Indian History Test 35 : Economic impact of British Rule in India

Please support us by sharing on
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इतिहास : भारत मे ब्रिटिश शासन का आर्थिक प्रभाव

By the participating in this Indian History Test 35 you will improved your knowledge and get good score in UPSC IAS/IPS, SSC, Ras, MPPSC, BPSC, UPSSSC, School and College Lecturer Patwari, Police, Bank, PTet, Net JRF, CTET, REET and other Exams.

Directions: 

  1. Read the following Indian History Test 35 carefully and answer the question based on it.
  2. Try to solve all Questions in given time. 
  3. Total number of questions : 20
  4. Time alloted : 12 minutes.
  5. Each question carry 1 mark, no negative marks.

 

0%
0 votes, 0 avg
6

10 minutes

Test Finish


Created on

Indian History Test 47

Best of Luck for Quiz

1 / 20

टाटा परिवार ने सबसे पहले किस उद्योग में प्रवेश किया था?

2 / 20

दादा भाई नौरोजी ने कुछ लेखों में धन के निष्कासन के सिद्धांत की व्याख्या की इन लेखों में कौन सा एक शामिल नहीं है?

3 / 20

भारत में अंग्रेजो की मुक्त व्यापार नीति का उद्देश्य था?

4 / 20

औपनिवेशक लूट’ का काल कहा जाता है?

5 / 20

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के किस अधिवेशन में सर्वप्रथम धन के निष्कासन के सिद्धांत को स्वीकार किया?

6 / 20

धन के निकास का सिद्धांत सर्वप्रथम दादा भाई नौरोजी ने अपने किस लेख में दिया?

7 / 20

बंगाल में भू राजस्व की स्थाई बंदोबस्त प्रथा को लागू किया गया था?

8 / 20

ब्रिटिश भारत में निम्नलिखित भूमि कर प्रणालियों का सही कालक्रम क्या है?
1. रैय्यतवाडी प्रणाली 2. स्थायी बंदोबस्त 3. महालवाडी प्रणाली 4. नीलामी प्रणाली_

9 / 20

रैयतवाड़ी व्यवस्था का जन्मदाता माना जाता है?

10 / 20

स्थाई बंदोबस्त व्यवस्था को किस अन्य नाम से भी जाना जाता था?

11 / 20

किस गवर्नर जनरल के समय भारत में रेलवे लाइन का सर्वाधिक विस्तार हुआ?

12 / 20

भारतीय औद्योगिक आयोग की स्थापना हुई थी?

13 / 20

निम्न में से असत्य कथन छांटिए?

14 / 20

दादा भाई नौरोजी प्रति व्यक्ति आय का अनुमान लगाने वाले प्रथम राष्ट्रवादी नेता थे दादाभाई के अनुसार 1867-68 में प्रतिव्यक्ति आय थी?

15 / 20

ब्रिटिश भारत में साहूकारों की उत्पत्ति का कारण क्या नहीं है?

16 / 20

ब्रिटिश भारत में रेलवे की कोई उपयोगिता नहीं है यह दूसरे की पत्नी को अलंकृत करने जैसा है” रेलवे के बारे में उक्त कथन था?

17 / 20

ब्रिटिश शासन में भूराजस्व व्यवस्था के बारे में निम्न कथनों का परीक्षण कीजिए?
(अ) वारेन हेस्टिंग्स ने 1772 ईसवी में बंगाल में द्वैध शासन व्यवस्था समाप्त इजारेदारी प्रथा या खेती व्यवस्था की शुरूआत की इस प्रथा मे में भू राजस्व वसूली का कार्य करने सबसे अधिक बोली लगाने वाले को ठेके पर दिया जाता था_
(ब) वारेन हेस्टिंग्स ने 1772 ईस्वी में भू-राजस्व के वार्षिक बंदोबस्त के स्थान पर 5 वर्ष का बंदोबस्त किया_
(स) बंगाल में स्थाई बंदोबस्त का विचार सर्वप्रथम वारेन हेस्टिंग्स ने के काल में फिलिप फ्रांसिस ने दिया परंतु वारेन हेस्टिंग्स ने इसका विरोध किया_
(द) इजारेदारी प्रथा के कारण किसानों का शोषण में बिल्कुल कमी महसूस की गई_
ऊपर दिए गये कथनो मे से कोनसा/से कथन सत्य नही है/हैं

18 / 20

ब्रिटिश भारत के सर्वाधिक क्षेत्र 51 प्रतिशत में लागू थी?

19 / 20

स्थायी बंदोबस्त के बारे मे निम्न कथनो का परीक्षण कीजिए?
(अ) इसमें जागीरदारों को भूमि का स्वामी बना दिया गया_
(ब) इसके अंतर्गत जमीदारों को भू राजस्व वसूल कर उस का ग्यारवा हिस्सा अपने पास रखना पड़ता था वह शेष 10/11 हिस्सा कंपनी के पास जमा कराना पड़ता था_
(स) निर्धारित तिथि तक भूराजस्व कंपनी के पास जमा न करने पर ‘सूर्यास्त कानून’ द्वारा जमीदारी जब्त कर नीलाम कर दी जाती थी_
ऊपर दिए गये कथनो मे से कोनसा/से कथन सत्य नही है/हैं

20 / 20

ब्रिटेन की आर्थिक नीतियों के कारण किस काल में भी अनौद्योगीकरण की शुरू प्रक्रिया प्रारंभ हुई?

Please fill up your Name & Email for Quiz winner list.

Your score is

The average score is 31%

0%

Our Other Test Series : 

आप Indian History Test 35 के अलावा Police, Reet, School Lecturer (स्कूल व्याख्याता), Railway परीक्षा से सम्बंधित Test Series में भाग लेने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे

  1. Reet Exam 2020 Test Series 
  2. School Lecturer Exam 2020 Test Series
  3. RAJASTHAN POLICE EXAM TEST SERIES

विशेष अनुरोध :- 

  1. आपको टेस्ट सीरीज अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बताये ताकि वो भी इसका फायदा ले सके
  2. Test में कही भी कोई त्रुटि हो तो कमेंट करके जरुर बताये
  3. टेस्ट की गुणवत्ता के बारे में आपका कोई भी सुझाव हो तो जरुर बताये ताकि हम इसको और बेहतर कर सके आपकी अति कृपा होगी 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *