ममूलक वंश/ गुलाम वंश

ममूलक वंश/ गुलाम वंश

गुलाम वंश का नामकरण 
दिल्ली सल्तनत ( Delhi Sultanate) के प्रथम राजवंश के नामकरण को लेकर इतिहासकारों में विभिन्न मतभेद हैं
विभिन्न इतिहासकारों ने इसे अलग-अलग नाम दिया जैसे दास वंश ,ममुलक वंश, इल्बारी वंश और प्रारंभिक तुर्क आदि


वास्तव में इन वर्षों में दिल्ली पर शासन करने वाले सुल्तान तीन अलग-अलग वंश के थे
1- कुतुबुद्दीन ऐबक- ने कुतुबी(1206-11)
2- इल्तुतमिश ने शम्सी(1211-66) और
3- बलबन ने-बल्बनी वंश (1266-90)की स्थापना की थी

 आरंभ में इसे दास वंश का नाम दिया गया क्योंकि इस वंश का प्रथम शासक कुतुबुद्दीन ऐबक एक दास( मोहम्मद गोरी का दास) था
 इल्तुतमिश और बलबन भी दास थे लेकिन इस शब्द को मान्यता नहीं मिली क्योंकि इस वंश के 11 शासकों में केवल 3 कुतुबुद्दीन ऐबक, इल्तुतमिश और बलबन ही दास थे और सत्ता ग्रहण करने से पूर्व यह दास्तां से मुक्त कर दिए गए थे
 कुछ इतिहासकारों ने इसे इल्बारी वंश का नाम भी दिया लेकिन यह शब्द भी उचित नहीं माना गया क्योंकि सभी शासक इल्बारी जाति से संबंधित नहीं थे

 मिनहाजुद्दीन 
कुतुबुद्दीन ऐबक इल्बारी तुर्क  नहीं थ। बलबन  अपने आप को  इल्बारी तुर्क कहता था
लेकिन उसके दरबारी इतिहासकार मिनहाजुद्दीन सिराज के तथ्य से यह सिद्ध नहीं होता था
प्रथम शासक इल्तुतमिश था

 अजीज अहमद 
अजीज अहमद ने शासकों के लिए दिल्ली के आरंभिक तुर्क शासकों का नाम दिया है क्योंकि उनके अनुसार इन शासकों के लिए वंश शब्द का प्रयोग अनुचित था
कुछ इतिहासकारों ने इन्हें संक्षेप में आदि तुर्क भी कहा है

 हबीबुल्लाह ( Habibullah) द्वारा प्रस्तावित ममूलक नाम
अंततः हबीबुल्लाह  द्वारा प्रस्तावित नाम ममुलक शासक ही सर्वाधिक मान्य है
हबीबुल्लाह  ने मध्यकालीन मिस्र के इतिहास से उदाहरण लेकर यह नाम प्रस्तावित किया था जहां दास सेनानायकों द्वारा स्थापित वंश को ममुलक  नाम दिया गया था
ममुलक अरबी भाषा (Arabic) का शब्द है जिसका अर्थ गुलामी के बंधन से मुक्त माता पिताओं से उत्पन्न वंश से है
इस प्रकार 1206 ईस्वी से 1290 तक के भारत पर शासन करने वाले शासकों को ममूलक नाम से संबोधित किया जाता है
ममूलक वंश (Mamluk dynasty) के कुल 11 शासकों ने  84 वर्षों तक शासन किया
ममूलक वंश के 11 शासकों द्वारा किए गए 84 वर्ष तक के शासन का काल
1. कुतुबुद्दीन ऐबक- 1206 से 1210 ईसवी
2. आरामशाह- 1210 से 1211ईस्वी

3. इल्तुतमिश- 1211 से 1236 ईस्वी
4. रुकनुद्दीन फिरोज शाह- 1236ईस्वी
5. सुल्ताना रजिया- 1236से 1240 ईस्वी
6. मुइजुद्दीन बहरामशाह-*1240 से 1242 ईस्वी
7. अलाउद्दीन मसूद शाह- 1242 से 1246 ईस्वी
8. नासिरुद्दीन महमूद- 1246 से 1265 ईस्वी
9. गयासुद्दीन बलबन- 1265 से 1287ईस्वी
10. मोईजुद्दीन कैकोबाद- 1287 से 1290ईस्वी
11. केयूमर्स- 1290 ईस्वी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *