संस्कृत ग्रन्थों की संक्षिप्त सूची

  • अभिषेक नाटक – भास
  • अभिज्ञान शाकुन्तलम् – कालिदास
  • अविमारक – भास
  • अर्थशास्त्र – चाणक्य
  • अष्टाध्यायी – पाणिनि
  • आर्यभटीयम् – आर्यभट
  • आर्या-सप्तशती – गोवर्धनाचार्य
  • उरुभंग – भास
  • ऋतुसंहार – कालिदास
  • कर्णभार – भास
  • कादम्बरी – वाणभट्ट
  • कामसूत्र – वात्स्यायन
  • काव्यप्रकाश – मम्मट
  • काव्यमीमांसा – राजशेखर
  • कालविलास – क्षेमेन्द्र
  • किरातार्जुनीयम् – भारवि
  • कुमारसंभव – कालिदास
  • बृहत्कथा – गुणाढ्य
  • चण्डीशतक – वाणभट्ट
  • चरक संहिता – चरक 
  • चारुदत्त- भास
  • चौरपंचाशिका – बिल्हण
  • दशकुमारचरितम् – दण्डी
  • दूतघटोत्कच – भास
  • दूतवाक्य – भास
  • न्यायसूत्र – गौतम
  • नाट्यशास्त्र – भरतमुनि
  • पञ्चरात्र – भास
  • प्रतिमानाटकम् भास
  • प्रतिज्ञायौगंधरायण – भास
  • बृहद्यात्रा – वाराहमिहिर
  • ब्रह्मस्फुटसिद्धान्त – ब्रह्मगुप्त
  • ब्रह्मसूत्र – बादरायण
  • बालचरित्र – भास
  • मध्यमव्यायोग भास
  • मनुस्मृति – मनु
  • महाभारत – वेद व्यास
  • मालविकाग्निमित्र – कालिदास
  • मुकुटतादितक – वाणभट्ट
  • मेघदूत – कालिदास
  • मृच्छकटिकम् – शूद्रक
  • मिमांसा – जैमिनी
  • योगयात्रा – वाराहमिहिर
  • योगसूत्र – पतंजलि
  • रघुवंश – कालिदास
  • रसरत्नसमुच्चय – वाग्भट्ठ
  • रसमञ्जरी – शालिनाथ
  • रसरत्नसमुच्चय – वाग्भट्ठ
  • राजतरंगिणी – कल्हण
  • रामायण – महर्षि वाल्मीकि
  • व्याकरणमहाभाष्य – पतंजलि
  • वाक्यपदीय – भर्तृहरि
  • विक्रमोर्वशीय – कालिदास
  • वैशेषिकसूत्रम् – कणाद
  • स्वप्नवासवदत्तम – भास
  • समय-मातृका – क्षेमेन्द्र
  • साहित्य दर्पण – विश्वनाथ कविराज
  • सांख्यसूत्र – कपिलमुनि
  • सिद्धान्त शिरोमणि –
  • हर्षचरित्र – वाणभट्ट
  • ग्रन्थकार और ग्रन्
  •  
  • ग्रन्थकार — ग्रन्थ
  • भर्तृहरि – वाक्यपदीयम्
  • वामन एवं जयादित्य – काशिकावृत्ति
  • भट्टोजिदीक्षित – वैयाकरणसिद्धान्तकौमुदी
  • अभिनन्द — son of जयन्त, योगवशिष्ठसार,कादम्बरीकथासार, रामचरित
  • अभिनवगुप्त — ध्वन्यालोकलोचन, परमार्थसार
  • अध्यराज — उत्साह
  • अग्गवन्स — सद्दनीति
  • अलत — joint author of काव्यप्रकाश
  • अमरचन्द्र — बालभरत, काव्यकल्पलता
  • अमरसिंह — नामलिङ्नुगानुशासन
  • अमरुक — अमरुकशतक
  • अमितगति — धर्मपरीक्षा, सुभाषितरत्नसम्दोह
