RAS ART AND CULTURE QUIZ 08

RAS ART AND CULTURE QUIZ 08

Q-.1.. डिंगल शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किसने किया??
A- जग्गा  खिड़िया
B- बीठू  सूजाजी
C-  उद्योतन सूरी
D-आसियॉ बांकीदास

D-आसियॉ  बॉकीदास( राजस्थान के प्रसिद्ध कविता  आसियॉ बॉकीदास  ने अपनी रचना को   कुकविबत्तीसी में इस शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किया था  बॉकीदास परंपरागत चारण शैली और प्राचीन डिंगल भाषा के अग्रणी रचनाकार थे उनका जन्म जोधपुर राज्यांतर्गत पचपदरा परगने के  मांडियावास  ग्राम में संवत 1828 में हुआ था यह जोधपुर महाराजा मानसिंह के काव्य गुरु थे बांकीदास री ख्यात इनका प्रमुख ग्रंथ है) ?✔

Q-2.. स्वतंत्रता के पश्चात राजस्थानी में लिखा गया प्रथम उपन्यास कौनसा है??
A- कनक सुंदर
B-  आभैपटकी
C- केसर विलास
D- कल्पसूत्र

B-आभैपटकी(1956 में श्री लाल नथमल जोशी द्वारा  रचित प्रथम उपन्यास है इनका जन्म 1921 में बीकानेर में हुआ था प्रख्यात कवि संगीतकार अनुवादक संपादक उपन्यासकार और व्यंग लेखक हैं  धोरा री धोरी  ,एक बीनणी दो बींद  इनके उपन्यास और  परण्योड़ी कंवारी इनके कहानी संग्रह है )?✔

Q-3.. आठवीं शताब्दी में रचित किस ग्रंथ में 18 देशी भाषाओं का वर्णन किया गया है??
A-कुवलयमाला
B-तेराहर
C-मेवे रा रुख
D-गुणसार

A-कुवलयमाला( इस ग्रंथ की रचना उद्योतन सूरी द्वारा जालौर में रहकर 778 ईस्वी के आसपास की थी यह एक तरह से प्राकृत ग्रंथ है  इस ग्रंथ में 18 देसी  भाषाओं का उल्लेख किया गया है 18 भाषाओं में पश्चिमी राजस्थान की मरू भाषा का भी उल्लेख मिलता है )?✔

Q-4.. निम्न में से कौन सी कृति प्रसिद्ध राजस्थानी साहित्यकार शिवचंद्र भरतीय द्वारा लिखित है??
A- कनक सुंदर
B- केसर विलास
C- विश्राम प्रवास
D- उपरोक्त सभी

D-उपरोक्त सभी राजस्थानी में प्रथम कहानी विश्रांत प्रवास प्रथम उपन्यास कनक सुंदर और प्रथम नाटक केसर विलास आदि शिवचंद भरतिया की रचना है  शिवचंद भरतिया को राजस्थानी का भारतेंदू हरिश्चंद का जाता है उनके पूर्वज जोधपुर राज्य के डीडवाना गांव के निवासी थे उनका जन्म हैदराबाद  कन्नड़ गांव में 1910 में हुआ था )?✔

Q-5.. गिरधर आसिया द्वारा लिखित डिंगल भाषा का ग्रंथ है??
A- खुमान रासो
B- हम्मीर रासो
C-  पृथ्वीराज रासो
D-सगत रासो

-D-सगत रासो(कुछ पुस्तकों में इस ग्रंथ को सगत सिंह रासो भी कहा गया है 963 छंदों के इस प्रबंध काव्य में महाराणा प्रताप के छोटे भाई शक्ति सिंह का वर्णन है )?✔

Q-6.. प्रसिद्ध इटालियन भाषा विज्ञानी एल.पी.टैस्सीटोरी का संबंध राज्य के किस शहर से रहा??
A- जोधपुर
B- बीकानेर
C- बाड़मेर
D- जैसलमेर

B-बीकानेर(डॉक्टर एल.पी.टैस्सीटोरी का बीकानेर से घनिष्ठ संबंध रहा बीकानेर   टैस्सीटोरी की कर्मस्थली थी बीकानेर का प्रसिद्ध म्यूजियम इन की ही देन है  इनकी मृत्यु 22 नवंबर 1919 ईस्वी में बीकानेर  में हुई और इन्हें बीकानेर में ही दफनाया गया  इनकी समाधि का निर्माण श्री हजारीमल बांठिया ने किया  एल.पी. टैस्सीटोरी जन्म  इटली के एक छोटे से गांव में उदीने में 13 दिसंबर 1887 को हुआ  जुलाई 1914 में यह जयपुर पहुंचे सरस्वती और  द्वषद्वती की सूखी घाटी में कालीबंगा की हड़प्पा  पूर्व  के प्रसिद्ध केंद्र की खोज करने का सर्वप्रथम श्री डॉक्टर  टैस्सी्टोरी को ही जाता है  बीकानेर के आधे से ज्यादा क्षेत्रों की खोज पल्लू, बड़ापल ,रंगमहल, रतनगढ़, सूरतगढ़ और भटनेर जैसे क्षेत्रों की खोज डॉक्टर टैस्सीटोरी ने  की थी )?✔

Q-7.. राजस्थान के प्रसिद्ध साहित्यकार डॉक्टर  जयसिंह नीरज कहां से थे??
A- बूंदी
B- अजमेर
C- अलवर
D- कोटा

C-अलवर(“”Splendour ऑफ राजस्थान पेंटिंग्स””राजस्थान की सांस्कृतिक परंपरा आदि डॉक्टर जय सिंह द्वारा रचित प्रमुख ग्रंथ है राजस्थान के अलवर जिले के एक छोटे से गांव  तोलावास में 11 फरवरी 1929 को डॉक्टर जय सिंह नीरज का जन्म हुआ था ?✔

Q-8.. राजस्थान के कौन से साहित्यकार को प्रथम बिहारी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था??
A- पंडित जनार्दन राय नागर
B- डॉक्टर जयसिंह नीरज
C- शिवचंद भरतिया
D- कन्हैयालाल सेठिया

B-डॉक्टर जयसिंह नीरज(डॉक्टर जयसिंह नीरज का संबंध राजस्थान के अलवर जिले से है इन्होंने एक और अपने सर्जनात्मक लेखन से हिंदी साहित्य में महत्वपूर्ण स्थान बनाया वहीं दूसरी और राजस्थान की संस्कृति, चित्र कला, संगीत और पुरातत्व आदि को अपनी अद्भुत मेधा का संस्पर्श देकर नए आयाम प्रस्तुत किए इन्हें के.के. बिरला फाउंडेशन द्वारा 25 अप्रैल 1992 को प्रथम बिहारी पुरस्कार से सम्मानित किया गया 2 मार्च 2002 को  इनका निधन हो गया )?✔

Q-9.. “मदरसा- ए- हुनरी” की स्थापना किसके द्वारा की गई??
A- सवाई राम सिंह
B- सवाई प्रताप सिंह
C- सवाई ईश्वरी सिंह
D- सवाई माधोसिंह

A-मदरसा-ए-हुनरी(स्वतंत्रता के पश्चात से राजस्थान स्कूल ऑफ आर्ट एंड क्राफ्ट के नाम से जाना जाता है इस से पहले यह महाराजा स्कूल ऑफ आर्ट एंड क्राफ्ट के नाम से भी जाना जाता था )?✔

Q-10..  मेडिया पात्र किस  ख्याल में विशेषत: भूमिका निभाता है??
A- चिड़ावा
B- कुचामनी
C-हेला
D-  कन्हैया

D-कन्हैया(मेडिया के नेतृत्व में ही अभ्यास किया जाता है) ?✔

Q-11.. निम्न ग्रंथों में से किस ग्रंथ मे मुगलों के साथ राजपूत वैवाहिक संबंध के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी मिलती है ??
A- मासिर ए आलमगीरी
B-  उल वाकेयत
C-तबकाते अकबरी
D-तारीखे शेरशाही

C-तबकाते अकबरी(ख्वाजा निजामुद्दीन अहमद    द्वारा तबकाते अकबरी पुस्तक लिखी गई है  इस ग्रंथ में हमें मुगलों के साथ राजपूत राजकुमारियों के विवाह के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी मिलती है लेखक ने  जौहर का भी सजीव वर्णन किया है )?✔

Q-12..  राजस्थानी गद्य का प्रौढ़ रूप किस शताब्दी में मिलता है??
A- 11 वीं शताब्दी
B- 13 शताब्दी
C- 15 वी शताब्दी
D- 16 वी शताब्दी

C-15वी शताब्दी( राजस्थानी गद्य का  प्रौढ़ रूप 15वीं शताब्दी में मिलता है और संवत 1411 में लिखित आचार्य तरूण प्रभ सूरी का षडावश्यक बालावबोध   राजस्थानी गद्य की सर्वप्रथम  प्रौढ़ कृति है इस तरह तरुण प्रभ सूरी  राजस्थानी के पहले प्रौढ़ गद्यकार  हैं )?✔

Q-13.. साहित्य की वह विद्या जिसमें कथा सूत्र को पद्य और गद्य के साथ  पिरोया जाता है??
A-  औत्तिक रचनाएं
B- लोक साहित्य
C- वचनिका
D- पवाडा

C-वचनिका(साहित्य की वह विद्या जिसमें कथा सूत्र को पद्य और गद्य के साथ पिरोया  जाता है कथा ना तो पूर्ण रुपेन  पद्य में होती है और ना ही पूर्ण रुपेन  गद्य  में, लेकिन इसमें पद्य  की प्रधानता होती है यह एक ऐसी साहित्य विधा है जिसमें गद्य पद्य का मिश्रण( चंपू साहित्य )होता है ?✔

Q-14.. राजस्थानी का पहला राजस्थानी साहित्य सम्मेलन कब हुआ था??
A- 1930 में
B- 1938 में
C- 1944 में
D- 1954 में

C-1944 में(1944 ईस्वी में दिनाजपुर में राजस्थानी साहित्य सम्मेलन हुआ जो राजस्थानी का प्रथम सम्मेलन था और मेघराज मुकुल ने पहली बार इस सम्मेलन में सेनानी का कविता पाठ किया था  मेघराज मुकुल की सैनाणी (1944) पहली ऐसी श्रेष्ठ वीर रसात्मक रचना थी जिसने अप्रत्याशित लोकप्रियता हासिल की और श्रोताओं की मंचीय कविता के प्रति अभिरुचि जागृत की ?✔

Q-15.. राजस्थानी भाषा की प्राचीनतम रचना भरतेश्वर बाहुबली घोर किसके द्वारा और कब रचित गई है??
A- शालिभद्र सूरि 1184ई. के लगभग
B- व्रजसेन सूरी 1184 ई.के लगभग
C- शालिभद्र सूरी 1168 ई. के लगभग
D-  व्रज सेन सूरी 1168 ई. के लगभग

D-वज्र सेन सूरि 1168ई.के लगभग(  वज्र  सेन सूरी द्वारा रचित भरतेश्वर बाहुबली गोर राजस्थानी की प्राचीनतम रचना है  1168 ई. के आसपास रची गई थी इसमें भरत और बाहुबली के बीच हुए गोर युद्ध का वर्णन है इस विषय पर लिखी गई रचनाओं में प्राचीनतम हैं इसकी भाषा  मारु गुर्जर  है ?✔

Q-16.. संवतोल्लेख वाली प्रथम राजस्थानी रचना है??
A- नेमिनाथ बारहमास
B-बारहमासावउ
C- भरत बाहुबली रास
D- हरिसारस्वत

C-भरत बाहुबली रास( शालिभद्र सूरी द्वारा मारु गुर्जर भाषा में रचित भरत बाहुबलि रास संवतोल्लेख वाली प्रथम राजस्थानी रचना है इसकी रचना 1184ई. में की गई थी यह  रास  परंपरा में सर्वप्रथम और सर्वाधिक विस्तृत  पाठ  वाली रचना है यह एक खंड काव्य है )?✔

Q-17.. बगड़ावता रा  पवाडा नाम से देवनारायण की  गाथा का संपादन किसने किया था??
A- लक्ष्मी कुमारी चुंडावत
B- रामनाथ कविया
C- रघुवर जस प्रकाश
D- इकराम राजस्थानी

