KAVYASHASTRA QUESTION 12

?काव्यशास्त्र?
???????


1अध्यात्म के क्षेत्र में स्वयं परमात्मा को ही माना गया है?
अ रस✔
ब काव्य
स गुण
द छंद

2 रस में किस गुण का उदय होता है?
अ सतत्व✔
ब तमोगुण
स रजोगुण

3 भरतमुनि ने किस के बिना अर्थ की प्रवृति नही मानी?
अ रस✔
ब निबन्ध
स नाटक
द काव्य

4 रस निष्पत्ति किन पात्रो म् होती है?
अ मूल पात्र✔
ब चित्रतुरंग
स काव्य
द दर्शक

5 शांत रस की चर्चा किसने की?
अ क्षेमेन्द्र
ब भरतमुनि✔
स जगन्नाथ
द मम्मट

6 विभाव के भेद होते है?
अ 1
ब 2✔
स 3
द 4

7 नाटक का प्रमुख तत्व होता है?
अ पात्र
ब काव्य
स रस✔
द कथानक

8 अनुभाव के प्रकार होते है?
अ 1
ब 2
स 3
द 4✔

9 रस स्वरूप के तत्व होते है?
अ 6
ब 7✔
स8
द 9

10 वेदों में रस व प्रयोग किस के लिए होता है?
अ जल
ब दुग्ध
स सोम
द सभी✔

11 भट्टलोलल्लट के अनुसार संयोगत का अर्थ है?
अ द्विमुखी
ब त्रिमुखी✔
स चतुर्थ मुखी
द कोई नही

12 शंकुक का अनुमितिवाद का आधार है-?
अ न्यायशास्त्र✔
ब चित्रतुरंग
स दोनों
द कोई नही

13 निम्न में से कौनसा सात्विक अनुभाव नही है?
अ स्तम्भ
ब प्रलय
स रोमांच
द क्रोध✔

14 जिनकी स्थिति काव्य में आद्यतन बनी रहती है-?
अ रस
ब स्थायीभाव✔
स अनुभाव
द सभी

15 रौद्र रस का स्थायी भाव है?
अ क्रोध
ब अमर्ष
स दोनों✔
द अ

 

Part 02

 

1 भारतीय काव्यशास्त्र म् रस के किस का महत्त्व है?
अ छंद
ब काव्य
स ध्वनि✔
द गुण

2काव्यशास्त्र में रीति का अर्थ है?
अ काव्य निर्माण की पद्धति✔
ब काव्य के सहायक तत्व
स काव्य को सही दिशा देना
द काव्य की विशिष्ट रचना

3 काव्य के शोभा कारक धर्म किन्हें माना?
अ रस
ब छंद
स गुण✔
द सभी

4कुंतक ने वक्रोक्ति की कल्पना किससे ग्रहण की?
अ भामह✔
ब क्षेमेन्द्र
स वामन
द मम्मट

5 नाट्यशास्त्र म् कितने अंलकारो का उल्लेख है?
अ 1
ब 2
स 3
द 4✔

6आचार्य भरत ने किस अलंकार का प्रयोग नहीं किया?
अ उपमा
ब रूपक
स श्लेष✔
द दीपक

7’कवयशोभकरान धर्मान अलंकार प्रचक्षते’ परिभाषा है?
अ मम्मट
ब दण्डी✔
स भामह
द वामन

8काव्यलकररसूत्रवृत्ति ग्रन्थ किसका है?
अ वामन✔
ब मम्मट
स रुद्रट
द दण्डी

9 भरत के समय काव्य या नाट्य रचना की शैलियां कितनी थी?
अ 2
ब 3
स 4✔
द 5

10 दण्डी ने रीतियों की संख्या बतायी?
अ 1
ब 2✔
स 3
द 4

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top