  • आनन्द — माधवनलकथा
  • आनन्दगिरि — शंकरविजय
  • आनन्दतीर्थ — यमकभरत
  • आनन्दवर्धन — देविशतक, ध्वन्यालोक
  • अनन्त — भरतचम्पु
  • अनन्त — वीरचरित्र
  • अन्नम् भट्ट — तर्कसंग्रह
  • अनुभूति — सरस्वतिप्रक्रिया
  • अनुभूति स्वरूपाचार्य — सरस्वतिप्रक्रिया
  • अपदेव — मीमांसान्यायप्रकाश
  • अप्पय्य दीक्षित — कुवलयानन्द
  • अरिसिंह — काव्यकल्पलता, शुक्र्तसम्किर्तन
  • आर्यभट्ट — आर्यभटिय, दशगीतिकासूत्र, आर्यस्तशत
  • (includes गणित), कालक्रिया, गोल
  • आर्यभट्ट ii — आर्य सिद्धान्त
  • आर्य देव — चतुशतिक, हस्तवलप्रकरनवृत्ति
  • आर्य शूर — जातकमाला
  • अशधर — धर्मामृत
  • अश्वगोश — बुद्धचरित, गन्दिस्तोत्रगाथा,सौन्दरानन्द
  • अश्विनिकुमार — रसरत्नसमुच्चय
  • असंग — (buddhist philosopher) महायनसूत्रलंकार,बोधिसत्त्वभुमि, योगचरभूमिशास्त्र
  • अत्रि — अत्रि स्मृति
  • आत्रेय — आत्रेय संहिता
  • बादरयण — ब्रह्म सूत्र
  • बल्ललसेन — अद्भुतसागर
  • बल्ललसेन — भोजप्रबन्ध
  • बाण — कादम्बरी, हर्षचरित, चन्डीशतक
  • भल्लत — शतक, शान्तिशतक
  • मम्मट — काव्यप्रकाश
  • भानुदत्त — रसमन्जरि, रसतरन्गिनि
  • भरत — नाट्यशास्त्र
  • भरतचन्द्र — विद्यासुन्दर
  • भरतितीर्थ — part author of पंचदशि
  • भारवि — किरातार्जुनीयम्
  • भर्तृहरि — वाक्यपदिय, वैराग्यशतक, शृन्गारशतक
  • भास — चारुदत्त, प्रतिज्ञयौगन्धरयन, प्रतिमनतक,स्वप्नवासवदत्ता
  • भासर्वज्ञ — न्यायसार
  • भास्करचार्य — करनकुतुहल, लीलावती,सिद्धान्तशिरोमणि
  • भास्करचार्य — गणित, गोल, ग्रहगणित, बीजगणित
  • भट्टकलन्कदेव — कर्नतकशब्दानुशासन
  • भट्ट नायक — ह्र्दयदर्पण
  • भट्टि — रावणवध (भट्टिकाव्य)
  • भट्टोजि दीक्षित — प्रक्रियाकौमुदि,सिद्धान्तकौमुदि, प्रौधमनोरम
  • भट्टोत्पल — होराशास्त्र
  • भवभूति — उत्तररामचरित, मालतीमाधव
  • भावमिश्र — भावप्रकाश
  • भयभंजनशर्मन् — रमलरहस्य
  • भोज — युक्तिकल्पतरु, राजमार्तन्ड, राजमृगान्क,राजवर्त्तिका, रामायणचम्पु (with लक्ष्मण भट्ट),शलिहोत्र,
  • शृन्गारप्रकाश, समरंगनसूत्रधार, सरस्वतिकण्ठाभरण,भुम, भुमक
  • भौमक — रावणर्जुनीय
  • बिहारी lal — सत्सै
  • विल्हण — कर्णसुन्दरि, चौरपंचशिखा (orचौरिसुरतपंचशिखा),विक्रमन्कदेवचरित
  • बिल्वमंगल — कृष्णकर्णामृत (or कृष्णलीलामृत)
  • ब्रह्मगुप्त — खण्डखद्यक, ब्रह्मसिद्धान्त, स्फुतब्रह्मसिद्धान्त