A-लक्ष्मी कुमारी चूड़ावत( पवाड़ा संस्कृत के प्रवाद शब्द से बना है पवाड़ा की कुछ विशेषताएं होती है जिसे रचयिता का अज्ञात होना प्रमाणित मूल पाठ का अभाव संगीत और नृत्य का मेल, स्थानीयता की प्रचुरता ,मौखिक परंपरा लंबा कथानक ,टेक पदों की पुनरावर्ती और अलंकृत शैली और उपदेशात्मक प्रवति का अभाव आदि राजस्थानी पवाड़ों में पाबूजी का पवाड़ा, बगड़ावतां रा पवाड़ा ,निहालदे सुल्तान रा बावन पवाड़ा काफी प्रसिद्ध है ?✔

Q-18.. प्रकाश पथ नाम से प्रकाशित पवित्र कुरान शरीफ का हिंदी राजस्थानी भाषा में प्रथम काव्यात्मक भावानुवाद किस साहित्यकार ने किया था??
A- असाइत
B-अब्दुल वही
C- इकराम राजस्थानी
D- अन्नाराम सुदामा

C-इकराम राजस्थानी( इकराम राजस्थानी जिनका जन्म 8 जुलाई 1946 को हुआ था यह राजस्थानी गिने-चुने सर्जनशील और समर्थ रचनाकारों में से एक है  अक्षरों के इर्द-गिर्द ,सुकून , दर्द के रंग इनके चर्चित गजल संग्रह और इस सदी का आखरी पन्ना,  एक रहा है एक रहेगा अपना हिंदुस्तान, अमर है जिनसे राजस्थान, खुले पंख इनके  विचारोत्तेजक काव्य संग्रह है इनकी सबसे महत्वपूर्ण कृति है पवित्र कुरान शरीफ का हिंदी राजस्थानी भाषा में काव्यात्मक भावानुवाद  यह ग्रंथ प्रकाश पंथ  नाम से प्रकाशित हुआ   उन्होंने शेखसादी  की प्रसिद्ध पुस्तक गुलिस्ता का भी राजस्थानी भाषा में अनुवाद किया है )?✔

Q-19.. राजस्थान पद्य सबसे मोटा ग्रंथ कहा जाता है??
A- पतित का स्वर्ग
B- भगवती जोड़
C- श्रंगार दीपिका
D-नेहतरंग

B-भगवती जोड़(राजस्थान  पद्य का सबसे मोटा ग्रंथ  भगवती जोड़ को कहा जाता है यह एक अनुवादित ग्रंथ है इस विशाल ग्रंथ का अनुवाद जयाचार्य ने किया है जयाचार्य का मूल नाम जीतमल था लेकिन यह  जय नाम से लिखते थे यह तेरापंथ के चौथे आचार्य थे जयाचार्य एक महान आध्यात्मिक योगी इतिहास सर्जक  विलक्षण प्रतिभा संपन्न साहित्य स्त्रष्टा थे इनका जन्म संवत् 1860 में मारवाड़ के रोयट ग्राम में हुआ इनकी मृत्यु 1938 में हुई थी इनके पिता का नाम आईदान गोलछा और माता का नाम कलूजी था )?✔

Q-20.. राज रूपक नामक काव्य ग्रंथ के रचयिता हैं??
A- वीरभान  रतनू
B- विजयदान  देथा
C- विश्वेश्वर नाथ
D- विठू मेहा

A-वीरभाण रतनू(चारण शाखा के वीरभाण रतनू  मारवाड़ के बाड़मेर की सिवाना तहसील के  घड़ोई गांव के निवासी थे  जोधपुर के महाराजा अभयसिंह के आश्रित कवि थे महाराजा अभयसिंह और गुजरात के सूबेदार शेर बुलंद खा के बीच 1730 मे लड़े गये अहमदाबाद के युद्ध में वीरभाण रतनू और किया करणीदान  नामक दोनों कवि साथ थे और उन्होंने इस युद्ध का प्रसंग लेकर क्रमशः राज रुपक और सूरज प्रकाश नामक  वृहत काव्य ग्रंथ लिखे थे  राज रुपक वृहदाकार व डिंगल भाषा  में रचित ऐतिहासिक ग्रंथ है जिसमें कवि ने सृष्टि की उत्पत्ति से ग्रंथ का प्रारंभ कर अपने आश्रयदाता महाराजा अभयसिंह के पूर्वजों का वर्णन किया है ?✔

Q-21.. मरू भाषा का सर्वप्रथम उल्लेख किस ग्रंथ में मिलता है??
A- कुवलयमाला
B- कुकविबतीसी
C- जसवंत यशो भूषण
D- बुद्धि रास

A- कुवलयमाला(मरू भाषा का सर्वप्रथम उल्लेख जालौर के जैन मुनि उद्योतन सूरी के प्रसिद्ध ग्रंथ में मिलता है इस ग्रंथ की रचना 778( 835 विक्रम संवत) में हुई थी ?✔

Q-22.. “राम रासौ” ग्रंथ के रचयिता है??
A -माधोदास दधवाडिया
B- मेघराज मुकुल
C-  राय सिंह सांदु
D- रामनाथ कविया

A-माधोदास दधवाड़िया(मेडता  परगने के बलूंदा गांव में जन्मे मारवाड़ के प्रसिद्ध भक्त कवि माधो दास दधवाडिया चूड़ा दधवाड़ीया के पुत्र थे यह जोधपुर के महाराजा सूर सिंह के आश्रित कवि थे माधोदास द्वारा रचित राम रासौ राम कथा पर आधारित लगभग पौने ग्यारह सौ छंदों का ग्रंथ है भाषा दशम  स्कंद, गजमुख की निशानी ,हनुमान गीत आदि इनकी अन्य प्रसिद्ध रचना है माधो दास बीकानेर के राठौर पृथ्वीराज और केशव दास गाडण के समकालीन थे इनकी भाषा डिंगल है संवत 1680 में मूंगदड़ा की लड़ाई में उनकी मृत्यु हुई )?✔

Q-23.. पुस्तक प्रकाश नामक पुस्तकालय की स्थापना राजस्थान के किस जिले में की गई थी??
A- जयपुर
B- जोधपुर
C- बीकानेर
D- कोटा


B-जोधपुर( पुस्तक प्रकाश पुस्तकालय की स्थापना जोधपुर में महाराजा मानसिंह द्वारा की गई थी महाराजा मानसिंह जोधपुर के महाराजा  विजय सिंह के पुत्र और गुमान सिंह के पोत्र  थे यह नाथ संप्रदाय से अत्यधिक प्रभावित हैं इनका जन्म 1839 में हुआ था महाराजा मानसिंह बड़े गुणाढ्य ,कविता प्रेमी और सरस्वती सेवक थे महाराजा स्वयं भी डिंगल और पिंगल दोनों में कविता करते थे नाथ चरित्र, कृष्ण विलास, जालंधर चरित्र ,तेज मंजरी, सेवा सागर, महान विचार अभी इनके प्रमुख ग्रंथ है) ?✔

Q-24.. निम्न में से किसने डॉक्टर एल. पी. टैस्सीटोरी के कब्रिस्तान की खोज की??
A- हजारीलाल  बाठियॉ
B- पंडित मुरलीधर व्यास
C- ओम प्रकाश कुक्की
D- (A)और (B)दोनों
D-(A)और (B)दोनों(  टैस्सीटोरी ने  प्रोफेसर पी ई  पैवोलिनी के  निर्देशन में रामचरितमानस नामक निबंध प्रकाशित किया उन्होंने रामचरितमानस विषय पर पीएचडी की उपाधि प्राप्त   की गंगा  सिंह ने डॉ.टैस्सीटोरी को बीकानेर सरकार ने राजस्थानी भाषा और उनकी लिपि का विश्लेषण करने के लिए आमंत्रित किया था ?✔

Q-25.. दिल्ली के पुराने किले के अंदर किला ए कुहना नामक मस्जिद का निर्माण किस शासक ने करवाया था??
A- शाहजहां
B- शेरशाह
C- हुमायूं
D- औरंगजेब
B-शेरशाह(हुमायूं को पराजित कर दिल्ली पर कब्जा करने के बाद शेरशाह ने मुगल शासकों का अनुसरण करते हुए कुछ भवनो का निर्माण करवाया उसने दिल्ली में शेर गढ़ या दिल्ली शेरशाही नामक नगर की नींव रखी इसे छठा दिल्ली भी कहा जाता है इसके अतिरिक्त उसने दिल्ली के पुराने किले के भीतर किला ए कुहना नामक मस्जिद का निर्माण करवाया इसका निर्माण शेरशाह ने 1542 में करवाया था इसके निर्माण में  लोदी काल की जमाली मस्जिद  की भांति 5 मेहराबी मुख्य द्वार और एक गुम्बद रखी गयी) ?✔

Q-26.. दोहरी गुंबद वाला मुगल काल का पहला उदाहरण है??
A- हुमायूं का मकबरा
B- शेरशाह का मकबरा
C- जहांगीरी महल
D- औरंगजेब का मकबरा
A-हुमायूं का मकबरा( हुमायूं का मकबरा मुगल काल और अकबर के शासनकाल में बनी पहली इमारत है इसका निर्माण हुमायुँ की पत्नी हमीदा बानो बेगम ने अपने पति के मृत्यु के 8 वर्ष बाद  प्रारंभ करवाया था इस  मकबरे का नक्शासी फारसी शिल्पकार मलिक मिर्जा ग्यास ने तैयार किय। हुमायूँ  के मकबरे को एक वफादार पत्नी का उसके स्वर्गीय पति के लिए श्रद्धांजलि कहा जाता है  यह मकबरा भारतीय रूप में ईरानी  शैली पर आधारित स्थापत्य कला का सुन्दर उदाहरण है पर्सी ब्राउन के अनुसार  वह ईरानी कल्पना की भारतीय व्याख्या है डॉक्टर कानूनगो ने लिखा है कि यह बाहर से मुस्लिम और अंदर से हिंदू है इसकी विशेषताएं निम्न है यह दोहरी गुंबद वाला मुगल काल का पहला उदाहरण है चारबाग पद्धति का प्रयोग पहली बार हुमायूं के मकबरे में हुआ  इसमें स्वतंत्र रूप से निर्मित मीनारों का अभाव है )?✔

Q-27.. पर्सी ब्राउन ने किस मुगल  इमारत को और स्थापत्य कला का मोती कहां है??
A- पंचमहल
B- खास महल
C- तुर्की सुल्तान का महल
D- मरियम का महल
C-तुर्की सुल्तान का महल( एक सुंदर लघु आकार की इमारत है इसमें एक ही मंजिल है और स्तंभों पर आधारित बरामदे की योजना है जिसके भीतर दीवारों को पेड़ पौधे और पशु पक्षियों से सुसज्जित किया गया है इसका निर्माण शैली संभवत पंजाब के  काष्ठ निर्माण पर आधारित है पर्सी ब्राउन ने इसे स्थापत्य कला का मोती कहा है यह  महल अकबर द्वारा निर्मित फतेहपुर सीकरी में स्थित है )?✔

Q-28.. संक्षेप में किस मुगल कालीन इमारत को  साहसी विधान की सुंदर कृति कहा गया है??
A- लाल किला
B- जामा मस्जिद
C- मोती मस्जिद
D- बादशाही मस्जिद
B-जामा मस्जिद(जामा मस्जिद आगरा में स्थित मुगलकालीन इमारत है यह मस्जिद आगरा के किले के उत्तर-पश्चिम में स्थित है  इसका निर्माण शाहजहां की जेष्ठ पुत्री जहांआरा बेगम ने करवाया था मस्जिद की छत के प्रत्येक कोने पर एक एक अठपहले  गुम्बददार छतरी की योजना है इस के ऊपरी भाग पर तीन गुम्बद और चार सुंदर मीनारे स्थित है संक्षेप में जमा मस्जिद को साहसी विधान की सुंदर कृति कहा गया है )?✔

