जवाई बांध

?मारवाड़ का अमृत सरोवर?
?जवाई नदी पर बना हैं जवाई बांध
?निर्माण प्रारम्भ:-सन्1946 मे
?निर्माण पूर्ण:-सन्1956मे
?बांध की ऊँचाई:-34 मीटर
?बांध की लम्बाई:-723मीटर
?पेयजल आपूर्ति:-पाली शहर को
?पश्चिमी राजस्थान मे जवाई बांध जवाई नदी पर पाली जिले मे बनाया गया हैं।
?इस बांध मे 740 वर्ग किमी.जल ग्रहण क्षेत्र का 21.5 लाख घनमीटर जल एकत्र होता हैं।
?इस बांध सेे 22 किमी. लंबी मुख्य नहर निकली गई हैं, जिसकी चार शाखाएं हैं,जिनकी लम्बाई 176 कि. मी. हैं।

मुख्य बांध के दोनों ओर दो बांध बनाए गए है।
इस बांध से पाली जिले की 26 हजार और जालौर जिले की 15 हजार हेक्टेयर भूमि पर सिंचाई होती हैं।
पाली नगर की जवाई बांध से पेयजल की आपूर्ति की जाती हैं । इस बांध मे पानी की कमी को दूर करने हेतु राज्य सरकार ने “सेई परियोजना” तैयार की हैं, जिसमें सेई बांध(उदयपुर)के पानी को जवाई बांध मे डालने की योजना हैं।

?महाराजा उमेद सिंह ने 1946 में इस बांध की नींव रखी थी जिसका काम 1956 में समाप्त हुआ। 11 साल के इस काम के दौरान देश में कई उतार चढ़ाव आए, जिसमें सबसे बड़ी घटना भारत-पाकिस्तान विभाजन थी। लगभग 2 करोड़ की लागत से बना यह बांध आज राजस्थान का सबसे बड़ा बांध है।
?बांध में लगभग 7887.5 मेनक्राफ्ट पानी संरक्षण की क्षमता है। बांध लगभग 414.05 स्कवायर में फैला हुआ है साथ ही इसकी उंचाई जमीन से लगभग 18.67 मीटर उपर है।
?बांध के आस पास छोटे-छोटे पिकनीक स्पोट बनाए गए हैं। आस-पास में अस्पताल की सुविधा भी उपलब्ध है। साथ ही आस-पास की वाइल्ड लाइफ सेन्च्युरी और पहाड़ों पर ट्रेकिंग इस जगह को और भी खुबसुरत बनाते हैं

??????
रमेश डामोर

सिरोही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *