रंग गठन व कणो के आधार पर राजस्थान की मिट्टियों के प्रकार

 [?] [?] भुरी बलुई मिट्टी [?] [?] * 
?यह मिट्टी राजस्थान के *बाड़मेर जालौर जोधपुर सीकर चूरू झुंझुनू जिले* में पाई जाती है
?इस मिट्टी में *85 से 90% तक बालू और 6-9 प्रतिशत तक मटियार* की मात्रा होती है
?इस मिट्टी में *जीवांश की मात्रा बहुत कम* पाई जाती है
*?चूने का अंश*इस मिट्टी में लगभग *अनुपस्थित* रहता है
?इस मिट्टी में *शुष्क खेती* की जाती है
?यह मिट्टी *बाजरा ,मोठ, ग्वार* की फसल के लिए उपयुक्त है
?इस मिट्टी में खेती करने के लिए *नाइट्रोजन और फास्फोरस युक्त खाद* की आवश्यकता होती है 


* [?] [?] टिब्बेदार पीली भूरी बलुई मिट्टी [?] [?] * 
?यह मिट्टी राजस्थान के *पश्चिमी बालुका  क्षेत्र* में मिलती है
?राजस्थान के *बाड़मेर जालौर नागौर जोधपुर सीकर चूरू और झुंझुनू*जिले में यह मिट्टी पाई जाती है
?इस प्रकार की मिट्टी में *90% बालू और 5-7% मटियार और कुछ मात्रा में गाद* होती है
?इस मिट्टी में *ह्यूमस मैगजीन और तांबे*की कमी होती है
?इस मिट्टी की *जलधारण क्षमता अत्यंत कम* होती है
?इस कारण इस मिट्टी का *वायु अपरदन व परिवहन* अधिक होता है
?इस मिट्टी में *बाजरा और मोठ*की खेती की जाती है 


* [?] [?] भूरी दोमट मिट्टी [?] [?] * 
?यह मिट्टी *नागौर जिले के परवतसर , मेड़ता तहसीलों एवं लूनी नदी बेसिन*में पाई जाती है
?इस मिट्टी में *8 से 10% मटियार और 8 से 12 प्रतिशत तक गाद*पाई जाती है
?इस में *जीवाश्म की मात्रा कम* होती है
?इस मिट्टी में *उर्वरकों व सिंचाई* के प्रयोग से *गेहूं और सरसों*की फसल अच्छी प्राप्त होती है 


* [?] [?] धूसर भूरी दोमट मटियार मिट्टी [?] [?] * 
?यह मिट्टी *बिलाड़ा जोधपुर नांवा पर्वतसर आहोर सिवाना सिरोही और पाली तहसीलों*में अधिक पाई जाती है
?इस मिट्टी मे *जल धारण क्षमता* अधिक होती है
?इस मिट्टी में *20% मटियार और 13 प्रतिशत गाद*की मात्रा पाई जाती है
?इस मिट्टी मे *ज्वार रायडा और सरसों*की फसलें *अधिक उगाई* जाती है 


* [?] [?] भुरी मटियार दोमट मिट्टी [?] [?] * 
?यह मिट्टी राजस्थान के *उत्तरी भाग में घग्गर के क्षेत्र में स्थित हनुमानगढ़ सूरतगढ़ पदमपुर रायसिहनगर और बीकानेर जिले के उत्तर पश्चिम भाग*में पाई जाती है
?इस मिट्टी में *मटियार की मात्रा 18 प्रतिशत और गाद की मात्रा 22 प्रतिशत* होती है
?इस मिट्टी की *जलधारण क्षमता अधिक* पाई जाती है
*?नहरी सिचाई उपलब्ध* हो जाने से इस मिट्टी में *चावल गन्ना कपास तिलहन गेहूं व दाले*पैदा की जा सकती है 


* [?] [?] हल्की भूरी बलुई दोमट मिट्टी [?] [?] *
? यह मिट्टी *राजगढ़ सुजानगढ़ नीमकाथाना श्रीमाधोपुर खेतड़ी दातारामगढ़ उदयपुरवाटी नावा पर्वतसर तहसील* में पाई जाती है
?इस मिट्टी में *16%मटियार और 14 से 18 प्रतिशत गाद* पाई जाती है
?इस मिट्टी में *जीवांश की मात्रा कम*होती है
?इस मिट्टी मे *जलधारण की क्षमता कम*होती है
?इसमें *जस्ता और तांबा*की कमी होती है 


* [?] [?] भूरी मटियार दोमट  मिट्टी [?] [?] * 
*?बनास बेसिन*में इस मिट्टी की *अधिकता* होती है
?यह मिट्टी *मांडलगढ़ जहाजपुर कोटडी निवाई किशनगढ़ ब्यावर केकडी रूपनगर भदेसर महुआ हिंडोन सपोटरा खंडार बोनली राजगढ़ थानागाजी अलवर लक्ष्मणगढ़ चंदाना पाडसौली बांदीकुई फागी और भरतपुर के उत्तर पूर्वी भाग*में पाई जाती है
?यह मिट्टी *कम रन्ध्राकार* होती है
?इस कारण इस मिट्टी में *जल का रिसाव धीमी गति*से होता है
?इसमें *20% मटियार और 22-24%गाद* की मात्रा पाई जाती है
?यह *अर्द्ध शुष्क क्षेत्र में धूसर भूरी व पीले रंग की और मटियार दोमट गठन* वाली मिट्टी होती है
?इसमें *गेहूं गन्ना कपास दाले व तिलहन*की फसलें उगाई जाती है