Q-29.. अकबर ने अपने शासन के काल में किस संगीतज्ञ को  कण्ठाभरवाणी  विलास की उपाधि प्रदान की थी??
A- बाज बहादुर
B- बेजू बावरा
C- तानसेन
D- स्वामी हरिदास
C-तानसेन( तानसेन अकबर के काल का सर्वश्रेष्ठ संगीतज्ञ था उस का प्रारंभिक नाम राम तनु पांडेय  था यह ध्रुपद गायन शैली का महान संगीतकार था अबुल फजल के अनुसार पिछले हजार वर्षों में भारत में तानसेन जैसा संगीतज्ञ पैदा नहीं हुआ यह वृंदावन के महान संगीतज्ञ स्वामी हरिदास का शिष्य था अकबर के दरबार में आने से पूर्व तानसेन रीवा के राजा रामचंद्र के  राजाश्रय में था तानसेन अकबर के नवरत्नों में से एक था अकबर ने तानसेन को कंठाभरण वाणी विलास की उपाधि प्रदान की थी प्रसिद्ध सूफी संत शेख सलीम चिश्ती तानसेन के प्रशंसकों में से थे तानसेन ने रुद्रवीणा नामक वाद्य यंत्र का आविष्कार किया था) ?✔

Q-30.. जगन्नाथ पंडित किस मुगल शासक का दरबारी कवि था??
A- जहांगीर
B- शाहजहां
C- औरंगजेब
D- अकबर
B-शाहजहां(अकबर के बाद जहांगीर और शाहजहां ने भी संस्कृत भाषा के कवियों और विद्वानों को संरक्षण प्रदान किया जगन्नाथ पंडित शाहजहां का दरबारी कवि था  जिसने रसगंगाधर और गंगालहरी नामक ग्रंथों की रचना की थी शहजादा दारा शिकोह की जगन्नाथ पंडित पर विशेष कृपा   थी  जगन्नाथ पंडित की अन्य रचनाएं चित्र मीमांसा Khandan (अलंकार शास्त्र पर ग्रंथ ) व आसफ  विजय ( नूरजहा के भाई आसिफ  खॉ की  स्तुति) है ?✔

Q-31.. उत्तर मुगल काल में पहला मुगल बादशाह जिसने उर्दू को संरक्षण प्रदान किया??
A- बहादुर शाह
B- मुहम्मद शाह
C- सूर्यवंश
D- औरंगजेब
B-मुहम्मद शाह(उर्दू भाषा का निर्माण तुर्क अफगान शासकों के समय ही हो गया था  पहले इसे जबान ए हिंदवी  भी पुकारा गया बाद में इसका नाम हिंदी हो गया  मुगल शासकों में किसी ने उर्दू को विशेष रुप में संरक्षण प्रदान नहीं किया उत्तर  मुगल में मुहम्मद शाह पहला मुगल बादशाह था जिसने उर्दू को अपना संरक्षण प्रदान किया बाबर ने अपनी आत्मकथा तुजुक ए बाबरी तुर्की भाषा में  लिखी लेकिन उसमे हिन्दवी (उर्दू)  भाषा के शब्द जैसे हाथी गिलहरी पान दोपहर आदि का प्रयोग किया अकबर के काल में उर्दू को लोग रेख़्ता के नाम से जानने लगे बाद के समय में रेखता  की लोकप्रियता बढ़ने लगी शाहजहां और औरंगजेब के शासनकाल में  रेखता का पूर्ण रुप से विकसित हो चुकी थी इसी काल में उर्दू शायरी की परंपरा का विकास हुआ )?✔

Q-32.. मुगल काल के किस शासक को चित्रकला में कोई रुचि नहीं थी??
A- बहादुर शाह
B- औरंगजेब
C- मुहम्मद शाह
D- हुमायूं
B-ओरंगजेब(ओरंगजेब को चित्रकला में कोई रुचि नहीं थी इस कारण उसने चित्रकारों को राजकीय संरक्षण और प्रोत्साहन देना बंद कर दिया  कहा जाता है कि उसने बीजापुर के सूर महल के  चित्रों को मिटा दिया और अकबर के सिकंदरा स्थित  मकबरे के चित्रों पर चुना पुतवा  दिया था  दरबारी संरक्षण बंद होने के कारण चित्रकार अमीरों और सामंतों के संरक्षण में चले गए थे )?✔

