Rajasthan Administrative and Revenue Regulation प्रशासनिक & राजस्व

Rajasthan Administrative and Revenue Regulation  18 वीं शताब्दी के अंत तक राजस्थान की प्रशासनिक एवं राजस्व व्यवस्था जागीरदारी प्रथा ( RAS MAINS 1987 ) राजपूत शासकों द्वारा अपने राज्य क्षेत्र में से निकट संबंधियों एवं उच्चाधिकारियों को कुछ शर्तों के अनुसार एकाधिक गांव उपयोग के लिए दिए जाते थे। वह भूमि ‘जागीर’ एवं ग्राही ‘जागीरदार’ …

Rajasthan Administrative and Revenue Regulation प्रशासनिक & राजस्व Read More »