजार का पैकेज होगा। कलेक्ट्रेट परिसर में बापू की कुटिया का उद्घाटन हुआ, जहां बुजुर्गो को टीवी, कैरम, शतरंज जैसे मनोरंजन के साधन मुहैया कराए गए हैं। इस जैसी 50 और कुटिया का निर्माण कराया जाएगा, जिसके लिए बजट 6 करोड़ 76 लाख रुपये है। देश में ‘बापू की कुटिया’ अपनी तरह का पहला प्रयोग है, जिसके लिए मुख्यमंत्री ने कलेक्टर ओपी चौधरी, निगमायुक्त रजत बंसल की प्रशंसा की।

7. सर्वोच्च साइबर अपराध समन्वय केंद्र स्थापित करेगी सरकार

वित्तीय धोखाधड़ी, सांप्रदायिक और अश्लील सामग्री के संचालन जैसे साइबर अपराधों से निपटने के लिए, केंद्रीय गृह मंत्रालय एक शीर्ष समन्वय केंद्र स्थापित करने की योजना बना रहा है और राज्यों को हर जिले में एक समान तंत्र स्थापित करने को कहा है।केन्द्र ने प्रत्येक राज्य में पुलिस अधिकारियों के लिए साइबर फोरेंसिक प्रशिक्षण प्रयोगशाला-सह-प्रशिक्षण केन्द्र स्थापित करने के लिए 83 करोड़ रुपये जारी किए हैं। यह धन महिलाओं और बच्चों के खिलाफ साइबर अपराध की रोकथाम योजना के तहत दिया गया है।
शीर्ष केंद्र – भारतीय साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर (I4C) – दिल्ली में स्थापित किया जाएगा।

8. सिद्धेश्वर स्वामी ने पद्म श्री लेने से इंकार किया

कर्नाटक के संत सिद्धेश्वर स्वामी ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होनें प्रतिष्ठित पद्म श्री पुरस्कार को स्वीकार करने की अपनी अनिच्छा व्यक्त की है। पत्र में उन्होंने उल्लेख किया कि वह भारत सरकार के प्रति आभारी हैं, लेकिन उन्हें पुरस्कारों में कोई दिलचस्पी नहीं है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, उन्होंने स्पष्ट किया है कि उनके इनकार का राजनीति से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने अपने जीवन में कभी कोई सम्मान स्वीकार नहीं किया है। उन्होंने कुछ साल पहले कर्नाटक विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टरेट की मानद उपाधि लेने से भी इनकार कर दिया था।

9. ‘आधार’ ऑक्सफ़ोर्ड का पहला हिंदी वर्ड ऑफ द ईयर बना

2017 के लिए हिंदी वर्ड ऑफ द ईयर ‘आधार’ है। जयपुर साहित्य महोत्सव में ऑक्सफोर्ड डिक्शन्ररी द्वारा यह घोषित किया गया। ‘आधार’ साल का पहला ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी हिंदी शब्द भी बन गया है। शॉर्टलिस्ट किए गए शब्दों में नोटबंदी, स्वच्छ, विकास, योग और बाहुबली शामिल हैं।

10. दिल्ली में पहले ‘खादी हाट’ का उद्घाटन हुआ

69 वें गणतंत्र दिवस समारोह को चिह्नित करते हुए, खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) और नई दिल्ली नगर परिषद (एनडीएमसी) ने देश में पहला खादी हाट लॉन्च किया है। कनाट प्लेस, नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह द्वारा 25 जनवरी को खादी हाट का उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर नई दिल्ली लोकसभा सांसद मीनाक्षी लेखी, केवीआईसी के अध्यक्ष वी के सक्सेना और एनडीएमसी अध्यक्ष नरेश कुमार उपस्थित थे।

11. गणतंत्र दिवस परेड: महाराष्ट्र ने सर्वश्रेष्ठ झांकी पुरस्कार जीता

राजपथ में गणतंत्र दिवस परेड में छत्रपति शिवाजी महाराज के राज्याभिषेक को दर्शाते हुए महाराष्ट्र की झांकी को पहला पुरस्कार मिला तीन सैन्य सेवाओं में से सेना की पंजाब रेजिमेंट के दल को सर्वश्रेष्ठ मार्चिंग ट्राफी से सम्मानित किया गया, जबकि इंडो-तिब्बत सीमा पुलिस दल ने पैरा सैन्य और अन्य सहायक बलों के बीच सर्वश्रेष्ठ जुलूस प्रतियोगिता जीती। मंत्रालयों के बीच, सर्वश्रेष्ठ झांकी पुरस्कार युवा और खेल मंत्रालय को मिला जिसमें खेल के विकास के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम ‘खेलो इंडिया’ को दर्शाया गया। स्कूली बच्चों द्वारा प्रदर्शन में, दक्षिण मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र के ‘बैरदी नृत्य’ (मध्य प्रदेश से) को प्रथम पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 

12. विश्व में नारियल उत्पादन में भारत अग्रणी देश

केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने कहा है कि बिहार में नारियल विकास बोर्ड की प्रमुख योजनायें नारियल के उत्पादन, उत्पादकता, नारियल उत्पादों के प्रसंस्करण, मूल्यवर्धन, विपणन एवं निर्यात बढ़ाने में ज़ोर दे रही हैं। कृषि मंत्री ने यह बात पटना में केंद्र सरकार के अधीन नारियल विकास बोर्ड के किसान प्रशिक्षण केंद्र एवं क्षेत्रीय कार्यालय भवन के लोकार्पण के अवसर पर कही। श्री सिंह ने बताया कि विश्व में नारियल उत्पादन और उत्पादकता में भारत अग्रणी देश है। हमारा वार्षिक नारियल उत्पादन 20.82 लाख हेक्टर से 2395 करोड़ नारियल है और उत्पादकता प्रति हेक्टर 11505 नारियल है। देश के सकल घरेलू उत्पाद में नारियल का योगदान करीब 27900 करोड़ रुपए है।

13. गोवा में इंडिया इंटरनेशनल सीफ़ूड शो का 21 वां संस्करण शुरु

द्विवार्षिक भारत इंटरनेशनल सीफ़ूड शो का 21 वां संस्करण दक्षिण गोवा में मडगांव में शुरु हो गया है मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने तीन दिवसीय प्रमुख व्यापार कार्यक्रम का उद्घाटन किया। यह समुद्री उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एमपीईडीए और सीफ़ूड निर्यात एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एसईएआई) द्वारा आयोजित किया जा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.