Q-33.. मुगल काल के किस चित्रकार की प्रसिद्ध कृति लाल फूलों की बहार है??
A- अबुल हसन
B- उस्ताद मंसूर
C- बिसन दास
D- दोलत
B-उस्ताद मंसूर(उस्ताद मंसूर जहांगीर के समय का सर्वश्रेष्ठ चित्रकार था वह प्राकृतिक दृश्य और पशु पक्षी के चित्रण में माहिर था जहांगीर ने इसे नादिर उल  अस्र की उपाधि प्रधान की इनकी महत्वपूर्ण कृतियों में साइबेरिया का एक बिरला सारस और बंगाल का एक अनोखा पुष्प उल्लेखनीय है किसकी प्रसिद्ध कृति लाल फूलों की बहार है )?✔

Q-34.. अकबर के काल में प्रसिद्ध किस चित्रकार ने मानसिक बीमारी के कारण आत्महत्या कर ली थी ??
A- बसावन
B- दसवंत
C-माधव
D- महेश


B- दसवंत( दसवंत अब्दुस्समद का प्रिय शिष्य था वह जाति का कहार और अकबर के समय का पहला अग्रणी चित्रकार था आईने- अकबरी के अनुसार अकबरकालीन चित्रकारों में दसवंत सर्वश्रेष्ठ चित्रकार था अकबर ने इसे  भी  टकसाल में पद प्रदान किया था  किंतु बाद में दसवंत मानसिक रुप से विक्षिप्त हो गया और 1584 ईसवी में आत्महत्या कर ली उसके द्वारा बनाए गए प्रमुख क्षेत्र रज्मनामा  तारीख- ए-  खानदान -ए – तैमूरिया और तूतीनामा है )?✔

Q-35.. अबुल फजल  के अनुसार किस मुगल शासक ने चित्रकला के विषय में यह कहा-“” मैं उन लोगों को पसंद नहीं करता जो चित्रकला से घृणा करते हैं””??
A- बाबर
B- शाहजहां
C- जहांगीर
D- अकबर

D- अकबर(हुमायु के अकस्मात मृत्यु के कारण वह मुगल चित्रकला का विकास नहीं कर सका बल्कि केवल उस का मार्ग प्रशस्त किया मुगल चित्रकला का विकास अकबर के समय हुआ वह शिक्षित नहीं था लेकिन कला और साहित्य में उसे विशेष  रुचि थी उस के शासनकाल में कला के प्रत्येक क्षेत्र में प्रगति हुई उसके चित्र कला के प्रति रुचि के विषय में अबुल फजल लिखता है  की चित्रकला के विषय में बादशाह अकबर कहा करता था कि मैं उन लोगों को पसंद नहीं करता जो चित्रकला से घृणा करते हैं क्योंकि मेरे अनुसार एक चित्रकार के पास ईश्वर को पहचानने के विषय साधन है चित्रकार किसी जानदार वस्तु का चित्र बनाने में और अंग-प्रत्यंग चित्रित करने में यह अवश्य अनुभव करेगा कि वह अपने कृति को जीवन प्रदान नहीं कर सकता  तथास्तु जीवनदाता ईश्वर के संबंध में सोचने को विवश हो जाएगा और इस प्रकार उसके ज्ञान में वृद्धि होगी अकबर के दरबार में अनेक  कुशल चित्रकार थे  अबुल फजल के अनुसार अकबर के दरबार में 100 से अधिक चित्रकार थे किंतु उसने अपनी पुस्तक आईने अकबरी में 17 श्रेष्ठ चित्रकारों के नाम दिए जिनमें 13 हिंदू हैं  जो इस प्रकार हैं  मीर सैयद अली , ख्वाजा अब्दुस्समद, फर्रुख  कलम , दसवंत,  बसावन,  मिस्किन  ,केशव लाल,  मुकंद , जगन्नाथ, माधव ,महेश, खेमकरण ,तारा , सांवल,  राम और हरवंश थे )?✔

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *