निबंध

अज्ञेय जी के निबंध
1-त्रिशंकु (1945) पहला निबंध -संग्रह
2-सबरंग और कुछ राग (1956)
3-आत्मनेपद (1960)
4-आलबाल(1971)
5-लिखि कागद कोरे (1972)
6-अद्यतन (1977)
7-जोग लिखी (1977)
8-स्रोत और सेतु (1978)
9-युगसंधियों पर(1982)
10-धार और किनारे (1982)
11-कहाँ है द्वारका (1982)
12-छाया का जंगल (1984)
13-स्मृतिछंदा (1989)         


हजारी प्रसाद द्विवेदी के संपूर्ण साहित्य की सूची (कालक्रमानुसार)
1.      सूर साहित्य (1936)
2.      हिन्दी साहित्य की भूमिका (1940)
3.      कबीर (1942)
4.      बाणभट्ट की आत्मकथा (1946)
5.      अशोक के फूल (1948)
6.      नाथ संप्रदाय (1950)
7.      कल्पलता (1951)
8.      प्राचीन भारत का कलात्मक विनोद (1952)
9.      हिन्दी साहित्य का आदिकाल (1952)
10.    मध्यकालीन धर्म साधना (1952)
11.    हिन्दी साहित्य : उद्भव और विकास (1953)
12.    विचार और वितर्क : (1954)
13.    नाथ सिद्धों की बानियां (1957)
14.    मेघदूतः एक पुरानी कहानी (1957)
15.    संक्षिप्त पृथ्वीराज रासो (1957)
16.    विचार प्रवार (1959)
17.    संदेश रासक (1960)
18.    मृत्युंजय रवीन्द्र (1963)
19.    चारू चन्द्रलेख (1963)
20.    सहज साधना (1963)
21.    नाट्य शास्त्र की भूमिका एवं दशरूपक (1963)
22.    कुटज (1964)
23.    साहित्य सहचर (1965)
24.    कालिदास की लालित्य योजना (1965)
25.    मध्यकालीन बोध का स्वरूप (1970)
26.    आलोक पर्व (1972)
27.    पुनर्नवा (1973)
28.    अनामदास का पोथा (1976)
29.    सिक्ख गुरुओं का पुण्य स्मरण (1979)
30.    महापुरुषों का पुण्य स्मरण (1980)
31.    मंत्र तंत्र (बाल साहित्य) (1989)
32.    लालित्य तत्व (1992)


इसके अतिरिक्त अनेक संपादित और अनूदित पुस्तकें।
‘इनका समस्त साहित्य ग्यारह खण्डों 1981 में राजकमल प्रकाशन से प्रकाशित हो चुका है।

सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला
काव्यकृतियाँ
????

परिमल 1930
गीतिका 1936
अनामिका1938
तुलसीदास1939
कुकुरमुत्ता1942
अणिमा1943
बेला1946
नयेपत्ते1946
अर्चना1950
आराधना1950
गीतगुंज1954
सांन्ध्य काकली1969

परिमल गीतिका अनामिका के घर आती,
साथ मे तुलसीदास कुकुरमुत्ता अणिमा को लाती|
बेला के नयेपत्ते अर्चना आराधना हेतु,
गीतगुंज सान्ध्य काकली गाती ||     


हरिशंकर परसाई जी के निबंध
ये व्यंग्यात्मक निबंधकार हैं।
1-जैसे उनके दिन फिरे (1963)
2-पगडंडियों का जमाना (1966)
3-सदाचार का ताबीज (1967)
4-शिकायत मुझे भी है (1970)
5-ठिठुरता हुआ गणतंत्र (1970)
6-अपनी-अपनी बीमारी (1972)
7-वैष्णव की फिसलन (1976)
8-विकलांग श्रद्धा का दौर (1980)
9-भूत के पांव पीछे (1983)
10-बेईमानी की परत (1983)
11-सुनो भाई साधो (1983)
12-तुलसी दास चंदन घिसें (1986)
13-कहत कबीर (1987)
14-हंसते हैं रोते हैं (1993)
15-तब की बात और थी (1993)
16-ऐसा भी सोचा जाता है (1993)
17-पाखंड का अध्यात्म (1998)
18-आवारा भीड़ के खतरे (1998)      


“शरद जोशी जी के निबंध”
ये व्यंग्यात्मक निबंधकार हैं।
1-जीप पर सवार इल्लियाँ (1971)
2-किसी बहाने (1971)
3-रहा किनारे बैठ (1972)
4-तिलस्म (1973)
5-दूसरी सतह (1975)
6-यत्र-तत्र सर्वत्र (2000)
7-नदी में खड़ा कवि (2012)
8-घाव करें गंभीर (2012)
9-वोट ले दरिया में डाल (2012)

विवेकी राय के निबंध
1-किसानों का देश (1956)
2-गाँवों की दुनियाँ (1957)
3-त्रिधारा (1958)
4-फिर बैतलवा डाल पर (1962)
5-जुलूस रुका है (1977) रिपोर्ताज के निकट है।
6-गँवयीं गंध गुलाब (1980) रेखाचित्र के अधिक निकट
7-नया गाँवनामा (1984)
8-आम रास्ता नहीं है (1988)
9-आस्था और चिंतन (1991)
10-जगत तपोवन सो कियो (1995)
11-वन तुलसी की गंध (2002)
12-जीवन अज्ञात का गणित है (2004)
13-उठ जाग मुसाफिर (2012)

विद्यानिवास मिश्र जी के निबंध
1-छितवन की छांह (1953)प्रथम निबंध
2-हल्दी-दूब (1955)
3-कदम की फूली डाल (1956)
4-मैने सिल पहुँचाई (1956)
5-तुम चंदन हम पानी (1957)
6-आँगन का पंछी और बनजारा मन (1963)
7-वसंत आ गया पर कोई उत्कंठा नहीं (1972)
8-मेरे राम का मुकुट भींग रहा है (1974)
9-परंपरा बंधन नहीं (1976)
10-कँटीले तारों के आर-पार (1976)
11-कौन तू फुलवा बीनन हारी (1980)
12-निज मुख-मुकुर (1981)
13-तमाल के झरोखे से (1981)
14-भ्रमरानंद के पत्र (1981)
15-अस्मिता के लिए (1981)
16-संचारिणी (1982)
17-अंगद की नियति (1984)
18-लागो रंग हरी (1985)
19-गाँव का मन (1985)
20-नैरंतर्य और चुनौती (1988)
21-शेफाली झर रही है (1989)
22-भाव -पुरुष श्रीकृष्ण (1990)
23-सोहं(1991)
24-जीवन अलभ्य है जीवन सौभाग्य है (1991)
25-देश धर्म और साहित्य (1992)
26-नदी नारी और संस्कृति (1993)
27-फागुन दुइ रे दिना (1994)
28-बूँद मिले सागर में (1994)
29-पीपल के बहाने(1994)
30-शिरीष की याद आई(1995)

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top