ऊतक(Tissue)

 Tissue(ऊतक)

प्रश्न=1- कोशिकाओं का वह समूह जिसकी उत्पत्ति संरचना एवं कार्य समान हो उत्तक कहलाते हैं उत्तकों का अध्ययन किसमे किया जाता है?
अ) हिस्ट्रोलॉजी
ब) माइक्रो लॉजी
स) रेडियोलोजी
द) उपरोक्त सभी

अ) हिस्ट्रोलॉजी✔ ( उत्तकों का अध्ययन हिस्ट्रोलॉजी या औतकिय में किया जाता है यह जंतु एवं वनस्पति में भिन्न भिन्न प्रकार के होते हैं)

प्रश्न=2- जंतु उत्तक कितने प्रकार के होते हैं?
अ) 2
ब) 3
स) 4
द) 5

द) 5 ✔ ( इपिथिलीयल ऊतक, पेशीय ऊतक , संयोजी उत्तक,  तंत्रिका उत्तक और जनन उत्तक)

प्रश्न=3- मुख्यतया मांसल भागो एवं खोखले अंगो की दीवारों का निर्माण कौनसा जंतु उत्तक करता है?
अ)इपिथिलीयल ऊतक
ब)पेशीय ऊतक
स)संयोजी उत्तक
द)तंत्रिका उत्तक

ब)पेशीय ऊतक✔ ( यह अंगों के आंतरिक भाग में पाए जाते हैं जैसे हृदय उत्तक , यकृत उत्तक , वृक्क ऊतक आदि)

प्रश्न=4- दो या दो से अधिक उत्तको को जोड़ने का कार्य कौन सा उत्तक करता है?
अ)इपिथिलीयल ऊतक
ब)पेशीय ऊतक
स)संयोजी उत्तक
द)तंत्रिका उत्तक

स)संयोजी उत्तक✔(रक्त ऊतक, लीगामेंट , कार्टिलेज आदि)

प्रश्न=5- किस उत्तक का कार्य सम्वेदनाओं को ग्रहण करके मस्तिक तक पहुंचाना तथा मस्तिष्क द्वारा दिए गए आदेश को अभीष्ट अंग तक पहुंचाना होता है?
अ)इपिथिलीयल ऊतक
ब)पेशीय ऊतक
स)संयोजी उत्तक
द)तंत्रिका उत्तक

द)तंत्रिका उत्तक ✔( तंत्रिका उत्तक की इकाई न्यूरॉन कहलाती है जो कि न्यूरॉन्स के माध्यम से ही सूचनाओं को मस्तिष्क तक पहुंचाती है तथा संवेदना का चालन केमीको मैग्नेटिक वेब के रूप में होता है इस केमिकल का नाम एसिटिलकोलिन है )

नोट- जनन उत्तक- यह जनन कोशिकाओं  में पाए जाते हैं जो नर में स्पर्म एवं मादा में ओवा का निर्माण करते हैं

प्रश्न=6- जंतुओं में पाए जाने वाले ऊतकों को कितनी श्रेणियों में बांटा गया है?
अ) 3
ब) 4
स) 5
द) 6

ब) 4✔ ( उपकला उत्तक, संयोजी उत्तक, पेशी उत्तक तथा तंत्रिका उत्तक )

प्रश्न=7- जंतुओं की बाहरी भीतरी या स्वतंत सतहों पर कौन से उत्तक पाए जाते हैं?
अ) उपकला उत्तक
ब) संयोजी उत्तक
स) पेशी उत्तक
द) तंत्रिका उत्तक

अ) उपकला उत्तक✔( कोशिका में पोषण विकर्षण विधि से लसिका का द्वारा होता है तथा इन में रुधिर कोशिकाओं का अभाव होता है यह त्वचा की बाह्य सतह, हृदय, फेफड़ो एवं वृक्क के चारों ओर तथा जनन ग्रंथियों की दीवारों पर पाए जाते हैं तथा उपकला उत्तक शरीर में आंतरिक भागों को सुरक्षा प्रदान करते हैं)

प्रश्न=8- किस उत्तक का कार्य शरीर के तापक्रम को  नियंत्रित करना तथा मृत कोशिकाओं को नष्ट कर उत्तकों को नवीन कोशिकाओं की आपूर्ति करना होता है?
अ) उपकला उत्तक
ब) संयोजी उत्तक
स) पेशी उत्तक
द) तंत्रिका उत्तक

ब) संयोजी उत्तक ✔

प्रश्न=9- पेशी उत्तक कितने प्रकार के होते हैं?
अ) 3
ब) 4
स) 6
द) 5

अ) 3✔ (  शरीर की सभी पेशियों का निर्माण करने वाला उत्तक पेशी उत्तक कहलाता है तथा इसे तीन भागों में बांटा गया है अरेखित, रेखित तथा हृदयक)

प्रश्न=10- अनैच्छिक रूप से गति करने वाले अंगों की गतियों को नियंत्रित करना  किसका कार्य है?
अ)अरेखित
ब) रेखित
स) हृदयक
द) उपरोक्त सभी

अ)अरेखित✔ ( अनैच्छिक रूप से गति करने वाले अंगों आहार नाल, मलाशय, मुत्राशय, रक्तवाहनियों आदि में अरेखित उत्तक पाए जाते हैं जो उनकी गति को नियंत्रित करते हैं
रेखित पेशियां उन भागों में पाए जाती है जो इच्छा अनुसार गति करती है इन पेशियों के एक या दोनों सिरे रूपांतरित होकर टेण्डल के रूप में हस्तियों से जुड़े होते हैं
तथा हृदयक पेशी  केवल हृदय की दीवारों में पाई जाती है और यह हृदय की गति इन्हीं पेशियों की वजह से होती है)

प्रश्न=11- मानव शरीर में कुल कितनी मांस पेशियां पाई जाती है?
अ) 206
ब) 316
स) 639
द) 278

स) 639✔ ( ग्लूटियस मैक्सिमस (कूल्हे की मांसपेशी) मानव शरीर की सबसे बड़ी तथा स्टेपीडीयस सबसे छोटी मांसपेशी होती है)

प्रश्न=12- शरीर में होने वाली सभी प्रकार की अनैच्छिक तथा ऐच्छिक क्रियाओं को नियंत्रित कौन करता है?
अ) उपकला उत्तक
ब) संयोजी उत्तक
स) पेशी उत्तक
द) तंत्रिका उत्तक

द) तंत्रिका उत्तक✔(  तंत्रिका उत्तक में न्यूरॉन्स एवं न्यूरोग्लया जैसे दो विशिष्ट प्रकार की कोशिकाओं द्वारा निर्मित होते हैं

प्रश्न=13- वनस्पति उत्तक कितने प्रकार के होते हैं?
अ) 2
ब) 4
स) 6
द) 5

अ) 2✔ ( वर्धी उत्तक और स्थाई उत्तक)

प्रश्न=14- हरित लवक की उपस्थिति में भोजन का निर्माण का कार्य कौन सा उत्तक करता है?
अ) संयोजी उत्तक
ब) वर्धी उत्तक
स) स्थाई उत्तक
द) उपर्युक्त सभी

ब) वर्धी उत्तक(  यह सबसे तेज विभाजित होने वाला उत्तक होता है यह पौधों के शिर्ष भाग, पार्श्व भाग ,अंतः संधि भाग में पाए जाते हैं तथा यह भोजन का संचय का महत्वपूर्ण कार्य करता है
जब वर्दी उत्तक की विभाजन क्षमता समाप्त हो जाती है तो वह स्थाई उत्तक का निर्माण करते हैं और इनका कार्य भोजन निर्माण, भोजन संचय और आंतरिक सहायता (कोशिकाओं को मजबूती प्रदान करना) है)

प्रश्न=15- जमीन से जल एवं खनिज लवण का अवशोषण करके पौधों के संपूर्ण अंग तक पहुंचाने का कार्य किसका होता है?
अ) जाइलम
ब) फ्लोएम
स) न्यूरॉन्स
द) उपरोक्त सभी

अ) जाइलम✔(  एक से अधिक स्थाई उत्तक के मिलने पर जटिल उतक का निर्माण होते हैं और जो दो प्रकार के होते हैं एक जाइलम तथा दूसरा फ्लोयम
जायलम का मुख्य कार्य जमीन से खनिज, जल एवं खनिज लवण का अवशोषण कर पौधे के संपूर्ण आज तक पहुंचाना होता है तथा
फ्लोयम का कार्य पत्तियों द्वारा बनाए गए भोजन को पौधे की जड़ तक पहुंचाने का कार्य होता है

नोट -जाइलम गुरुत्वाकर्षण बल के विरुद्ध तथा फ्लोयम गुरुत्वाकर्षण बल की और कार्य करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.