Respiratory System (श्वसन तंत्र)

Respiratory System (श्वसन तंत्र)

प्रश्न=1- भोजन निकलते समय सांस मार्ग को बंद कौन कर देता है?
अ) एपिगलाटीस
ब) कंठ
स) श्वास नली
द) श्वसनी

अ) एपिगलाटीस✔
शरीर के अंदर स्वास के रूप में वायु का निश्शवसन एवं उत्शवसन करने वाले तंत्र शवसन तंत्र कहलाते  हैं इसके अंतर्गत नाल, कंठ, एपिगलाटीस, श्वास नली, श्वसनी ओर फेफड़े आते हैं यह तंत्र शरीर के भीतर वायु मार्ग का  कार्य करते हैं
इनमें एपिगलाटीस भोजन निकलते समय श्वास मार्ग को बंद कर लेता है श्वास नली उपास्थि ( लचीली हड्डी )  की बनी होती है

प्रश्न=2- फेफड़ों में गैसों का आदान प्रदान किन के माध्यम से होता है?
अ) रुधिर द्वारा
ब) वायु कुपिकाओ द्वारा
स) स्वास नली द्वारा
द) धमनियों द्वारा

ब) वायु कुपिकाओ द्वारा✔
फेफड़े में रुधिर का शुद्धिकरण गैसों के आदान प्रदान से होता है गैसों का आदान-प्रदान वायु कुपिकाओ के माध्यम से होता है ऑक्सीजन  कुपिकाओ से रक्त में तथा कार्बन डाइऑक्साइड रक्त से  कुपिकाओ में प्रवेश करता है वयस्क मनुष्य के फेफड़ों में 30 से 40 करोड़ वायु कुपिकाये होती है कुपिकाओं में गैसीय आदान-प्रदान की क्रिया विसरण के द्वारा होती है

प्रश्न=3- मनुष्य में दाया फेफड़ा कितने पिंडों में विभाजित होता है?
अ) 3
ब) 2
स) 1
द) 4

अ) 3 ✔
मनुष्य में दाया फेफड़ा तीन पिंडो में तथा बायां फेफड़ा दो पिंडो में विभाजित होता है

प्रश्न=4- एम्फिसेमा बीमारी का संबंध किससे होता है?
अ) स्वास नलिया
ब) कंठ
स) फेफड़े
द) हृदय

स) फेफड़े✔
एम्फिसेमा बीमारी का संबंध फेफड़ों से होता है यह बीमारी अधिक सिगरेट पीने से होती है जिसमें फेफड़ों की कुपिकाये क्षतिग्रस्त हो जाती है और गैसीय आदान प्रदान की क्रिया प्रभावित होती है

प्रश्न=5- फेफड़ो की सुरक्षा हेतु इनके ऊपर कौन सी झिल्ली का आवरण बना होता है?
अ) प्ल्यूरा झिल्ली
ब) श्लेष्मा झिल्ली
स) ऑक्सी झिल्ली
द) क्रेब्स झिल्ली

अ) प्ल्यूरा झिल्ली✔

प्रश्न=6- किसके  ऑक्सीकरण के द्वारा उत्पन्न ऊर्जा को श्वसन कहा जाता है
अ) ग्लूकोज
ब) माल्टोज
स) शर्करा
द) उपरोक्त सभी

अ) ग्लूकोज
ग्लूकोज के ऑक्सीकरण के द्वारा उत्पन्न ऊर्जा श्वसन कहा जाता है श्वसन जीवो में 24 घंटे चलने वाली क्रिया है श्वसन के दो प्रकार होते हैं ऑक्सी और अनाक्सी श्वसन

प्रश्न=7- ऑक्सी श्वसन की क्रिया में कितनी उर्जा का उत्पादन होता है?
अ) 35 ATP
ब) 38 ATP
स) 2 ATP
द) 11 ATP

ब) 38 ATP ✔
ऑक्सीजन की उपस्थिति में गुलकोज का पूर्ण जारण आक्सी स्वसन कहलाता है आक्सी स्वसन की क्रिया में 38 एटीपी के रूप में ऊर्जा का उत्पादन होता है

एवं ऑक्सीजन की अनुपस्थिति में ग्लूकोज का ऑक्सीकरण या जारण अनाक्सी श्वसन कहलाता है मांसपेशियों में दर्द का कारण संबंधित कोशिकाओं में ऊर्जा की कमी को भी माना जाता है क्योंकि वह अनाक्सी श्वसन की क्रिया में 2 एटीपी के रूप में ऊर्जा का उत्पादन होता है

प्रश्न=8- जब अनाक्सी श्वसन की क्रिया जीवाणु और कवक में होती है तो उसे क्या कहते हैं?
अ)  किंडवन
ब) डायफ्रांग्स
स) कैब्स चक्र
द)  इनमे से कोई नही

अ)  किंडवन
किंडवन की क्रिया के द्वारा शराब तथा सिरके का निर्माण होता है

प्रश्न=9- आक्सी स्वसन की क्रिया कोशिका के किस भाग के अंदर संपन्न होती है?
अ) कोशिका द्रव्य एवं माइट्रोकांड्रिया
ब) राइबोसोम एवं हरित लवक
स)केंद्रक तथा कोशिका भित्ति
द) जीव द्रव्य एवं तारक काय

अ) कोशिका द्रव्य एवं माइट्रोकांड्रिया ✔

प्रश्न=10- कौन सी क्रिया को आक्सी तथा अनाक्सी श्वसन का कॉमन स्टेप माना जाता है?
अ) ग्लाइकोलिसिस
ब) किण्वन क्रिया
स) डाई फ्रॉक
द) वाइटल

अ) ग्लाइकोलिसिस✔
कोशिका द्रव्य ग्लाइकोलिसिस क्रिया के द्वारा गुलकोज पायरविक अमल में तोड़ा जाता है इस विखंडन के दौरान 2 ATP के रूप में ऊर्जा का उत्पादन होता है तथा यह आक्सी तथा अनाक्सी दोनों में होती है इसलिए इसे आक्सी तथा अनाक्सी श्वसन का कॉमन स्टेट माना जाता है

प्रश्न=11- क्रेब्स चक्र की क्रिया किस के अंदर संपन्न होती है?
अ) माइटोकांड्रिया
ब) फेफड़े
स) हृदय
द) श्वसन नलिया

अ) माइटोकांड्रिया✔
क्रेब चक्र के दौरान पायरविक अमल कार्बन डाइऑक्साइड और जल में विखंडित हो जाता है इस विखंडन के दौरान 36 ATP के रूप में ऊर्जा का उत्पादन होता है पायरविक अमल का विखंडन ऑक्सीजन की उपस्थिति और अनुपस्थिति दोनों में होता है

प्रश्न=12- जब मनुष्य कार्य करता है तो मांसपेशियों में ऑक्सीजन के अभाव में पायरविक अम्ल का विखंडन किसमें हो जाता है?
अ) जल में
ब) लैक्टिक अम्ल और कार्बन डाइऑक्साइड में
स) कैलेस्ट्रोल में
द) रुधिर

ब) लैक्टिक अम्ल और कार्बन डाइऑक्साइड में
लैक्टिक अम्ल के जमाव के कारण मांसपेशियों में दर्द होता है

प्रश्न=13- श्वसन के दौरान सर्वाधिक मात्रा में कौन सी गैस छोड़ी जाती है?
अ) ऑक्सीजन
ब) नाइट्रोजन
स) कार्बन डाइऑक्साइड
द) इनमें से कोई नहीं

ब) नाइट्रोजन✔
श्वसन के दौरान सर्वाधिक मात्रा में नाइट्रोजन गैस 78% ग्रहण की जाती है और सबसे ज्यादा नाइट्रोजन गैस 78% ही छोड़ी जाती है

ऑक्सीजन 21% ग्रहण की जाती है तथा 16% छोड़ी जाती है

कार्बन डाइऑक्साइड 0.03% ( वातावरण में भी इतनी ही मात्रा  में है) ग्रहण की जाती है तथा 4% छोड़ी जाती है

प्रश्न=14- गहरी सांस लेने पर कितने लिटर गैस ग्रहण की जाती है?
अ) 3.5
ब) 1.5
स) 4.5
द) 6

अ) 3.5✔
गहरी सांस लेने पर 3.5 लिटर गैस ग्रहण की जाती है इस क्षमता को वाइटल क्षमता कहते हैं

सामान्य सांस लेने में 1.5 लीटर गैस ग्रहण की जाती है जिसे टाइडल क्षमता कहते हैं

तथा फेफड़ों में प्रत्येक स्थिति के अंदर 1.5 लीटर गैस हमेशा विधमान रहती है इसे रेसिडूअल क्षमता कहते हैं

प्रश्न=15- वायुमंडलीय ऑक्सीजन को फेफड़ों में ग्रहण करना और शरीर के विभिन्न भागों से आई हुई कार्बन डाइऑक्साइड गैस को वायुमंडल में मुक्त करने की क्रिया को क्या कहा जाता है?
अ) श्वासच्छोस्वास
ब) आक्सी श्वसन
स) अनाकसी श्वसन
द) उपर्युक्त सभी

अ) श्वासच्छोस्वास ✔
श्वसन क्रिया की शुरुआत डायफ़्रांगस के क्रियाशील होने से होती है

प्रश्न=16- फेफड़ों में कितने लीटर गैस धारण करने की अधिकतम क्षमता होती है?
अ) 9 लीटर
ब) 11 लीटर
स) 5 लीटर
द) 7 लीटर

स) 5 लीटर✔

प्रश्न=17- ऑक्सीजन का ग्रहण एवं कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन की मात्रा किसके ऊपर निर्भर करता है?
अ) हिमोग्लोबिन पर
ब) हृदय की क्रिया ऊपर
स) फेफड़ों पर
द) धमनियों पर

अ) हिमोग्लोबिन पर✔
गैसों का विनिमय प्रसारण क्रिया द्वारा होता है

प्रश्न=18- कोशिकीय श्वसन कोशिकाओं के अंदर कितने चक्रों में पूरा होता है?
अ) 2
ब) 3
स) 4
द) 6

अ) 2✔
कोशिकीय श्वसन कोशिकाओं के अंदर 2 चक्रो ग्लाइकोलिसिस एवं  क्रैब के माध्यम से पूरा होता है और कार्बन डाइऑक्साइड तथा जल का निर्माण होता है

प्रश्न=19- ऑक्सीजन की अनुपस्थिति में अनाक्सी श्वसन होता है इसमें कार्बोहाइड्रेट का अपघटन किसमें होता है?
अ) एथिल अल्कोहल तथा जल
ब) गुलकोज
स) कार्बन डाइऑक्साइड और जल
द) कार्बन डाइऑक्साइड और जलवाष्प

अ) एथिल अल्कोहल तथा जल✔

प्रश्न=20- हीमोग्लोबिन की अनुपस्थिति में में भी रूधिर कितने प्रतिशत ऑक्सीजन का आदान प्रदान कर सकता है?
अ) 2%
ब) 3%
स) 3.57%
द) 4.21%

अ) 2%✔

Note-
1. अधिक परिश्रम करने पर लैक्टिक एसिड का निर्माण होता है जिससे थकान महसूस होती है
2. कार्बन डाइऑक्साइड का संवहन मुख्यता बाई कार्बोनेट आयन (HCO3- ) के रूप में होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.