08-11 JUNE 2017 RAJASTHAN CURRENT AFFAIRS

01. अगस्त में होगा राजधानी में ‘फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन’
राजस्थान को एजुकेशन हब कहा जाता हैं। प्रदेश के कई क्षेत्रों को शिक्षा जगत में विशिष्ट कार्य करने पर विशेष पहचान मिली हैं। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे 2017 में रिसर्जेंट राजस्थान व ग्राम की तर्ज पर ही जयपुर फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन का आयोजन करने जा रही हैं। इस आयोजन से राजस्थान के शिक्षक वर्ग, छात्र वर्ग व शिक्षा जगत में राजस्थान को विश्वस्तर पर नई पहचान मिलेगी। 5 से 6 अगस्त को राजधानी के जयपुर एग्जिबिशन एंड कन्वेंशन सेन्टर (JECC) में एज्युकेशन फेस्टिवल आयोजित होने जा रहा है।
इस फेस्टिवल का आयोजन राजस्थान को एज्युकेशन हब बनाने के लिहाज किया जा रहा है। फेस्ट का नाम ‘फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन’ (Festival of education) रखा गया है।
राजस्थान सरकार यह आयोजन दुबई बेस्ड ‘जेम्‍स एजुकेशन’ (Gems education) के साथ मिलकर करने जा रही है। इस खास आयोजन का नाम होगा, ‘एंटरटेनिंग एंड इनफोर्मेटिव एक्‍स्‍ट्रावेगांजा’. जिसके लोगो को राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने 20 दिसंबर 2016 को दिल्‍ली में लॉन्‍च किया था। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इस दौरान कहा था कि राजस्थान की सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर काम किया है जिसके चलते निजी स्‍कूलों की तुलना में सरकारी स्‍कूलों में ज्यादा बच्चों की तादाद बढी है। जयपुर में होने वाले इस एजुकेशन फेस्टिवल में टीचिंग एंड लर्निंग सेशन, मास्‍टर क्‍लासेज, कॉन्सर्ट, एग्जिबिशंस और टैलेंट कॉम्‍पटीशिंस आयोजित किए जाएंगे।

02. आवासीय योजनाओं में दिव्यांगों के लिए 5 % कोटा तय होगा
राज्यसरकार ने गुरुवार को दिव्यांगों के हित में कई बड़े निर्णय किए। इसमें भूमि आवंटन एवं आवासीय योजनाओं में दिव्यांगों के लिए पांच फीसदी कोटा तय किया जाएगा। दिव्यांगों की सुगम आवाजाही के लिए सभी सरकारी भवनों में दिव्यांग फ्रेंडली बनाया जाएगा। सचिवालय के सभी भवनों में रैम्प, टॉयलेट बनाए जाएंगे। वहीं, सभी सरकारी एवं निजी स्तर पर संचालित अस्पतालों में दिव्यांगों को निशुल्क उपचार एवं जांच की व्यवस्था की जाएगी।
03. सुराज सीएमएस पोर्टल की मॉनिटरिंग का जिम्मा संभालेंगे ज़िला कलेक्टर
सुराज सीएमएस पोर्टल पर ज़िले की नवाचार एवं अभिनव प्रयोग की सफल स्टोरी अपलोड करने की जिम्मेदारी अब समस्त ज़िला कलेक्टरों की होगी। निकट भविष्य में आयोजित होने वाली कलेक्टर कांफ्रेंस में इस पोर्टल पर अपलोड किए जाने वाले नवाचार एवं अभिनव प्रयोगों की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समीक्षा करेगी। आयोजना एवं सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग के प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोरा ने सभी ज़िला कलेक्टरों को इस संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं।


04. बेटियों को गोद लेने में देश में अग्रणी है राजस्थान
राज्य में पिछले चार सालों में कुल 593 अनाथ बच्चों को गोद लिया गया। जिसमें 213 बेटों की तुलना में 380 बेटियों को गोद लिया गया। उल्लेखनीय है कि बीमारू कहे जाने वाले बिहार, एमपी, यूपी और राजस्थान अनाथ बेटियों को गोद लेने में आगे रहकर सबको चौंका रहे हैं।

05.  परमाणु: द स्टोरी ऑफ पोकरण की शूटिंग
पोकरण. परमाणु नगरी पोकरण में 11 व 13 मई 1998 को हुए सिलसिलेवार पांच परमाणु परीक्षणों की याद को ताजा करने बॉलीवुड के कलाकार इस पर फिल्म बना रहे है, जिसकी शूटिंग कस्बे में 14 जून से शुरू होगी। जिसको लेकर तैयारियां शुरूकर दी गई है। फिल्म का नाम परमाणु : द स्टोरी ऑफ पोकरण है। हालांकि इस फिल्म की शूटिंग का कार्य मुंबई व दिल्ली में चल रहा है, जबकि इस फिल्म का केन्द्र बिन्दु पोकरण होने के कारण आगामी 14 जून से इसकी शूटिंग शुरू होगी। गौरतलब है कि भारत सरकार की ओर से प्रथम परमाणु परीक्षण 18 मई 1974 तथा द्वितीय परीक्षण 11 व 13 मई 1998  को पोकरण फिल्ड फायरिंग रेंज में किया गया था तथा केन्द्र सरकार ने भारत की शक्ति का लोहा पूरे विश्व में मनवाया था। इसके बाद से ही पोकरण विश्व मानचित्र पर एक शक्तिस्थल के रूप में उभरा। इसी याद को ताजा करने के लिए फिल्म निर्माता निदेशक अभिषेक शर्मा के निर्देशन में एक फिल्म बनाई जा रही है।

06.  कुलपति प्रो. छींपा को सरदार वल्लभ भाई पटेल पुरस्कार
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने बीकानेर के स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. बी.आर.छीपा को सरदार वल्लभ भाई पटेलपुरस्कार से सम्मानित किया है।केंद्रीय हिंदी सेवा संस्थान की ओर सेराष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में दिए गए पुरस्कार के रूप में डॉ. छींपाको पांच लाख रुपए एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।छींपा को यहसम्मान कृषि शिक्षा, शोध और अनुसंधान के क्षेत्र में वैज्ञानिक शब्दावली सेयुक्त अंग्रेजी शब्दों की जगह हिन्दी शब्दों के चलन को बढ़ावा देने और हिन्दीके जन जन तक प्रचार प्रसार के लिए दिया गया है।
07. महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में पहली बार मनाया स्थापना दिवस
महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में विश्वविद्यालय के पहली बार मनाए जा रहे स्थापना दिवस पर कार्यक्रम की शुरुआत माँ सरस्वती की प्रतिमा का दीप प्रज्जवलित कर माल्यापर्ण कर किया गया। इसी के साथ कुलगीत  का गायन भी किया गया।कार्यक्रम में मुख्यअतिथि यूजीसी के पूर्व चेयरमेन प्रो वेदप्रकाश व् विशिस्ट अतिथि कुलसचिव मनोज शर्मा तथा अध्यक्षता विश्विधालय के कुलपति प्रो भागीरथ सिंह ने की। कुलपति ने विश्विधालय की आगामी गतिविधियों की जानकारी दी।


08. जोधपुर में होगा चंद्रमा के तापमान का विश्लेषण
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) अगले साल की पहली तिमाही में अपना दूसरा चंद्र मिशन चंद्रयान-2 लॉन्च करने जा रहा है। चंद्रयान-2 के साथ इस बार एक रोबोट जैसा उपकरण लेण्डर व रोवर जाएगा। लेण्डर व रोवर चंद्रमा की सतह के तापमान के डाटा इसरो के जरिए जोधपुर स्थित इंटरनेशनल सेंटर फॉर रेडियो साइंस (आईसीआरएस) में भेजेगा, जहां तापमान का विश्लेषण होगा। तापमान के विश्लेषण के साथ यह पता चलेगा कि चंद्रमा की सतह पर कहां-कितना पानी है और कितना पानी बर्फ की कितनी मोटी परत के रूप में उपस्थित है।


09. बर्ड फेस्टिवल-2017  23 से 25 दिसंबर तक होगा
इस बार बर्ड फेस्टिवल में नवाचार किए जाएंगे। इसके तहत बर्ड रेस होगी। वहीं आने वाले समय में एेसे आयोजनों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने की रूपरेखा तैयार की गई। बर्ड फेस्टिवल 2017 की तैयारी बैठक मंगलवार को वन विभाग के अरण्य कुटीर में हुई।उप वन संरक्षक हरिणी वी. ने बताया कि फेस्टिवल 23 से 25 दिसंबर तक होगा। तिथि तय होने के साथ ही अगले साल से इसमें विदेशी बर्ड प्रेमी भी शामिल हो सकेंगे।

10.  रील द्वारा कवि सम्मेलन का आयोजन
जयपुर।राजस्थानइलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंस्ट्रूमेंट्स लिमिटेड (रील) की ओर से राजभाषा हिंदी के प्रति जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति के तत्वावधान में महावीर सभा भवन, महावीर पब्लिक स्कूल कवि सम्मेलन हुआ। उद्घाटन रील के प्रबंध निदेशक ए. के. जैन अन्य ने किया। सम्मेलन में रील कर्मियों उनके परिवार के सदस्यों ने भाग लिया।     


11. राजस्थान को जू. नेशनल बास्केटबॉल में कांस्य
जयपुर | राजस्थानने नोएडा में सम्पन्न हुई 68वीं जूनियर नेशनल बास्केटबॉल प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीत लिया। राजस्थान बॉयज टीम ने हार्डलाइन मुकाबले में गत विजेता तमिलनाडु को 75-68 से पराजित किया। राजस्थान टीम की ओर से राजीव ने 33, आशीष ने 15, सुमित ने 12 दीपक ने 10 अंक बनाए। राजस्थान का कल सेमीफाइनल मुकाबला केरल से हुआ था जिसमें राजस्थान टीम बेहद नजदीकी मुकाबले में 92-86 से हार गई थी। राजस्थान बास्केटबॉल संघ के सचिव अजीत सिंह राठौड़ ने बताया कि पदक विजेता टीम का सोमवार को डीडवाना (नागौर) पहुंचने पर स्वागत सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा। स्वागत समारोह में मुख्य अतिथि मंत्री यूनुस खान भी उपस्थित रहेंगे। बीएफआई ने टीम को 50 हजार रुपए नकद पुरस्कार दिया। एकलव्य सोसायटी के अध्यक्ष दानवीर भाटी ने टीम को बधाई दी।           

12.  हमराह’ का शानदार आगाज़, पैरासेलिंग की उड़ान रही आकर्षण का केंद्र
राजस्थान पत्रिका की पहल पर रविवार को भ्रमण पथ पर सुबह छह बजे ‘हमराह’ का आयोजन हुआ।  खुद को स्वस्थ बनाने के साथ दूसरों को स्वस्थ रहने का संदेश देने के लिए हो रहे इस आयोजन में  भागीदारी निभाने के लिए सजग नागरिकों में उत्साह दिखा। भ्रमण पथ पर शुद्ध वातावरण में प्रतिभागी निरोगी और स्वस्थ शरीर के लिए कसरत करेंगे और मनोरंजन करते हुए समाज को सकारात्मक संदेश दिया। यह आयोजन सिविल लाईन्स स्थित भ्रमण पथ में सुबह छह बजे हुआ।
म्यूजियम मैदान पर पेन्टिंग, सतोलिया, एरोबिक्स, मार्शल आर्ट, लेमन रेस, मेहंदी, संस्कृति को जानने से संबंधित आयोजन भी हुए लेकिन पैरासेलिंग की उड़ान लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र रही।                 


13. राजस्थान लगातार देश में फसली ऋण वितरण में दूसरे स्थान पर
सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक ने शुक्रवार को बताया कि राजस्थान वर्ष 2016-17 में ब्याज मुक्त फसली ऋण वितरण में देश में दूसरे स्थान पर रहा है। महाराष्ट्र 15514.16 करोड़ रुपये के ऋण वितरण के साथ पहले स्थान पर जबकि राजस्थान 23.31 लाख किसानों को 13540.46 करोड़ रुपये के अल्पकालीन ऋण का वितरण कर दूसरे स्थान पर रहा है। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश, पंजाब, हरियाणा, गुजरात, उत्तरप्रदेश, उडी़सा, कर्नाटक जैसे राज्य ब्याज मुक्त ऋण वितरण में राजस्थान से पीछे हैं।
श्री किलक ने बताया कि सहकारिता विभाग किसानों के विकास के लिए तत्परता से कार्य कर रहा है। वर्ष 2015-16 में भी राजस्थान देश में ब्याज मुक्त फसली ऋण वितरण के मामले में भी द्वितीय था। उन्होंने कहा कि वर्ष 2017-18 में 25 लाख से अधिक किसानों को ब्याज मुक्त फसली ऋण वितरण के लिए 15000 करोड़ रुपये का लक्ष्य रखा है। जिसमें से खरीफ फसल के लिए 9 हज़ार  करोड़ रुपये तथा रबी के लिए 6 हज़ार  करोड़ रुपये किसानों को वितरित किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.