RAS ART AND CULTURE QUIZ 04

RAS ART AND CULTURE QUIZ 04

Q-1.. मेवाड़ शैली को जिस राज्य की मूल शैली माना जाता है वह है??
A- राजस्थान
B- पंजाब
C- गुजरात
D- महाराष्ट्र
A- राजस्थान( मेवाड़ शैली राजस्थान राज्य की मूल शैली व सबसे प्राचीन शैली मानी गई है शैली का विकास  कुम्भा के शासनकाल में हुआ है कुंभा राजस्थान में चित्रकला का जनक कहलाता है मेवाड़ शैली का स्वर्णकाल जगत सिंह के काल को कहा जाता है कलीला दमना इस चित्र शैली के दो पात्र हैं)?✔

Q-2.. निम्न में से कौन सा युग में असंगत है??
धर्म               पूजा स्थल
A-ईसाई.               गिरजाघर
B- पारसी.            जेंद अवेस्ता
C-यहूदी.               सिनेगोग
D-सिक्ख.             गुरूद्वारा
B-पारसी-जेंद अवेस्ता(जेंद अवेस्ता पारसियों का धार्मिक ग्रंथ है  पूजा स्थल नहीं, पारसियों के पूजा स्थल अग्नि मंदिर /अग्यारी कराते हैं ?✔

Q-3.. निम्न में से कौन सा पंत संप्रदाय सगुण भक्ति धारा से संबंधित नहीं है??
A- कापालिक संप्रदाय
B- निंबार्क संप्रदाय
C-  शाक्त संप्रदाय
D- दरिया पंथ
D-दरिया पंथ( रामस्नेही संप्रदाय की रेट शाखा कोदरिया पंथ कहते हैं यह शाखा संत दरियाव जी द्वारा प्रवर्तित की गई है इस पंथ में नाम स्मरण की प्रमुखता है साधना पद्धति योग मार्गी है यह पंथ भी निर्गुण संत संप्रदाय की परंपरा में है इस पंथ  को प्रवर्तित करने वाले दरियाव जी जोधपुर के जैतारण गांव के रहने वाले थे) ?✔

Q-4.. राजस्थान में तेरापंथ जैन संप्रदाय की स्थापना किस आचार्य द्वारा की गई थी??
A- भीखण जी द्वारा
B- तुलसी जी द्वारा
C- कालूगणी  जी द्वारा
D- महाप्रज्ञ जी द्वारा
A-भीखण जी द्वारा(आचार्य भिक्षु स्वामी भी कहते हैं जैनियों के पंथ को गच्छ  भी कहते हैं तेरापंथी  मूर्ति पूजा में विश्वास नहीं करते  हैं  तेरापंथी  स्थानकवासी पंथ से  आषाढ़ शुक्ल पूर्णिमा  शनिवार को अलग होकर तेरापंथी शाखा स्थापित की  उनके संस्थापक संत भिक्षु जोधपुर राज्य के कटालिया ग्राम  सोजत के रहने वाले  थे इस पंथ मे मूलतः 13 संत थे अतः यह  तेरापंथ  कहलाये ,तेरापंथियो के 13 नियम है इस पंथ का प्रचार राजस्थान में सर्वाधिक है) ?✔

Q-5.. राजस्थान में  कनक दंडवत की प्रथा किस मंदिर की विशेष परंपरा है??
A- करणी माता मंदिर
B- केला देवी माता
C- शीला देवी माता
D- नारायणी माता
B- केला देवी माता(केला देवी माता  करौली में स्थित है  इस माता की मान्यता श्रद्धालुओं में इतनी है कि  सवाई माधोपुर, हिंडौन, करौली आदि के गुर्जरों में और अन्य वर्गों में भी पुत्र प्राप्ति और सौभाग्य के लिए केला का आशीर्वाद अक्सीर  माना जाता है  पूरे मार्ग में साष्टांग प्रणाम करते हुए मंदिर तक जाने  (कनक दंडवत) की प्रथा भी इस मंदिर की विशेष परंपरा है) ?✔

Q-6.. “”चमत्कार प्रदर्शन”” राजस्थान में स्थित किस घराने की विशेषता है??
A- जयपुर घराना
B-   सुखदेव प्रसाद घराना
C- मेवाती घराना
D- जानकी प्रसाद घराना
A- जयपुर घराना(जयपुर घराने में चमत्कार प्रदर्शन करने की अपनी एक विशेषता रही है भाव की दृष्टि से चाहे इसका कोई विशेष महत्व नहीं लेकिन दर्शकों को चमत्कृत करना ही इनकी विशेषता रही है  जिसे जमीन पर गुलाल बिछाकर गज पर नाचते हुए हाथी का चित्र अंकित करना  इसी प्रकार बताशे बिछाकर उन पर इस कुशलता के साथ नाते करना कि एक भी बताया ना टूटे इस घर आने के सुप्रसिद्ध नृत्याचार्य सुंदर प्रसाद जी इस तरह के प्रदर्शन में दक्ष माने जाते थे) ?✔

Q-7..नोगरी आभूषण  महिलाओं द्वारा शरीर के किस अंग पर पहना जाता है??
A- पैर में
B-  बाजू में
C-हाथ में
D- गले में
C-हाथ मे( नोगरी हाथ में पहना जाने वाला एक मोटा भारी  कड़ा होता है,कडा कंकण, नोगरी,चॉट,गजरा आदि हाथ में पहने जाने वाले आभूषण है )?✔

Q-7..निम्न में से कौन सी प्रथा बाकी दी गई तीन प्रथाओ से मेल नहीं खाती है??
A-खेवणा
B-आणा करना
C-अनाला भोर भू
D-अट्टा-सट्टा
C-अनाला भोर भू(अनाला भोर भू  प्रथा नवजात शिशु की नाल काटने की प्रथा है जबकि अन्य तीनों प्रथाएं विवाह से संबंधित है जो कि गरासिया जनजाति में प्रचलित है  खेवड़ा प्रथा प्रेम में भागकर किया गया विवाह है आणा  करना विधवा विवाह प्रथा है, और अट्टा सट्टा बेटी के बदले बहु विवाह  प्रथाएं हैं ?✔

Q-8.. किस जनजाति के लोग गुजरात के पंचमहल जिले में  झेला बावसी के मेले में विशेष रूप से भाग लेते हैं??
A- सॉसी
B-कंजर
C-गरासिया
D-डामोर
D-डामोर(डामोर समुदाय का डूंगरपुर में ग्यारस की रेवाड़ी का मेला भरता है, डामोर जनजाति भीलों की अपेक्षा अपने तन की शुद्धता का विशेष ध्यान रखती है डामोर जनजाति मूल रूप से गुजरात निवासी है राजस्थान में डूंगरपुर से सीमलवाडा पंचायत समिति में सर्वाधिक डामोर रहते हैं इसलिए क्षेत्र को डामरिया  कहा जाता है )?✔
Q-9.. भील जनजाति के सामाजिक रिवाजों और अर्थव्यवस्थाओं के लिए सर्वाधिक पसंद, पारिस्थितिक और परंपराओं वाला वृक्ष है वह है??
A- नीम
B- पीपल
C- महुआ
D- खेजड़ी
C- महुआ(भीलों का सर्वाधिक पसंदीदा वृक्ष महुआ है महुआ वृक्ष भील जनजाति के सामाजिक रिवाजों और अर्थव्यवस्थाओं के लिए सर्वाधिक पसंद पारिस्थितिकी और परंपरा वाला वृक्ष हे इसी कारण इसे आदिवासियों का कल्पवृक्ष करते हैं आदिवासी महुआ वृक्ष से शराब बनाते हैं महुआ के फूल ग्रीष्म ऋतु में प्रातः काल से दोपहर तक आते हैं )?✔

Q-10.. जयपुर शहर की नीव किस व्यक्ति द्वारा रखी गई थी??
A- विद्याधर भट्टाचार्य
B- सर मिर्ज़ा इस्माइल
C- पंडित पुंडरीक रत्नाकर
D- अहमद लाहौरी
C- पंडित पुंडरीक रत्नाकर(जयपुर की स्थापना कछवाह वंश के शासक सवाई जयसिंह द्वितीय ने 18 नवंबर 1727 को जयनगर के नाम से की थी  जयपुर नगर का वास्तुकार योजनाकार बंगाली ब्राह्मण विद्याधर भट्टाचार्य थे आधुनिक जयपुर का निर्माता मान सिंह द्वितीय के प्रधानमंत्री सर मिर्ज़ा इस्माइल को कहा जाता है )?✔

Q-11.. लंबी बावड़ी कहां स्थित है??
A- डूंगरपुर
B- धौलपुर
C- जोधपुर
D- बूंदी
B- धौलपुर(इस बावड़ी को पाताल तोड़  बावड़ी  भी कहते हैं यह बावड़ी कारीगरी वास्तु कला की दृष्टि से  अद्वितीय है )?✔

Q-12.. दुनिया की सबसे गहरी बावड़ी  है??
A- चांद बावड़ी आभानेरी
B- हाडी रानी की बावड़ी टोंक
C- दूध बावड़ी माउंट आबू
D- उदय बावड़ी डूंगरपुर
A-चांद बावड़ी आभानेरी(दोसा जिले में स्थित है  यह बावड़ी सो मीटर गहरी  है इसका निर्माण नवी शताब्दी  में किया गया था  इसके अंदर 3500 सीढ़ियां हैं यह चारों ओर से 35 मीटर लंबी है इस बावड़ी में नीचे उतरने पर तापमान में कमी आती है यह बावड़ी  हर्षत  माता मंदिर के पास बनी हुई है ?✔

Q-13.. राजस्थान में स्थित किस बावड़ी को एशिया की सर्वश्रेष्ठ बावड़ियों में गिना जाता है??
A- हाड़ी रानी की बावड़ी टोंक
B- चांद बावड़ी दौसा
C- पन्ना मीणा बावड़ी
D- रानी जी की बावड़ी बूंदी

D-रानी जी की बावड़ी-बूंदी( बूंदी जिले में स्थित रानीजी की बावड़ी की गणना एशिया की सर्वश्रेष्ठ बावरियों में की जाती है इस में लगे सर्पाकार तोरणों की कलात्मक पच्चीकारी अत्यंत  आकर्षक है बावड़ी की दीवारों में विष्णु के अवतार मत्स्य, कच्छप,वराह, नरसिंह ,वामन इंद्र, सूर्य ,शिव- पार्वती और गजलक्ष्मी आदि देवी देवताओं की मूर्तियां लगी हैं इस बावड़ी का निर्माण राव राजा अनिरुद्ध सिंह की रानी राजमाता नाथावती ने 1699 में अपने पुत्र बुध सिंह के शासन काल में करवाया था यह मुगल और राजपूत स्थापत्य कला का मिश्रण है यह कलात्मक बावड़ी उत्तर मध्य युग की अनुपम देन है इस बावड़ी की गहराई 46 मीटर और इसमें लगभग 100 से अधिक सीढ़ियां हैं )?✔

Q-14.. धराड़ी है??
A- वृक्षमित्र परंपरा वृक्ष संरक्षण हेतु
B- खाद्यान्नों के संग्रहण की व्यवस्था
C- गोबर के कंडो की संग्रहण व्यवस्था
D- सरकंडों के संग्रहण की व्यवस्था

C-गोबर के कंडो की संग्रहण व्यवस्था(गांव में गोबर के कंडो की संग्रहण व्यवस्था को धराड़ी कहते हैं,  गांव में कारवां और काफिले को लूटने वाले धांवडिया कहलाते हैं गांव में अखाड़े से शरीर की सुदृढ़ता हेतु मलखम क्रियाकलाप की जाती है) ?✔

Q-15.. कर्नल जेम्स टॉड ने राजस्थान का दूसरा ताजमहल किसे कहा है??
A- जसवंत थड़ा जोधपुर
B- रायमतोर का थड़ा
C- खेतड़ी महल
D- अमली मीणी का महल
D- अमली मीणी का महल(अमली मीणी का महल  दरा अभ्यारण  अथार्थ मुकुंदरा हिल्स कोटा में स्थित है  यह दिल्ली मुंबई रेल लाइन  के पास  अवस्थित है  इसका निर्माण  राव मुकंद सिंह हाड़ा द्वारा करवाया गया था अमली मीणी  कोटा के महाराव मुकंद सिंह की पासवान थी  कर्नल जेम्स टॉड ने इसे राजस्थान का दूसरा ताजमहल का राजस्थान का पहला ताजमहल  जसवंत थड़ा जोधपुर  और शेखावाटी का ताजमहल खेतड़ी महल है )?✔

Q-16.. राजस्थान के किस संत का मूल नाम प्रताप सिंह था??
A- संत धन्ना जी
B- संत पीपाजी
C- संत जांभोजी
D- संत रामदास जी
B-संत पीपाजी(इनका जन्म गागरोन दुर्ग झालावाड में हुआ संत पीपाजी की गुफा टोंक जिले के टोडारायसिंह गांव में स्थित है इनके मंदिर बाड़मेर जिले के समदड़ी गांव में  और इनकी छतरी गागरोन दुर्ग झालावाड में स्थित है संत पीपाजी दरजी समुदाय के लोक देवता हैं )?✔

Q-17.. बंधेज के पांच रंगों से रंगे गए साफे को कहते हैं??
A-बावरा
B-मोठरा
C-राजशाही
D-पगड़ी
A-बावरा(राजस्थान में जोधपुर का साफा प्रसिद्ध है,बन्धेज के 5 रंगों से रंगे साफे को बावरा कहते हैं  दो बार रंग कर बंधेज किया हुआ साफा मोठरा कहलाता है केवल एक रंग से तैयार साफा जिसमें सफेद बूंदे होती है उसे राजशाही साफा कहते हैं )?✔

Q-18.. राजस्थान में  शीशा की बारिक कारीगरी के लिए प्रसिद्ध  महल है??
A- बादल महल
B- अजित महल
C-जूना महल
D-झँवरा-भँवरा महल
C-जूना महल(जूना महल का निर्माण डूंगरपुर के शासक महारावल वीर सिंह द्वारा करवाया गया,जीर्णोद्वार जवाहर सिंह द्वारा करवाया गया  यह महल शीशे की बारिक कारीगरी  और भित्ति चित्रों के लिए प्रसिद्ध है )?✔

Q-19.. देश का प्रथम हेरिटेज होटल राजस्थान में किस स्थान पर स्थित है??
A- सांभर लेक जयपुर
B- डीग भरतपुर
C- अजीत भवन जोधपुर
D- जग निवास उदयपुर
C-अजीत भवन जोधपुर(अजित भवन को अजित महल कहते हैं  अजीतमल का निर्माण जोधपुर के शासक महाराज अजित सिह द्वारा करवाया गया यह राज्य का ही नहीं बल्कि देश का भी प्रथम हेरिटेज होटल होने का गौरव प्राप्त है भारत सरकार ने 1991 में हेरिटेज होटल की एक नई श्रेणी बनाई थी जिसमें राजस्थान के 31 होटल संबंधित है )?✔

Q-20..पटेल्या,बीछीयो,और लालर क्या है ??
A- राजस्थानी आभूषण
B- राजस्थानी लोकगीत
C- राजस्थानी लोकनाट्य
D- राजस्थानी लोक वाद्य


B-राजस्थानी लोक गीत?✔

Q-21.. हाथ का हूजूर और जागती जोत राजस्थान के किस महान संत को कहा जाता है??
A- मल्लिनाथ जी
B- कपिल मुनि
C- हड़बूजी
D-लालदास जी
A- मल्लिनाथ जी( मल्ली  नाथ जी का मंदिर बाड़मेर में स्थित है,मल्लिनाथ जी मूलतः तिलवाड़ा से हैं इन्ही के नाम पर बाड़मेर का नाम मालाणी   क्षेत्र पड़ा) ?✔

Q-22.. नाथ संप्रदाय के केंद्रीय मठ की स्थापना किस स्थान पर हुई थी??
A- जोधपुर
B- बाड़मेर
C- नागौर
D- जैसलमेर
A- जोधपुर(नाथ संप्रदाय के केंद्रीय मठ की स्थापना जोधपुर के महाराजा मानसिंह द्वारा महामंदिर जोधपुर में की गई थी यह गुरु  आयसनाथ के शिष्य थे नाथ संप्रदाय के प्रवर्तक नाथ मुनि थे )?✔

Q-23.. नृत्य की कत्थक शैली का आदिम घराना है??
A- लखनऊ
B- बनारस
C- जयपुर
D- अलवर
C-जयपुर(कत्थक नृत्य राजस्थान का शास्त्रीय नृत्य है इस नृत्य का उद्गम राजस्थान के जयपुर शहर से हुआ है इसी कारण जयपुर घराने को इस नृत्य  का आदिम/पुराना घराना कहा जाता है इस नृत्य के प्रवर्तक भानु जी महाराज थे इसी नृत्य का दूसरा नवीन  घराना लखनऊ है मांगलिक अवसर पर इस नृत्य को करने की परंपरा होने के कारण इसे मंगल मुखी नृत्य भी कहा जाता है )?✔

Q-24.. धन्वंतरि किसके दरबार में राजवैध था??
A- चंद्रगुप्त विक्रमादित्य
B- चंद्रगुप्त मौर्य
C- हर्ष
D- समुंद्र गुप्त
A-चंद्रगुप्त विक्रमादित्य?✔

Q-25.. किस अभिलेख से ज्ञात होता है कि स्कन्दगुप्त ने हूणों को पराजित किया था??
A- भीतरी स्तंभ लेख
B- इलाहाबाद स्तंभ लेख
C- मंदसौर अभिलेख
D- उदयगिरि अभिलेख
A- भीतरी स्तंभ लेख(भीतरी अभिलेख से ज्ञात होता है कि स्कंद गुप्त को  हूणो (म्लेच्छो) के आक्रमण का सामना करना पड़ा जिसमें वह सफल हुआ )?✔

Q-26.. वल्लभी विश्वविद्यालय स्थित था??
A- बिहार में
B- बंगाल में
C- उत्तर प्रदेश में
D- गुजरात में
D- गुजरात में(वल्लभी विश्वविद्यालय गुजरात में भावनगर के पास स्थित था यह जैन धर्म का प्रमुख केंद्र था साथ में यह बौद्ध धर्म का भी केंद्र था )?✔

Q-27.. “परम भागवत” उपाधि धारण करने वाला प्रथम गुप्त शासक था??
A- चंद्रगुप्त प्रथम
B- समुद्रगुप्त
C- चंद्रगुप्त द्वितीय
D- रामगुप्त
C- चंद्रगुप्त द्वितीय(चंद्रगुप्त द्वितीय के शासनकाल को ब्राह्मण धर्म के चरमोत्कर्ष का काल कहा जाता है इसने स्वयं परम भागवत की उपाधि धारण की थी भारतीय अनुश्रुतियों में उसे शकारी भी कहा  गया  है )?✔

Q-28..पञ्चसिद्धांतिका  के लेखक हैं??
A- आर्यभट्ट
B-  वराह मिहिर
C- नागार्जुन
D- ब्रह्मगुप्त
B- वराह मिहिर(महावीर का जन्म उज्जैन के पास कविता गांव में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था वराह मिहिर ने राजा विक्रमादित्य के पुत्र की मृत्यु 18 वर्ष की आयु में होगी यह भविष्यवाणी की थी मिहीर की भविष्यवाणी के अनुसार सावधानी रखने के बावजूद राजा के पुत्र की मृत्यु उसी दिन हुए राजा ने मिलने से प्रभावित होकर मगध का सर्वोच्च सम्मान वराह प्रदान किया और उसी दिन से अमीर वराह मिहिर के नाम से जानने लगे  भविष्य शास्त्र और खगोल विद्या में उनके द्वारा किए गए योगदान के कारण राजा विक्रमादित्य द्वितीय  ने वराह मिहीर को अपने दरबार के नवरत्नों में स्थान दिया)?✔

Q-29.. पल्लवों ने किस नगर से शासन संचालित किया??
A- कांचीपुरम
B- पटना
C- दिल्ली
D- छतरपुर
A- कांचीपुरम(पल्लव वंश की राजधानी कांची या कांचीपुरम थी इस वंश का संस्थापक सिंह विष्णु था अंतिम शासक अपराजित था)?✔

Q-30.. दक्षिण भारत में प्रसिद्ध जैन केंद्र यहां स्थित है??
A- पटना
B- श्रवणबेलगोला
C- कांची
D- छतरपुर
B-श्रवणबेलगोला(श्रवणबेलगोला कर्नाटक के हासन जिला में स्थित एक शहर है बाहुबली प्रथम तीर्थकर विशवनाथ के पुत्र माने जाते हैं कर्नाटक राज्य के श्रवणबेलगोला शहर के निकट चंद्र गिरी पहाड़ी की चोटी पर स्थित गोतमेश्वर( जिसे श्रवणबेलगोला भी कहा जाता है) की एक ही पत्थर से निर्मित विशालकाय मूर्ति है जिसे जैन संत बाहुबली के नाम से भी जाना जाता है यह पूरे विश्व में एक पत्थर से निर्मित सबसे विशालकाय मूर्ति है )?✔

Q-31.. किस वंश के शासकों ने ब्राह्मणों और बौद्ध भिक्षुओं को कर मुक्त ग्राम देने की प्रथा प्रारंभ की थी??
A- चौहान
B- कच्छावा
C- सिसोदिया
D- सातवाहन
D-सातवाहन(सातवाहन शासकों ने ब्राह्मण और बौद्ध भिक्षुओं को भूमि दान में देने की प्रथा प्रारंभ की यह भूमि सभी प्रकार के करो से मुक्त होती थी कालांतर में इंहीं अनुदानों ने सामंतवाद के विकास में योगदान दिया जिससे केंद्रीय नियंत्रण शिथिल  हो गया ?✔

Q-32.. किसके शासनकाल के दौरान प्रसिद्ध अजंता गुफाओं में उपकरण का काम सबसे पहले शुरू किया गया था??
A- राजपूत वंश
B- जाट वंश
C- सातवाहन वंश
D- गुर्जर प्रतिहार वंश
C- सातवाहन वंश(अजंता की गुफाओं में उत्कीर्ण का काम सर्वप्रथम सातवाहन काल में शुरू किया गया था अजंता में निर्मित कुल 29 गुफाओं में से वर्तमान में केवल छह ही शेष है जिसमें गुफा संख्या 16 और 17 के चित्र का संबंध गुप्त काल से है इसमें गुफा संख्या 16 में उत्पन्न मरणासन्न राजकुमारी का चित्र प्रशसनीय अजंता की गुफाएं बौद्ध धर्म की महायान शाखा से संबंधित है )?✔

Q-33.. अजंता की कला को इनमें से किसने सहायता दी थी??
A- चालुक्य
B- पल्लव
C- वकटक
D- गंगा
C-वकटक(अजंता की कला को वाकाटक वंश के प्रश्रय  दिया अजंता की गुफाएं बौद्ध धर्म की महायान शाखा से संबंधित है अजंता में निर्मित कुल 29 गुफाओं में से केवल छह ही गुफाएं बची हुई है )?✔

Q-34.. कौन सी  लौकिक  रचना राम का सिलोन पर आक्रमण का वर्णन करता है??
A- गदा युद्ध
B- शपतशतक
C- सेतुबन्दु
D-कर्पूर मंजरी
C-सेतुबन्दु(महाराष्ट्री प्राकृत में लिखित सेतुबंध (सेतु का निर्माण )या रावण वध की रचना का श्रेय प्रवरसेन द्वितीय को है इसमें राम की लंका पर चढ़ाई का वर्णन है इसमें मुख्य राम और सुग्रीव की मित्रता का वर्णन किया गया है ✔

Q-35.. भारत में प्राचीन शिक्षण केंद्र जहां प्रवेश परीक्षा का प्रावधान था??
A- नालंदा
B- कुरुक्षेत्र
C-तोशाली
D- प्रयाग
A-नालंदा(गुप्तकालीन सम्राट कुमारगुप्त प्रथम ने 415-454 में नालंदा विश्वविद्यालय की स्थापना की थी नालंदा संस्कृत शब्द नालम्+दा से बना है संस्कृत मे “नालम” का अर्थ कमल होता है कमल ज्ञान का प्रतीक है नालम्+दा यानी कमल देने वाली ,ज्ञान देने वाली! काल क्रम से यहां महाविहार की स्थापना के बाद इसका नाम नालंदा महाविहार रखा गया उपलब्धियों से पता चलता है कि यहां अध्ययन से पूर्व द्वारपाली  द्वारा प्रवेश परीक्षा ली जाती थी ?✔​

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.