  • बुद्धभट्ट — अगस्तिमत, रत्नपरीक्षा
  • बुद्धघोषाचार्य — पद्यचूडमणि
  • बुधस्वामिन् — बृहत्कथाश्लोकसंग्रह
  • चक्रपाणि — दशकुमारचरित continues
  • चक्रपाणिदत्त — चिकित्सासारसंग्रह
  • छन्द — प्राकृतलक्षन
  • चन्देश्वर — स्मृतिरत्नाकर, नीतिरत्नाकर
  • चन्द्र — चन्द्र व्याकरण
  • चन्द्रगोमिन् — शिष्यलेखधर्मकाव्य
  • चरित्रसुन्दर गनिन् — महिपलचरित्र
  • चिदम्बर — राघवपाण्डवीयायदवीय
  • चिन्तामणि भट्ट — शुकसप्तति
  • दामोदर of दीर्घघोश family — वाणीभूषण
  • दामोदर, son of लक्ष्मीधर — संगीतदर्पण
  • दामोदरगुप्त — कुत्तनिमत
  • दण्डिन् — दशकुमार चरित, अवन्तिसुन्दरिकथा,काव्यदर्श, द्विसंधनकाव्य
  • देव — दैव
  • देवदत्त — a version of शुकसप्तति
  • देवनन्दिन्, पुज्यपाद — जैनेन्द्र व्याकरण
  • देवन्न भट्ट — स्मृतिचन्द्रिक
  • देवप्रभा सुरि — पन्दवचरित्र, मृगवतिचरित्र
  • धनंजय — दशरूप, राघवपाण्डविय
  • धनंजय — नाममाला
  • धनपल — तिलकमन्जरि, पैयलच्चि, ऋशभपंचशिखा
  • धन्वन्तरि — author of a medical glossary
  • धर्मकीर्ति — न्यायबिन्दु
  • धर्मराज — वेदान्तपरिभास
  • धर्मोत्तर — न्यायबिन्दुटीका
  • धो — पवनदूत
  • दिग्नाग — न्यायप्रवेश (or by शंकरस्वामिन्),प्रमाणसमुच्चय
  • दीपांकर — अश्ववैद्यक
  • दुर्लभराज — समुद्रतिलक
  • द्य द्विवेद — नीतिमन्जरि
  • गण — अश्वायुर्वेद
  • गणेश — ग्रहलाघव
  • गंगादास — छन्दोमन्जरि
  • गंगेश — तत्त्वचिन्तामणि
  • गौडपाद — author of करिकास्
  • घतकर्पर — घतकर्परकाव्य, नीतिसार (ascr —)
  • गोपिनाथ — revises दशकुमारचरित
  • गोवर्धन — आर्यसप्तशति
  • गुमणि — उपदेशशतक
  • गुणभद्र — उत्तरपुराण
  • गुणचन्द्र — नाट्यदर्पण (with रामचन्द्र)
  • गुणाढ्य — बृहत्कथा
  • हल — सत्तसै
  • हलायुध — ब्राह्मणसर्वस्व
  • हलायुध poet and grammarian — अभिधनरत्नमाला
  • हलायुध — कविरहस्य
  • हरदत्त — पदमञ्जरी
  • हरदत्त सुरि — राघवनैसधीय
  • हरिभद्र — धर्मबिन्दु, योगदृष्टिसमुच्चय, योगबिन्दु,लोकतत्त्वनिर्णय, सद्दर्शनसमुच्चय
  • हरिचन्द्र — धर्मशर्मभ्युदय
  • हरिचन्द्र — जीवनधरचम्पु
  • हर्षवर्धन — अष्टमहश्रीचैत्यस्तोत्र, सुप्रभातस्तोत्र
  • हर्ष — नागानन्द, प्रियदर्शिखा, रत्नावलि
  • हर्षदेव — लिन्गनुशासन
  • हर्षकीर्ति सुरि — ज्योतिषसरोद्धर
  • हेमचन्द्र — अनेकार्थसंग्रह, अभिधनचिन्तामणि,काव्यनुशासन, छन्दोनुशासन, त्रिषष्ठिशलका पुरुषचरित,देशिनाममाला, द्व्यश्रयकाव्य, निघन्तुशेष,परिशिस्तपर्वन्,प्रमाणमीमांसा, लघु अर्हन्नीति, वीतरागस्तुति,सिद्धहेमचन्द्र,हैम व्याकरण
  • हेमाद्रि — चतुर्वर्गचिन्तामणि, शतश्लोकि
  • हेमविजय — कथारत्नाकर
  • इरुगप — नानार्थरत्नमाला
  • ईश्वरकृष्ण — सांख्यकरिका
  • जगद्देव — स्वप्नचिन्तामणि
  • जगदीश — तर्कामृत
  • जगन्नाथ — भामिनिविलास, रसगंगधर
  • जैमिनि — मीमांसा सूत्र
  • जल्हन — मुग्धोपदेश, सुभाषितमुक्तावलि,सोमपलविलास
  • जम्भलदत्त — version of वेतालपंचविन्शतिक
  • जयदत्त — अश्ववैद्यक
  • जयदेव — गीतगोविन्द
  • जयदेव, dramatist — चन्द्रलोक
  • जयदेव — रत्नमन्जरि
  • जयादित्य — कशिकावृत्ति
  • जयन्त भट्ट, father of अभिनन्द — न्यायमन्जरि
  • जयरथ — अलंकारविमर्शिनि, हरचरितचिन्तामणि
  • जयवल्लभ — वज्जलग्ग
  • जीमूतवहन — दयाभाग, धर्मरत्न
  • जिनकीर्ति — चम्पकश्रेश्तिकथानक,पलगोपलकथानक
  • जिनसेन — हरिवंशपुराण
  • जिनसेन — आदिपुराण, पर्श्वभ्युदय
  • जिनेन्द्रबुद्धि — न्यस
  • ज्योतिरीश्वर — पंचसयक
  • कल्हण — राजतरंगिणी
  • कालिदास — ऋतुसंहार, कुमारसम्भव,मालाविकाग्निमित्र, मेघदुत,रघुवंश, विक्रमोर्वशीय, शकुन्तला, शृन्गारसश्तक(ascr—), श्रुतबोध
  • कल्लत — स्पन्दकरिका
  • कल्याणमल्ल — अनंगरंग
  • कमलाकर — निर्णयसिन्धु
  • कमन्दकि — नीतिसार
  • कनद — वैशेषिक्क सूत्र
  • कनकसेन — यशोधरचरित
  • कश्यप — बालवबोधन
  • कश्यप — धर्मसूत्र
  • कात्यायन — अनुक्रमणिस्, कात्यायन स्मृति,नाममाला
  • कौटिल्य — अर्थशास्त्र
  • कविराज सुरि — राघवपाण्डविय
  • केदार भट्ट — वृत्तिरत्नाकर
  • केशव मिश्र — तर्कभाषा
  • केशवस्वामी — नानार्थर्नवसम्क्षेप
  • कोक्कोक — रतिरहस्य
  • कृष्णलीलाशुक — पुरुषकर
  • क्रमदीश्वर — संक्षिप्तसार
  • क्षेमम्कर — version of सिंहासनद्वत्रिन्शिका
  • क्षेमेन्द्र — अवदन्कल्पलता, औचित्यविचार,कलाविलास, कविकण्ठाभरण,चतुर्वर्गसंग्रह, चारुचर्यशतक, दर्पदलन, दशावतारचरित,नृपावलि, पद्य कादम्बरी, बृहत्कथामन्जरि,भरतमन्जरि,रामायणमन्जरि, समयमातृर्क, सुवृत्ततिलक,सेव्यसेवकोपदेश
  • कुलशेखर — मुकुन्दमाला
  • कुमारदास — जानकीहरण
  • कुमारलता — कल्पनमन्दिटीका or सुत्रालंकार
  • कुमारस्वामिन् — रत्नपन
  • कुमरिल — तुप्तिक, तन्त्रवर्त्तिक, श्लोकवर्त्तिक